scorecardresearch
 

नासा के रोवर ने मंगल पर देखीं अजीब स्पाइक्स, जानिए क्या हैं ये

काफी समय से मंगल ग्रह पर NASA का क्यूरियोसिटी रोवर अनोखी तस्वीरें ले रहा है. इस बार भी रोवर ने बेहद अजीब स्पाइक्स की तस्वीर ली है, जो सीमेंटेड दिखाई देती हैं.

X
मंगल ग्रह पर दिखीं अनोखी स्पाइक्स (Photo: NASA) मंगल ग्रह पर दिखीं अनोखी स्पाइक्स (Photo: NASA)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अनोखी स्पाइक्स की तस्वीरें लीं
  • सीमेंटेड दिखाई दे रही हैं ये स्पाइक्स

पिछले काफी समय से नासा (Nasa) का क्यूरियोसिटी मार्स रोवर (Curiosity Mars rover) लाल ग्रह की कुछ अनोखी तस्वीरें कैप्चर कर रहा है. इन तस्वीरों से मंगल ग्रह के बारे में नई-नई जानकारियां भी मिलती हैं. 

उदाहरण के लिए, पिछले महीने ही रोवर ने मंगल पर एक बेहद अनोखे दरवाजे की तरह दिखने वाली वह चीज़ को कैप्चर किया था, जिसे एलियन के घर का दरवाज़ा कहा गया.

क्यूरियोसिटी रोवर ने एक बार फिर एक अनोखी तस्वीर कैप्चर की है. ये तस्वीर है दो प्राचीन स्पाइक्स की, जो सीमेंटेड दिखाई देती हैं. ये स्पाइक्स प्राचीन पेड़ों के डरावने अवशेषों की तरह दिखाई देती हैं.

Curiosity Mars rover
क्यूरियोसिटी रोवर करीब एक दशक से गेल क्रेटर को एक्सप्लोर कर रहा है (Photo: NASA)

SETI इंस्टिट्यूट ने इस बारे में लिखा है कि मंगल ग्रह पर गेल क्रेटर (Gale crater) पर एक और चट्टान है. ये स्पाइक सेडिमेंटरी चट्टान में प्राचीन फ्रैक्चर की सीमेंटेड फिलिंग हो सकती हैं. चट्टान का बाकी हिस्सा नरम सामग्री से बना था जो खराब हो चुका है.

क्यूरियोसिटी रोवर ने यह तस्वीर 15 मई को अपने मास्टकैम इंस्ट्रूमेंट (Mastcam instrument) से ली थी. नासा की जेट प्रोपल्शन लैब में, क्यूरियोसिटी टीम ने अभी तक इस अजीब चीज पर कोई टिप्पणी नहीं की है. इसलिए यहकहा नहीं जा सकता कि ये असल में है क्या.

 

आपको बता दें कि क्यूरियोसिटी करीब एक दशक से गेल क्रेटर को एक्सप्लोर कर रहा है. वैज्ञानिकों को संदेह है कि करीब 370 करोड़ साल पहले ग्रह की सतह पर एक बड़े उल्कापिंड के टकराने के बाद, 96 मील तक एक गड्ढा बन गया था. माना जाता है कि उसके बाद, मंगल पर बड़ी झीलों और नदियों बन गई थीं. हो सकता है कि ये स्पाइक्स उस दौरान ही बनी हों. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें