scorecardresearch
 

SpaceX ने निजी उड़ान के बाद NASA के 4 और यात्री अंतरिक्ष में भेजे

सोमवार को ही अमेरिका का पहला निजी Ax-1 मिशन 3 यात्रियों को लेकर पृथ्वी पर लौटा है. दो दिन बाद ही SpaceX ने NASA के चार और अंतरिक्ष यात्रियों को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (International Space Station) भेजा है.

X
SpaceX ने स्पेस स्टोशन भेजे 4 और एस्ट्रोनॉट (फोटो- नासा) SpaceX ने स्पेस स्टोशन भेजे 4 और एस्ट्रोनॉट (फोटो- नासा)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्पेस सटेशन पहुंचने में 16 घंटे लगेंगे
  • एस्ट्रोनॉट स्पेस में 5 महीने बिताएंगे

अमेरिका के पहले निजी Ax-1 मिशन के पृथ्वी पर लौटने के ठीक दो दिन बाद, स्पेस एक्स (SpaceX) ने बुधवार को नासा (NASA) के चार और अंतरिक्ष यात्रियों (Astronauts) को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (International Space Station) भेज दिया है.

इन अंतरिक्ष यात्रियों को कैनेडी स्पेस सेंटर (Kennedy Space Center) से लॉन्च होने के बाद, स्पेस सटेशन पहुंचने में 16 घंटे लगेंगे. वे स्पेस स्टेशन में पांच महीने बिताएंगे. SpaceX फाल्कन रॉकेट (Falcon rocket) के जरिए क्रू को ले जा रहा है. क्रू ने इस रॉकेट को फ्रीडम (Freedom) का नाम दिया है. 

 

SpaceX ने फिलहाल नासा के लिए पांच क्रू और पिछले दो सालों में, दो प्राइवेट ट्रिप लॉन्च किए हैं. एलन मस्क (Elon Musk) की कंपनी SpaceX पिछले कुछ हफ्तों से काफी व्यस्त है. हाल ही में, स्पेस एक्स तीन निजी टूरिस्ट को स्पेस स्टेशन का ट्रिप कराकर लौटा है.

यह नासा का पहला क्रू है जिसमें समान रूप से पुरुष और महिलाएं शामिल हैं. इस क्रू में पहली अश्वेत महिला जेसिका वॉटकिंस (Jessica Watkins) भी शामिल हैं. इस नए क्रू में तीन अमेरिकी और एक जर्मन हैं. वे स्पेस एक्स कैप्सूल में पृथ्वी पर लौट आएंगे. स्पेस स्टेशन पर पहले से ही तीन रूसी रह रहे हैं.

SpaceX mission NASA
क्रू में दो पुरुष- दो महिलाएं (फोटो: NASA)

नासा और यूरोपीय स्पेस एजेंसी (ESA) ज्यादा से ज्यादा महिला एस्ट्रोनॉट्स को ले जाने पर जोर दे रही हैं. दो अश्वेत महिलाओं ने शटल युग के दौरान, स्पेस स्टेशन का दौरा किया था. लेकिन ये बहुत लंबी यात्रा नहीं थी. जेसिका वॉटकिंस एक भूविज्ञानी (Geologist) हैं, जिनका नाम आने वाले समय में मून लैंडिंग मिशन (Moon-Landing Mission) के लिए, नासा की लिस्ट में है. 

वॉटकिंस की ही तरह, नासा के एस्ट्रोनॉट और टेस्ट पायलट बॉब हाइन्स (Bob Hines) की भी ये पहली अंतरिक्ष उड़ान है. जबकि, यूरोपीय स्पेस एजेंसी की अकेली महिला एस्ट्रॉनॉट सामंथा क्रिस्टोफोरेटी (Samantha Cristoforetti) और जेल लिंडग्रेन (Kjell Lindgren) की ये दूसरी यात्रा होगी. समांथा इटली की पूर्व वायु सेना लड़ाकू पायलट रही हैं, जबकि लिंडग्रेन, एक डॉक्टर हैं. 

स्पेसएक्स और नासा दोनों के अधिकारियों का कहना है कि वे सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, एक समय में एक कदम उठा रहे हैं. उन्होंने कहा कि सोमवार को खत्म हुए निजी मिशन में कोई बड़ी समस्या नहीं आई, हालांकि तेज हवा की वजह से लौटने में एक सप्ताह की देरी ज़रूर हुई.

SpaceX mission NASA
5 महीने बाद पृथ्वी पर लौटेंगे (फोटो: NASA)

स्पेस प्राइवेट टूरिज़्म का पिछले कई सालों से विरोध किया जा रहा था, लेकिन हाल ही में ये मिशन सफलतापूर्वक पूरा, प्राइवेट टूरिज़्म में नासा की ये पहली उड़ान थी. कहा जा रहा है कि Ax-1 मिशन पर गए तीनों यात्रियों ने इस सीट के लिए 5.5 करोड़ डॉलर दिए थे. वहां जाकर तीनों ने कई प्रयोग भी किए. अपना ज्ञान बढ़ाया. उनके साथ नासा के पूर्व एस्ट्रोनॉट माइकल लोपेज़ एलिग्रिया (Michael López-Alegría) गए थे, जो Axiom के बिज़नेस डेवेलपमेंट वाइस प्रेसिडेंट हैं.

नासा के फ्लाइट डारेक्टर ज़ेब स्कोविल (Zeb Scoville) का कहना है कि International Space Station कोई छुट्टी मनाने की जगह नहीं है, न ही ये कोई एम्यूज़मेंट पार्क है. यह एक अंतरराष्ट्रीय प्रयोगशाला है और वे असके महत्व को अच्छी तरह से समझते हैं और उसका सम्मान करते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें