scorecardresearch
 

थाईलैंड ओपन में खेलेंगी साइना नेहवाल, एचएस प्रणव का भी जारी रहेगा सफर

12 से 17 जनवरी के बीच योनेक्स थाईलैंड ओपन खेला जाएगा. इसके बाद 19 से 24 जनवरी के बीच टोयोटा थाईलैंड ओपन और 27 से 31 जनवरी के बीच बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स खेला जाएगा.

Saina Nehwal Saina Nehwal
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इससे पहले साइना को कोरोना होने की चर्चा थी
  • साइना बैडमिंटन टूर्नामेंट खेलने के लिए थाईलैंड में हैं
  • उन्हें अस्पताल में ही क्वारनटीन कर दिया गया था

थाईलैंड ओपन में साइना नेहवाल और एचएस प्रणव का सफर जारी रहेगा. बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (BWF) ने इसकी पुष्टि कर दी है. BWF के मुताबिक, साइना नेहवाल और उनके पति पी कश्यप सिंगलस मुकाबले में उतरेंगे. मंगलवार को उनके मुकाबले में वॉकओवर घोषित किया गया था.

12 से 17 जनवरी के बीच योनेक्स थाईलैंड ओपन खेला जाएगा. इसके बाद 19 से 24 जनवरी के बीच टोयोटा थाईलैंड ओपन और 27 से 31 जनवरी के बीच बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स खेला जाएगा.

कोरोना वायरस महामारी के कारण लगभग 10 महीनों तक अंतरराष्ट्रीय कैलेंडर प्रभावित होने के बाद भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल मंगलवार से शुरू होने वाले थाईलैंड ओपर सुपर 1000 टूर्नामेंट से प्रतिस्पर्धी मुकाबले में वापसी करने वाली थीं. सिंधु अक्टूबर से ही इंग्लैंड में ट्रेनिंग कर रही थीं.

साइना ने कहा-  अब तक रिपोर्ट नहीं मिली 

उधर, साइना नेहवाल ने कहा था, ' मुझे अब तक कोविड टेस्ट की रिपोर्ट नहीं मिली है. यह बहुत भ्रामक है... और आज मैच के लिए वॉर्मअप से ठीक पहले मुझे ये कहते हुए बैंकॉक में अस्पताल पहुंचने के लिए कहा गया कि मैं पॉजिटिव हूं. नियम के अनुसार तो रिपोर्ट 5 घंटे में आनी चाहिए...'

देखें: आजतक LIVE TV

इससे पहले बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल बैंकॉक में होने वाले इन टूर्नामेंटों से पहले लगाए गए प्रतिबंधों पर खुश नही थीं. साइना ने कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत लगाए गए प्रतिबंधों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कई ट्वीट किए थे. 30 साल की इस शटलर के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद अब वह शायद ही इन टूर्नामेंट्स में हिस्सा ले पाएंगी. 

साइना ने ट्रेनर और फिजियो से मिलने की इजाजत नहीं देने पर विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) की आलोचना की थी. साइना ने साथ ही कहा कि खिलाड़ियों को पहले ही इससे अवगत करा देना चाहिए था कि उन्हें थाईलैंड में उनके स्पोर्ट स्टाफ से मिलने नहीं दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें - थाईलैंड में कोविड-19 प्रोटोकॉल से नाराज साइना, BWF की आलोचना की

पिछले साल मार्च में ऑल इंग्लैंड चैम्पियनशिप के बाद बीडब्ल्यूएफ ने सत्र को निलंबित कर दिया था. जिसके बाद अक्टूबर में हुए डेनमार्क ओपन सुपर 750 और सारलोरक्स सुपर 100 में साइना और पीवी सिंधु  ने भाग नहीं लिया था.

योनेक्स थाईलैंड ओपन (12 से 17 जनवरी) और टोयोटा थाईलैंड ओपन (19 से 24 जनवरी) के अलावा एचएसबीसी बीडब्ल्यूएफ (विश्व बैडमिंटन संघ) विश्व टूर फाइनल्स (27 से 31 जनवरी) का हिस्सा नहीं होंगे. इन तीनों टूर्नामेंटों के साथ कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित 2020 का सत्र खत्म होगा.

थाईलैंड में कोविड-19 के मामले बढ़ने के बाद चीन ने इससे हटने का फैसला किया तो वही विश्व नंबर एक खिलाड़ी केंतो मोमोता के कोरोना जांच में पॉजिटिव आने के बाद जापान आखिरी समय में टूर्नामेंट से हट गया.

विश्व रैंकिंग में छठे स्थान पर काबिज सिंधु अपने अभियान का आगाज डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्डट के खिलाफ करेंगी, तो वही विश्व रैंकिंग में 20वें स्थान पर काबिज साइना को पहले दौर में मलेशिया की किसोना सेल्वदुरे से भिड़ना था. 

टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले पाएंगे ये तीन खिलाड़ी -

शटलर एचएस प्रणय भी पॉजिटिव पाए गए हैं. भारतीय बैडमिंटन संघ (BAI) ने कहा, ‘सोमवार को हुए परीक्षण में साइना और प्रणय कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए. वे बैंकॉक के अस्पताल में 10 दिन तक क्वारनटीन रहेंगे. पी. कश्यप को भी अस्पताल जाना होगा क्योंकि वह करीबी संपर्क में थे.’

ये तीनों खिलाड़ी टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले पाएंगे, जबकि भारतीय टीम के बाकी खिलाड़ियों को टूर्नामेंट में हिस्सा लेने की स्वीकृति दी गई है.

साइना, प्रणय, कश्य के अलावा आरएमवी गुरुसाईदत्त और प्रणव चोपड़ा पिछले महीने संक्रमित पाए गए थे और अनिवार्य पृथकवास से गुजरे थे. ये बैंकॉक रवाना होने से पहले हुए कोविड-19 परीक्षण और थाईलैंड पहुंचने पर हुए परीक्षण में निगेटिव आए थे.

भारतीय टीम में ओलंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधु, किदांबी श्रीकांत, सौरभ वर्मा, सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी, चिराग शेट्टी और अश्विनी पोनप्पा जैसे खिलाड़ी शामिल हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें