मेरठ में पूर्व मंत्री की सील फैक्ट्री में छापा, मीट की पैकेजिंग करते 10 गिरफ्तार

Uttar Pradesh: हापुड़ रोड स्थित अलीपुर में पूर्व मंत्री हाजी याकूब की अल फईम मीटेकस प्राइवेट लिमिटेड के नाम से फैक्ट्री है. यह इस समय बंद पड़ी थी. पुलिस अफसरों को सूचना मिली की फैक्ट्री में अवैध तरीके से काम हो रहा था.

फैक्ट्री में छापेमारी के दौरान कई अधिकारी वहां पर मौजूद हैं. फैक्ट्री में छापेमारी के दौरान कई अधिकारी वहां पर मौजूद हैं.
उस्मान चौधरी
  • मेरठ,
  • 01 अप्रैल 2022,
  • अपडेटेड 7:36 AM IST
  • हाजी याकूब कुरैशी की सील फैक्टरी में मीट की पैकिंग हो रही थी
  • एमडीए ने 2019 में फैक्ट्री को सील कर दिया था

उत्तर प्रदेश के मेरठ में पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी (Haji Yakub Qureshi) के हापुड़ रोड स्थित मीट प्लांट (मीट फैक्ट्री) पर पुलिस ने छापेमारी की है. पुलिस को जानकारी मिली थी पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी के मीट प्लांट पर अवैध तरीके से मीट की पैकेजिंग और प्रोसेसिंग का काम चल रहा था. 

छापेमारी के दौरान पुलिस ने मीट प्लांट के 10 कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है. इस फैक्ट्री में हाजी याकूब का बेटा इमरान याकूब डायरेक्टर बताया जा रहा है. इस इस फैक्ट्री में बिना लाइसेंस के मीट पैकेजिंग और प्रोसेसिंग का काम चल रहा था. 

2 लाख किलो प्रोसेस मीट बरामद

छापेमारी के दौरान पुलिस ने 2 लाख 40 हजार किलो प्रोसेस मीट बरामद किया है. इसके साथ ही 6 हजार 7 सौ किलो बिना प्रोसेस हुआ बरामद किया है. इस मीट की अवैध तरीके से पैकेजिंग और प्रोसेसिंग की जा रही थी. पूर्व मंत्री की फैक्ट्री में छापेमारी की जानकारी मिलते ही मौके पर आला अधिकारी, जांच टीमें पहुंच गई हैं.

काफी समय से बंद पड़ी थी यह फैक्ट्री

हापुड़ रोड स्थित अलीपुर में पूर्व मंत्री हाजी याकूब की अल फईम मीटेकस प्राइवेट लिमिटेड के नाम से फैक्ट्री है. यह इस समय बंद पड़ी है.

याकूब कुरैशी का विवादों से रहा है गहरा नाता

बता दें कि उत्तर प्रदेश की राजनीति में याकूब कुरैशी का विवादों से गहरा नाता रहा है. याकून कुरैशी का नाम सबसे पहले तब सुर्खियों में आया था, जब उन्होंने डेनमार्क के कार्टूनिस्ट का सिर कलम करने वाले को 51 करोड़ का इनाम देने की घोषणा की थी. उस समय भी इस नेता ने कई बार विवादित बयान देकर मीडिया की सुर्खियां बटोरी थीं. साल 2006 में एक विवादित कार्टून से धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचने की बात कहते हुए हाजी याकूब कुरैशी ने मेरठ में यह घोषणा की थी.

ये भी पढ़ेंः-

Read more!

RECOMMENDED