scorecardresearch
 

विशेषांक

अमरिंदर सिंह, 78 वर्ष मुख्यमंत्री, पंजाब

ऊंचे और असरदारः बेमिसाल क्षत्रप

24 अक्टूबर 2020

वे दो बार मुख्यमंत्री बने और राज्य में कांग्रेस का किला मजबूत बनाए रखा है. इसमें उन्हें पार्टी आलाकमान से ज्यादा मदद की जरूरत नहीं पड़ती. उन्होंने पहले ही पंथ के एजेंडा—सिख धर्म और खेती-बाड़ी—को शिरोमणि अकाली दल (एसएडी) के हाथ से छीन लिया

रघु शर्मा, 62 वर्ष स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा और सूचना तथा जनसंपर्क मंत्री

ऊंचे और असरदारः कोरोना के मोर्चे पर

24 अक्टूबर 2020

उन्होंने 17-17 घंटे काम करते हुए तमाम दबावों के बावजूद अपनी आक्रामकता को तिलांजलि दे दी. उन्होंने कोरोना पर विशेष सत्र के दौरान विपक्ष के हमले को शांतचित्त रहकर संभाला

वसुंधरा राजे, 67 वर्ष पूर्व मुख्यमंत्री, राजस्थान

ऊंचे और असरदारः ताकत बरकरार

24 अक्टूबर 2020

सचिन पायलट के जरिए गहलोत सरकार के तख्तापलट की भाजपा की कोशिशों में उन्होंने पलीता लगा दिया. दरअसल, यह काम बिना उन्हें विश्वास में लिए किया जा रहा था

जयराम ठाकुर, 55 वर्ष मुख्यमंत्री, हिमाचल प्रदेश

ऊंचे और असरदारः सबका साथ

24 अक्टूबर 2020

प्रदेश में कोविड-19 की गंभीर स्थिति के बावजूद कई राहतें अपने स्तर पर उन्होंने देने का प्रयास किया. लॉकडाउन में देशभर की मंडियों में फल और सब्जियों को जैसे-तैसे पहुंचाया

त्रिवेंद्र सिंह रावत, 59 वर्ष मुख्यमंत्री, उत्तराखंड

ऊंचे और असरदारः दबाव से परे

24 अक्टूबर 2020

प्रधानमंत्री मोदी ने हाल में ही उनके कामों की तारीफ की. प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्री और उनकी टीम के प्रशासनिक कौशल की सराहना उस वक्त की जब पार्टी के कुछ लोगों में विरोध की सुगबुगाहट दिखी थी

मनोहर लाल खट्टर, 66 वर्ष मुख्यमंत्री, हरियाणा

ऊंचे और असरदारः सबके मनोहर

24 अक्टूबर 2020

स्वभाव से नर्म और मृदुभाषी इस नेता को पिछले एक साल में जेजेपी के साथ सरकार में कोई परेशानी नहीं आई. गठबंधन का एजेंडा भी आसानी से तय हो गया

अखि‍लेश यादव, 47 वर्ष राष्ट्रीय अध्यक्ष, समाजवादी पार्टी

ऊंचे और असरदारः पलटवार की तैयारी

23 अक्टूबर 2020

लॉकडाउन के समय दूसरे प्रदेशों से यूपी आ रहे प्रवासी मजदूरों की दुर्घटना या अन्य वजहों से मृत्यु होने पर इन्होंने पार्टी की तरफ से उनके परिजनों को सहायता पहुंचाई

अभिजीत बनर्जी, 59 वर्ष प्रोफेसर, मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी

ऊंचे और असरदारः नेक मंशा

23 अक्टूबर 2020

हम विदेशों में बसे भारतीयों की कामयाबियों को अपना मानकर गर्व करते आए हैं, पर इस साल जब कोरोना वायरस ने सरहदों को बेमानी बना दिया, ये प्रवासी भारतीय ही थे जिन्होंने हमें खुशियां मनाने की सबसे ज्यादा वजहें दीं

सौम्या स्वामीनाथन, 61 वर्ष मुख्य वैज्ञानिक, विश्व स्वास्थ्य संगठन

ऊंचे और असरदारः कोविड का उनसे बड़ा नहीं कोई योद्धा

23 अक्टूबर 2020

उन्होंने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) के आधुनिकीकरण में सहायता की है और वैश्विक रूप से इस संगठन की भूमिका को ज्यादा प्रभावी बनाया है

रघुराम राजन, 48 वर्ष मुख्य अर्थशास्त्री, अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष

ऊंचे और असरदारः विवेक का स्वर

23 अक्टूबर 2020

वे सच को कभी छुपाते नहीं. अप्रैल में जब भारत ने कोविड से जूझना शुरू किया था तो राजन ने लिखा था, ''आर्थिक रूप से देखें तो कह सकते हैं कि आजादी के बाद भारत को सबसे बड़े आपातकाल का सामना करना पड़ रहा है''

प्रीति पटेल, 48 वर्ष गृह मंत्री, ब्रिटेन

ऊंचे और असरदारः दृढ़ता की मिसाल

23 अक्टूबर 2020

वे पीएम बोरिस जॉनसन की विश्वासपात्र हैं. जब उन पर अपने सहकर्मियों को परेशान करने का आरोप लगा था तो उनकी तरफदारी करने वालों में वे सबसे आगे थे