scorecardresearch
 

कोरोना वैक्सीन पर लगेगी 5% GST, निजी अस्पतालों के लिए रेट तय, सबसे महंगी कोवैक्सीन

वहीं स्पूतनिक-V का दाम प्राईवेट अस्पतालों के लिए 1145 प्रति डोज़ होगा. सरकार वैक्सीन पर भी GST ले रही है. हर एक वैक्सीन के लिए 5℅ GST लिया जाएगा. इसके साथ ही सारी वैक्सीन पर 150 रुपये प्रति डोज़ सर्विस चार्ज लिया जाएगा.

सरकार ने तय किए वैक्सीन के दाम (सांकेतिक फोटो) सरकार ने तय किए वैक्सीन के दाम (सांकेतिक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना वैक्सीन के दाम तय
  • कोवैक्सीन होगी सबसे महंगी
  • वैक्सीन पर जीएसटी और सर्विस चार्ज

स्वास्थय मंत्रालय ने प्राइवेट अस्पतालों के लिए कोरोना वैक्सीन के दाम तय कर दिए हैं. इसके मुताबिक कोविशील्ड का दाम 780 रुपये प्रति डोज़ होगा, जबकि कोवैक्सीन का दाम 1410 रुपये प्रति डोज़ होगा. वहीं स्पूतनिक-V का दाम प्राईवेट अस्पतालों के लिए 1145 प्रति डोज़ होगा. सरकार वैक्सीन पर भी GST ले रही है. हर एक वैक्सीन के लिए 5℅ GST लिया जाएगा. इसके साथ ही सारी वैक्सीन पर 150 रुपये प्रति डोज़ सर्विस चार्ज लिया जाएगा.

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऐलान के बाद 21 जून से राज्यों को मुफ्त वैक्सीन मिलने लगेगी. केंद्र सरकार वैक्सीन की आपूर्ति बढ़ाने के लिए मंगलवार से एक्शन मोड में आ गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा है कि 74 करोड़ वैक्सीन का ऑर्डर जारी कर दिया गया है. इसमें 25 करोड़ कोविशील्ड और 19 करोड़ डोज़ कोवैक्सीन की शामिल है. इसके अलावा सरकार ने ई -बायोलॉजिकल लिमिटेड के टीके की 30 करोड़ खुराक खरीदने का भी आदेश दिया है, जो सितंबर तक उपलब्ध होगी. सरकार ने इन कंपनियों को ऑर्डर की 30 फीसदी रकम एडवांस में ही जारी कर दी है.

वहीं वैक्सीनेशन को लेकर नई गाइडलाइंस पर वीके पॉल ने कहा कि नई गाइडलाइन में 75% वैक्सीन केंद्र प्रोक्योर करेगी. राज्यों को फ्री में वैक्सीन दी जाएगी. राज्यों को आबादी, संक्रमण की स्थिति और उस राज्य में वैक्सीनशन किस रफ्तार से हो रही है और वैक्सीन की बर्बादी कम हो तो उस राज्य को ज्यादा वैक्सीन की डोज दी जाएगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को घोषणा की थी कि योग दिवस यानी 21 जून से राज्यों को मुफ्त वैक्सीन दिया जाएगा.

और पढ़ें- राजस्थान: पाक विस्थापित परिवारों में खुशी की लहर, पासपोर्ट के आधार पर लग रहा टीका

बता दें, भारत में 63 दिन बाद 24 घंटे में कोविड-19 के एक लाख से कम नए मामले सामने आए और नमूनों के संक्रमित पाए जाने की दैनिक दर भी गिरकर 4.62 प्रतिशत हो गई है.

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में 66 दिन बाद 24 घंटे में सबसे कम 86,498 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2,89,96,473 हो गई है. इससे पहले दो अप्रैल को 24 घंटे में 81,466 नए मामले सामने आए थे. वहीं, 2,123 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 3,51,309 हो गई. देश में 47 दिन बाद संक्रमण से मौत के इतने कम मामले सामने आए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें