scorecardresearch
 

जब रवि किशन की डिग्री को लेकर मचा था बवाल, विवादों से पुराना है वास्ता

रवि किशन के अलावा बीजेपी नेता और पूर्व एक्ट्रेस स्मृति ईरानी की डिग्री को लेकर भी काफी विवाद हो चुका है. रवि किशन इसके अलावा अपने उस बयान को लेकर भी विवादों में रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत एक हिंदू राष्ट्र है.

रवि किशन रवि किशन

सुशांत सिंह मामले में ड्रग्स एंगल सामने आने के बाद राजनीति तेज हो गई है. भोजपुरी स्टार रवि किशन भी इस सिलसिले में संसद में बयान दे चुके हैं और इसके चलते सुर्खियों में चल रहे हैं. इस पर राज्यसभा सांसद और अभिनेत्री जया बच्चन ने रवि किशन पर निशाना साधते हुए कहा था कि कई दिन से बॉलीवुड को बदनाम किया जा रहा है. कुछ लोग ऐसे हैं जो जिस थाली में खाते हैं उसी में छेद करते हैं. जया के इस बयान पर रवि किशन ने भी रिएक्ट किया है. हालांकि इससे पहले भी रवि किशन विवादों में रह चुके हैं.

2019 में हुए लोकसभा चुनाव के दौरान उनकी डिग्री पर जमकर विवाद हो चुका है.  दरअसल गोरखपुर से चुनाव लड़ने के दौरान रवि किशन ने एक एफिडेविट जमा कराया है, जिसमें उन्होंने जानकारी दी है कि 1990 में उन्होंने रिजवी कॉलेज ऑफ आर्ट साइन्स एंड कॉमर्स, मुंबई से 12वीं पास की है. इसके अलावा उन्होंने अपनी एजुकेशन की कोई जानकारी नहीं दी थी. 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

सांसद ने की वित्त राज्य मंत्री से मुलाकात सांसद रवि किशन ने वित्त राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर से मुलाकात की और उनसे कोरोना महामारी के दौरान सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों पर चर्चा करने के साथ-साथ गोरखपुर क्षेत्र में बैंकिंग व्यवस्था एवं वित्त की व्यवस्था को और भी मज़बूत करने के लिए विस्तार से चर्चा की सांसद रवि किशन ने वित्त राज्य मंत्री के माध्यम से माननीय प्रधानमंत्री जी एवं वित्त मंत्री के प्रति भी आभार ज्ञापित किया जिन्होंने 80 करोड़ लोगों तक मुफ्त अनाज दिलाने का कार्य किया प्रधानमंत्री जी ने गरीब कल्याण योजना का विस्तार दिवाली और छठ पूजा तक कर दिया है यानी नवंबर माह तक देश के करीब 80 करोड़ गरीब लोगों को मुफ्त अनाज उपलब्ध होगा इसके तहत प्रति व्यक्ति 5 किलो गेहूं या 5 किलो चावल के अलावा प्रति परिवार 1 किलो चना मुफ्त मिलेगा .कोरोनावायरस महामारी में केंद्र सरकार ने गरीब परिवारों को राहत देने के लिए कई बड़े कार्य की है . श्री ठाकुर ने केंद्र सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों की भी चर्चा की और साथ ही साथ जनप्रतिनिधियों को विभिन्न योजनाओं को जनता तक पहुंचाने का भी अनुरोध किया उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार श्रमिकों तथा कृषकों के लिए अलग बजट का प्रावधान किया है इसके साथ ही साथ मछली पालन तथा मधुमक्खी पालन हेतु एक निश्चित बजट आवंटित किया है ग्रामीण लोगों में रोजगार मुहैया कराने के लिए मनरेगा के तहत अलग धन आवंटित किया गया है इसके साथ ही साथ श्रमिकों के लिए 60 वर्ष की उम्र पूरी करने पर ₹3000 माह न्यूनतम पेंशन की व्यवस्था का भी प्रावधान किया गया है संपूर्ण देशवासियों को 20 लाख करोड़ रुपए का आर्थिक पैकेज दिया गया है जिसमें किसान एवं छोटे उद्यमी सस्ते कर्ज पर ऋण ले सकते हैं और नए उद्योगों को स्थापित कर सकते हैं अब ऐसे में जनप्रतिनिधि इन सभी योजनाओं को जनता तक पहुंचाने का कार्य करें.सांसद ने वित्त राज्यमंत्री से मुलाकात में इस बात का भी अनुरोध किया की गोरखपुर क्षेत्र में वैसे तो राज्य सरकार का अपना प्रयास काफी सराहनीय है माननीय मुख्य मंत्री जी की प्राथमिकताओं में रहता है लेकिन केंद्र के स्तर से बैंकिंग व्यवस्था को और भी मजबूत किया जा सकता है और गोरखपुर की जनता को बेहतर लाभ दिया जा सकता है . सांसद ने बताया कि आज उनकी मुलाकात काफी सुखद रही . वित्त से जुड़े हुए कई अन्य मुद्दों पर भी विस्तृत रूप में चर्चा हुई निश्चित तौर पर आगे आने वाले समय में #गोरखपुर क्षेत्र को काफी लाभ मिलेगा.

A post shared by Ravi Kishan (@ravikishann) on

लेकिन 2014 के लोकसभा चुनाव में रवि किशन यूपी के ही जौनपुर क्षेत्र से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े थे. उस दौरान रवि किशन ने अपने एफिडेविट में जानकारी दी थी कि उन्होंने रिजवी कॉलेज ऑफ आर्ट साइन्स एंड कॉमर्स, मुंबई से बी.कॉम किया है. यानी पांच साल में रवि किशन का कॉलेज तो वो ही रहा लेकिन डिग्री बदल गई है. कुशीनगर में रहने वाले एक व्यक्ति ने जिला इलेक्शन ऑफिसर को इस मामले में शिकायत दर्ज कराई थी.

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

#kapilsharmashow अधभूत Sunday आ रहा हूँ

A post shared by Ravi Kishan (@ravikishann) on

रवि किशन ने कहा था, भारत एक हिंदू राष्ट्र है

रवि किशन के अलावा बीजेपी नेता स्मृति ईरानी की डिग्री को लेकर भी काफी विवाद हो चुका है. रवि किशन इसके अलावा अपने उस बयान को लेकर भी विवादों में रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत एक हिंदू राष्ट्र है. उन्होंने कहा था कि यहां 100 करोड़ हिंदू आबादी है, तो हिंदुस्तान हिंदू राष्ट्र अपने आप ही है. जब इतने सारे मुसलमान देश हैं, जब इतने सारे ईसाई देश हैं तो यह अद्भुत है कि हम लोगों का अस्तित्व, हम लोगों की पहचान और संस्कृति जीवित है और इसे जीवित रखने के लिए एक माटी है जिसका नाम भारत है. रवि किशन का ये बयान सीएए-एनआरसी को लेकर आया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें