scorecardresearch
 

विशेषांक

नदी-सफाई टीम का एक सदस्य नदी का पानी पीते हुए

जल विशेषांकः बदलाव की बयार 

30 मार्च 2021

कानपुर के विभिन्न नालों, खासकर सबसे बड़े सीसामऊ नाला, की टैपिंग करने के बाद गंगा के प्रदूषण में इस शहर के योगदान में उल्लेखनीय कमी आई है.

मोर्चे पर  बेऊर स्थित सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के प्रभारी कुमार सौरभ

जल विशेषांकः नदी का पुनरूद्धार

30 मार्च 2021

राज्य अपने सीवरेज नेटवर्क सिस्टम को चाक-चौबंद कर रहा है ताकि उसके शहरों से गंगा में जाने वाला अपशिष्ट जल गंदगी से मुक्त हो.

मौन प्रार्थना नरेंद्र मोदी मई 2014 में वाराणसी से अपना नामांकन पर्चा दाखिल करने के पहले गंगा की शरण में

जल विशेषांकः पवित्र गंगा की अवरुद्घ जल धारा

28 मार्च 2021

गंगा की सफाई की कोशिशें पहले भी कई बार हुई हैं. लेकिन कभी भी इस तरह मिशन का स्वरूप उसे नहीं मिला, और अब प्रधानमंत्री खुद इसकी निगरानी कर रहे हैं.

नई उम्मीद पापाग्नि नदी पर बने पुल पर चिरुतानी प्रताप

जल विशेषांकः बढ़ गया जलस्तर

28 मार्च 2021

सूखाग्रस्त वाइएसआर कडपा जिले में नई तरह के बांध से जल स्तर बढ़ा और सतत सिंचाई में मदद मिली.

जीवन पर संकट फजिल्का जिले में घरेलू इस्तेमाल के लिए हैंडपंप से पानी निकालती महिलाएं

जल विशेषांकः काला  पानी

28 मार्च 2021

पानी पर अत्यधिक आश्रित रहने वाली फसलों और उर्वरकों के भारी इस्तेमाल ने मिलकर पंजाब के जल संकट को बढ़ाया 

हरेक विजेता बुल्ढाणा जिले के मल्कापुर में खेत में तालाब की खुदाई

जल विशेषांकः हासिल हुई साझी संपन्नता

28 मार्च 2021

एक डीसिल्टिंग स्कीम के जरिए भूजलस्तर में सुधार लाया गया. इसके साथ ही रबी की बुवाई और टिकाऊ खेती में सुधार हुआ है. डीसिल्टिंग स्कीम वह होती है जिसके तहत कोई भी राज्य गाद पर अपनी रॉयल्टी माफ कर देता है और स्थानीय जल निकायों से गाद को हटाने में गैर-सरकारी संगठनों का समर्थन करता है.

किल्लत नहीं देवास का किसान अपने तालाब से खेत की सिंचाई करता हुआ

जल विशेषांकः माटी में था समाधान

28 मार्च 2021

देवास के खेतिहर तालाब जल संकट से निबटने के मामले में यहां की सबसे बड़ी ताकत बन गए

हरियाली के वकील उसुमा में चल रही पानी पंचायत के सदस्यों की एक बैठक

जल विशेषांकः पानी को मिला रास्ता

27 मार्च 2021

ओडिशा में पानी पंचायतों ने इस कीमती संसाधन के बराबर बंटवारे का पुख्ता इंतजाम किया और उपज बढ़ाई, सबसे अहम यह कि पानी के बंटवारे को लेकर होने वाले झगड़े कम हो गए.

सीधी धार जल उपभोक्ता समिति के सदस्य रोहिणी डैम पर सिंचाई विभाग के अधिकारियों के साथ

जल विशेषांकः धारा के साथ बढ़े आगे

27 मार्च 2021

किसानों और जल उपभोक्ताओं की निर्वाचित समिति ने सहभागिता वाले एक प्रोजेक्ट के तहत पक्का किया कि बुंदेलखंड के आखिरी खेतों को पानी मिले

एक-एक बूंद  गुजरात के गांधीनगर जिले के खोराज गांव में भीखाभाई मोरे अपना माइक्रो सिंचाई नेटवर्क दिखाते हुए

जल विशेषांकः बूंद-बूंद बहुमूल्य

25 मार्च 2021

भारत में दूर-दराज के कम बारिश के इलाकों से ज्यादा कौन समझेगा इसकी कीमत! अब यहां के किसानों को भी एहसास हो गया है कि टेक्नोलॉजी, अपना समुदाय और संसाधनों में साझेदारी ही उनकी बेहतरी का मंत्र

जल योद्धा जखनी गांव में उमाशंकर पांडेय (सबसे आगे) गांववालों के साथ

जल विशेषांकः मेड़ और पेड़ का कमाल

25 मार्च 2021

पानी की भारी किल्लत झेल रहे बुंदेलखंड के एक गांव ने पानी बचाने के लिए खेतों में अपने खर्चे पर जलबंध बनाए और सूखाग्रस्त गांव के अभिशाप से निकलकर पानी से भरपूर गांव बन गया, जहां साल में कई फसलें उगती हैं.