scorecardresearch
 

रिलायंस Jio प्लेटफॉर्म्स में एक और निवेश! जल्द ही माइक्रोसॉफ्ट से मिल सकती है मोटी रकम

रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स ने 5 अमेरिकी कंपनियों से करीब 78,562 करोड़ रुपये के निवेश सौदे किए हैं. अब दिग्गज अमेरिकी टेक कंपनी माइक्रोसॉफ्ट भी इसमें मोटा निवेश करने जा रही है. सत्य नडेला के नेतृत्व वाली माइक्रोसॉफ्ट रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स में 2.5 फीसदी हिस्सेदारी ले सकती है.

जियो में माइक्रोसॉफ्ट के निवेश की चर्चा जियो में माइक्रोसॉफ्ट के निवेश की चर्चा

  • रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स ने US की 5 कंपनियों से किया है निवेश सौदा
  • अब टेक कंपनी माइक्रोसॉफ्ट भी इसमें निवेश की तैयारी कर रही है
  • रिलायंस ने लॉकडाउन के बीच 78,562 करोड़ रुपये की डील की है

लॉकडाउन जहां दुनिया की अर्थव्यवस्था के लिए भारी पड़ रहा है, वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज के लिए यह काफी लकी साबित हो रहा है. रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स ने 5 अमेरिकी कंपनियों से करीब 78,562 करोड़ रुपये के निवेश सौदे किए हैं. अब दिग्गज अमेरिकी टेक कंपनी माइक्रोसॉफ्ट भी इसमें मोटा निवेश करने जा रही है.

दोनों कंपनियों का प्रबंधन इस बारे में बात कर रहा है. बिजनेस टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार, बिजनेस अखबार मिंट ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि सत्य नडेला के नेतृत्व वाली माइक्रोसॉफ्ट रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स में 2.5 फीसदी हिस्सेदारी ले सकती है.

इसे भी पढ़ें: कोरोना-लॉकडाउन से हर सेक्टर को झटका, इकोनॉमी को पटरी पर लाने के लिए दिग्गजों ने बताया रास्ता

पांच कंपनियां कर चुकी हैं निवेश

पिछले एक महीने में रिलायंस के जियो प्लेटफॉर्म्स (Jio Platforms) में 5 अमेरिकी कंपनियों ने कुल 78,562 करोड़ रुपये का निवेश किया है. इनमें​ फेसबुक, केकेआर ऐंड कंपनी, सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी पार्टनर्स और जनरल अटलांटिक शामिल हैं.

रिपोर्ट के अनुसार माइक्रोसॉफ्ट के साथ रिलायंस की बातचीत अभी शुरुआती दौर में है और अगले कुछ दिनों में ही अंतिम डील का खुलासा हो जाएगा. गौरतलब है कि सत्य नडेला ने इस साल फरवरी में यह खुलासा किया था कि माइक्रोसॉफ्ट भारत में बड़े स्तर पर कारोबार करना चाहती है. उन्होंने बताया था कि कंपनी पूरे देश में डेटा सेंटर खोलना चाहती है ताकि उसके एज्योर क्लाउड सर्विस का फायदा उठाया जा सके.

इसे भी पढ़ें:...तो उत्तर प्रदेश में बसेंगे मिनी जापान और मिनी साउथ कोरिया!

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने भी अभी इस खबर पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. लॉकडाउन के बीच भी रिलायंस इंडस्ट्रीज की किस्मत में लगातार चांदी ही दिख रही है. रिलायंस समूह की कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स में लगातार कई अमेरिकी कंपनियां भारी निवेश कर रही हैं. हाल में अमेरिका के इक्विटी फर्म KKR के द्वारा भी जियो प्लेटफॉर्म्स में 1.5 अरब डॉलर (करीब 11,367 करोड़ रुपये) के निवेश का ऐलान किया गया है. केकेआर इस निवेश से जियो प्लेटफॉर्म्स में 2.32 फीसदी की हिस्सेदारी खरीदेगी.

इन कंपनियों ने किया है निवेश

इसके पहले एक महीने के भीतर ही रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स में फेसबुक इंक, जनरल अटलांटिक, सिल्वर लेक और विस्टा इक्विटी पार्टनर्स के द्वारा निवेश का ऐलान किया जा चुका है. दुनिया में जब दूसरी कंपनियां अपना अस्तित्व बचाने के लिए जूझ रही हैं, अंबानी ने लॉकडाउन के बीच कुछ ही हफ्तों के भीतर फेसबुक, जनरल अटलांटिक, सिल्वर लेक, केकेआर और विस्टा इक्विटी जैसी पांच कंपनियों ने रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स में कुल 78,562 करोड़ रुपये के निवेश का सौदा किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें