एजुकेशन

UPSC के रिजल्ट से इतना खुश क्यों हैं दिल्ली पुलिस कमिश्नर, जानिए वजह

  • 1/9

दिल्ली पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव इस बार UPSC CSE के रिजल्ट से काफी खुश हैं. उन्होंने आजतक से खास बातचीत में कहा कि अपने 35 साल के करियर में एक साथ दिल्ली पुलिस से जुड़े 6 लोगों को UPSC एग्जाम क्रैक करते पहली बार देखा. उन्होंने इन सभी उम्मीदवारों को बुलाकर बधाई दी. जानिए- कौन हैं यूपीएससी क्लीयर करने वाले वो उम्मीदवार जो दिल्ली पुलिस से जुड़े हैं.
फोटो: यूपीएससी के सफल अभ्यर्थि‍यों से मिले दिल्ली पुलिस कमिश्नर, दी बधाई.

  • 2/9

कॉन्स्टेबल से क्लास वन अफसर बनेगा फिरोज
पुलिस कमिश्नर ने कहा कि मुझे इस बात का बेहद फख्र है कि दिल्ली पुलिस में कॉन्स्टेबल फिरोज आलम अब क्लास वन ऑफिसर बनने जा रहे हैं. दिल्ली पुलिस की PCR यूनिट में तैनात फिरोज आलम उत्तर प्रदेश का हापुड़ जिले के रहने वाले हैं
फोटो: फिरोज आलम

  • 3/9

फिरोज के अलावा दिल्ली पुलिस के ASI की बेटी विशाखा यादव ने 6th रैंक पाकर दिल्ली पुलिस का मान बढ़ाया. इसके अलावा दिल्ली पुलिस में ही इंस्पेक्टर की बेटी नवनीत मान ने 33वीं रैंक प्राप्त की.
फोटो: विशाखा यादव

  • 4/9

विशाखा यादव के अलावा दिल्ली पुलिस में एसीपी के पद पर तैनात नीतिशा माथुर ने 37वीं रैंक और एक और एसीपी गरिमा ने 459वीं रैंक हासिल की है. वहीं दिल्ली पुलिस में एडिशनल एसएचओ के बेटे ने UPSC में 475वीं रैंक हासिल की. इन सभी ने दिल्ली पुलिस का ही नहीं पूरे देश का मान बढ़ाया है.
फोटो: विशाखा यादव

  • 5/9

फिरोज और विशाखा से दिल्ली पुलिस कमिश्नर एस एन श्रीवास्तव ने मुलाकात की और बधाई दी. कमिश्नर ने कहा कि मुझे आप पर गर्व है. फिरोज को लेकर कमिश्नर ने कहा कि उम्मीद है बाकी स्टाफ आप से प्रेरित होगा और मेहनत करेगा, कमिश्नर ने फिरोज को स्मृति चिन्ह भी दिया.
फोटो: विशाखा यादव

  • 6/9

दरअसल दिल्ली पुलिस के सबसे ज्यादा बिजी रहने वाली यूनिट में तैनात फिरोज आलम ने UPSC एग्जाम में सफलता हासिल की है.फिरोज ने ऑल इंडिया लेवल पर 645वीं रैंक हासिल की. फिरोज ने आज तक/इंडिया टुडे से बातचीत में कहा कि ये मेरा 6th यानी आखिरी अटेम्प्ट था और मैं पास हुआ इसलिए ज्यादा खुशी है.
फोटो: फिरोज आलम

  • 7/9

ड्यूटी के साथ साथ की पढ़ाई
फिरोज ने ड्यूटी के साथ तैयारी के लिए अपना टाइम मैनेज किया. उन्होंने कहा कि मैं इसका पूरा क्रेडिट अपने परिवार, साथ पुलिसकर्मियों को और दिल्ली पुलिस के अपने सीनियर अफसरों को देता हूं. जिन्होंने हर वक्त मेरा साथ दिया. साथ ही साथ अपने गुरुजनों को धन्यवाद देता हूं, सिर्फ उनके मार्गदर्शन से ही ये सफलता मिली है.
(प्रतीकात्मक फोटो)

  • 8/9

फिरोज ने बताया कि मेरा सब्जेक्ट हिंदी ऑनर्स था. मेरा विश्वास है कि मेहनत से सब कुछ मुमकिन है. एक के बाद एक मैंने कई अटेम्प्ट किये थे. UPSC एग्जाम के लिए लेकिन असफलता मिलने पर ह्यूमन टेंडेंसी है कि निराशा होती है लेकिन मैंने हिम्मत नहीं हारी और आख़िरकार आखिरी मौके में मुझे सफलता मिल ही गई.
फोटो: पुलिस कमिश्नर के साथ फिरोज आलम

  • 9/9

इस साल 829 उम्मीदवारों ने सफलता हासिल की है. जिसमें प्रदीप सिंह ने यूपीएससी सिविल सेवा (मेन्स) परीक्षा 2019 में टॉप किया है. दूसरे स्थान पर जतिन किशोर और तीसरे स्थान पर प्रतिभा वर्मा रहीं. वहीं फिरोज आलम भी किसी टॉपर से कम नहीं हैं जिन्होंने पुलिस की ड्यूटी निभाते हुए बिना हार माने आखिरी अटेंप्ट में सफलता हासिल की.
फोटो: फिरोज आलम

लेटेस्ट फोटो