scorecardresearch
 

कोरोना का कहर: भारत से आने वाले लोगों की एंट्री पर न्यूजीलैंड ने लगाई रोक

कोरोना के प्रकोप से जूझ रहे भारत के हालात को देखते हुए न्यूज़ीलैंड ने अहम फैसला लिया है. न्यूजीलैंड ने भारत से आने वाले यात्रियों की एंट्री पर रोक लगा दी है, ये रोक 11 अप्रैल से शुरू होगी. 

भारत में बढ़ते कोरोना के संकट के बीच न्यूजीलैंड का फैसला (फाइल फोटो: PTI) भारत में बढ़ते कोरोना के संकट के बीच न्यूजीलैंड का फैसला (फाइल फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना संकट के बीच न्यूजीलैंड का फैसला
  • भारत से आने वाले लोगों की एंट्री पर रोक
  • अपने नागरिकों पर भी लागू किया नियम

भारत में कोरोना वायरस जिस तरह से बेकाबू हुआ है, उसपर दुनिया की नज़र है. भारत के हालात को देखते हुए न्यूज़ीलैंड ने अहम फैसला लिया है. न्यूजीलैंड ने भारत से आने वाले यात्रियों की एंट्री पर रोक लगा दी है, ये रोक 11 अप्रैल से शुरू होगी. 

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डेन ने ऐलान किया है कि भारत से आने वाले लोगों की एंट्री 11 अप्रैल से 28 अप्रैल तक रोक दी गई है. ये नियम न्यूजीलैंड में 11 अप्रैल शाम चार बजे से लागू कर दिया जाएगा. 

अगर कोई न्यूजीलैंड का व्यक्ति भारत में है और वो वापस जाना चाहता है तो उसे अभी इस दौरान एंट्री नहीं मिलेगी. यानी अब 28 अप्रैल के बाद ही भारत से कोई न्यूजीलैंड जा पाएगा. हालांकि, क्या ये सख्ती आगे जारी रहेगी, इसपर फैसला तब के हालात के अनुसार ही लिया जाएगा.

बता दें कि इस वक्त भारत में जिस प्रकार से कोरोना के नए मामले आ रहे हैं, वो दुनिया में सबसे तेज़ी से बढ़ने वाले देशों में एक है. बीते चार दिन में ही भारत में करीब पांच लाख केस सामने आ चुके हैं. सिर्फ दो दिन में ही करीब ढाई लाख मामले सामने आए हैं, जो चिंता बढ़ाने वाली रफ्तार है. 

न्यूजीलैंड एक वक्त पर कोविड फ्री घोषित हो गया था. हालांकि, बाद में चंद मामले वहां पर पाए गए थे, लेकिन हालात हमेशा काबू में ही रहे. बता दें कि शुक्रवार से शुरू हो रहे आईपीएल में भी न्यूजीलैंड के कई खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें