scorecardresearch
 

Corona Vaccine: वैक्सीनेशन की लंबी लाइनें न बन जाएं कोरोना संक्रमण का नया कारण? शहर-शहर मारामारी

कोरोना से बचने के लिए लोग Corona Vaccine लगवाने के लिए टीकाकरण केंद्र पर पहुंच रहे हैं, लेकिन देश के अलग-अलग हिस्सों में Corona Vaccine की किल्लत होने के कारण यहां पर उमड़ रही भीड़ ही चिंता बढ़ाने का काम कर रही है. 

X
देश के अलग-अलग हिस्सों में वैक्सीनेशन सेंटर्स पर भीड़ (फोटो: PTI) देश के अलग-अलग हिस्सों में वैक्सीनेशन सेंटर्स पर भीड़ (फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • देश में जारी है वैक्सीनेशन का अभियान
  • टीकाकरण केंद्र पर उमड़ रही भीड़ चिंता का विषय
  • नोएडा, ग्वालियर समेत कई जगह हुई दिक्कतें

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर कुछ हद तक कमज़ोर पड़ी है. Corona Vaccination का अभियान भी जारी है, लेकिन लोगों की लापरवाही एक बार फिर Corona की तीसरी लहर को लेकर चिंता बढ़ा रही है. कोरोना से बचने के लिए लोग Corona Vaccine लगवाने के लिए टीकाकरण केंद्र पर पहुंच रहे हैं, लेकिन देश के अलग-अलग हिस्सों में वैक्सीन की किल्लत होने के कारण यहां पर उमड़ रही भीड़ ही चिंता बढ़ाने का काम कर रही है. 

उत्तर प्रदेश का नोएडा (Noida) हो या फिर मध्य प्रदेश का ग्वालियर (Gwalior), बड़ी संख्या में यहां पर लोग टीकाकरण केंद्र पहुंच रहे हैं. वैक्सीनेशन सेंटर (Vaccination Center) पर लोगों की भीड़ इतनी ज्यादा हो गई कि कोविड गाइडलाइन्स का उल्लंघन हुआ, ऐसे में सबसे बड़ी चिंता की बात यही है कि कहीं वैक्सीनेशन सेंटर्स पर उमड़ रही भीड़ ही बड़ी समस्या का कारण ना बन जाए.

क्लिक करें: आंकड़ों में कोरोना मुक्त होने की ओर दिल्ली, आज मिले मात्र 54 नए मरीज, लेकिन...

नोएडा में वैक्सीन कम, लोग ज्यादा

बीते दिन नोएडा के जिला अस्पताल का नज़ारा सामने आया, जहां लोग बड़ी संख्या में टीका लगवाने के लिए पहुंचे. सेक्टर 30 में जब लोगों की भीड़ जुटी तो सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing)  की जमकर धज्जियां उड़ीं. अस्पताल की CMS के मुताबिक, पिछले दो दिनों से उन्हें वैक्सीन की कम डोज़ मिल रही हैं, अभी सिर्फ 3000 डोज़ ही मिली हैं. ऐसे में अस्पताल की ओर से कोशिश की जा रही है कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें. 

ग्वालियर में भी हाल बेहाल...

मध्य प्रदेश के ग्वालियर का भी हाल कुछ अलग नहीं हैं. यहां जिले में एक दिन में करीब 20 हजार लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया, लेकिन अलग-अलग सेंटर्स पर लोगों की भीड़ उमड़ आई. ऐसे में लोगों को लंबे वक्त तक लाइनों में खड़ा होना पड़ रहा है. 

ग्वालियर के सिविल अस्पताल, थाटीपुर में इसी वजह से जमकर हंगामा होता रहा. धूप में लंबी-लंबी लाइन और वैक्सीन के रजिस्ट्रेशन कराने के लिए कम स्टॉल का होना यहां पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों के टूटने का मुख्य कारण रहा. 

हालात यहां तक पहुंच गए कि कुछ लोग गार्ड के साथ धक्का-मुक्की करते हुए नजर आए, तो वहीं दूसरी ओर रजिस्ट्रेशन कर रहे कर्मचारियों और लोगों के बीच विवाद की स्थिति भी बन बैठी. लोगों की शिकायत है कि गर्मी में इतना इंतज़ार करना पड़ रहा है, फिर भी यहां पर पानी या पंखे की व्यवस्था नहीं है. 

आपको बता दें कि देश में अबतक 35 करोड़ से अधिक वैक्सीन की डोज़ लग चुकी हैं. औसतन एक दिन में 40 से 50 लाख तक डोज़ लग पा रही हैं.  कई शहरों में अभी भी वैक्सीन की कमी हो रही है, ऐसे में लगातार दिक्कत आ रही है. बता दें कि अब वैक्सीनेशन का पूरा जिम्मा केंद्र सरकार के पास है, हालांकि 25 फीसदी वैक्सीन प्राइवेट अस्पतालों के पास भी है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें