scorecardresearch
 

Cryptocurrency पर सख्ती... क्या उसके बाद भी लगाया जा सकेगा पैसा? क्या होगा असर

Cryptocurrency में पैसे लगाने का ट्रेंड पिछले कुछ टाइम में काफी पॉपुलर हुआ है. ऐसे में आपको कई लोग मिल जाएंगे जिन्होंने इसमें पैसे लगा रखे हैं. इस पर बैन लगाने की बात सामने आते ही Cryptocurrency  काफी तेजी से नीचे गिरीं.

Bitcoin Bitcoin
स्टोरी हाइलाइट्स
  • Cryptocurrency को लेकर चर्चा तेज हो गई है
  • इसको लेकर सरकार एक बिल लाने वाली है

Cryptocurrency को लेकर चर्चा तेज हो गई है क्योंकि भारत सरकार एक बिल लाने वाली है. संसद के शीतकालीन सत्र में 'द क्रिप्टो करेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ ऑफिशियल डिजिटल करेंसी बिल 2021' (The Cryptocurrency & Regulation Regulation of Official Digital Currency Bill, 2021 लाए जाने की बात हो रही है.  

बिल में ऑफिशियल डिजिटल करेंसी बनाने की बात भी कही गई है जिसे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया जारी करेगा. बिल के अनुसार भारत में कुछ करेंसी को छोड़कर सभी प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी पर भी बैन लगा दिया जाएगा. इस बार शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरू होने वाला है.

क्रिप्टोकरेंसी बैन को लेकर  Zerodha के को-फाउंडर Nikhil Kamath ने भी सवाल उठाए हैं. उन्होंने इस बारे में एक ट्वीट किया है. ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि अगर सरकार सर्कुलेशन में मौजूद क्रिप्टोकरेंसी को बैन करती है तो क्या होगा. इसी तरह का सवाल उनके मन में भी है जिन्होंने इसमें पैसे लगाए हैं. 

Cryptocurrency में पैसे लगाने का ट्रेंड पिछले कुछ टाइम में काफी पॉपुलर हुआ है. ऐसे में आपको कई लोग मिल जाएंगे जिन्होंने इसमें पैसे लगा रखे हैं. इसको लेकर कोई ऑफिशियल डेटा उपलब्ध नहीं है लेकिन इंडस्ट्री के अनुसार भारत में 1.5 से 2 करोड़ क्रिप्टो इनवेस्टर्स हैं. इन सभी का टोटल क्रिप्टो होल्डिंग लगभग 400 अरब रुपये का है. 

भारत सरकार लगातार इस पर नजर बनाए हुए थे. पिछले हफ्ते सिडनी संवाद में प्रधानमंत्री मोदी ने भी इसपर चर्चा की थी. उन्होंने कहा इस बात का सभी देशों को ध्यान रखना होगा कि क्रिप्टो गलत हाथ में ना पड़े. इससे युवाओं पर गलत असर पड़ेगा. 

इससे पहले पीएम मोदी की अध्यक्षता में क्रिप्टोकरेंसी को लेकर एक अहम बैठक की गई थी. इस बैठक में क्रिप्टो मार्केट के रेगुलेशन और इससे जुड़ी दूसरी चीजों पर चर्चा की गई. अब इस पर बैन की खबर आते ही Cryptocurrency की वैल्यू काफी तेजी से घट गई.

बंद हो जाएगा ट्रांजैक्शन 

भारत में अगर बिल लाकर सरकार इसे बैन कर देती है तो आपके बैन और क्रिप्टो एक्सचेंज के बीच ट्रांजैक्शन बंद हो जाएगा. आप लोकल करेंसी को क्रिप्टो खरीदने में यूज नहीं कर सकते हैं. इसके अलावा आप उन्हें इनकैश भी नहीं करवा सकते हैं. बैन होने के बाद इसमें जिनलोगों ने पैसे लगा रखे हैं उनका क्या होगा ये एक बड़ा सवाल है. इसका जवाब बिल पेश होने के बाद ही मिल पाएगा.

अभी भारत में फिलहाल क्रिप्टोकरेंसी पर कोई रेगुलेशन या बैन नहीं है. हालांकि, अभी कुछ टाइम में इसके एडवरटाइजमेंट काफी तेजी बढ़े हैं. इसमें फिल्म स्टार्स को भी फीचर किया जाता है और इनवेस्टमेंट पर हाई-रिटर्न देने की बात कही जाती है. 

2008 में Bitcoin के शुरू होने के बाद अभी सैकड़ों क्रिप्टोकरेंसी की ट्रेडिंग हो रही है. बैन के बाद इसमें पैसा लगाना आम लोगों के मुश्किल हो जाएगा. हालांकि, ये माना जा रहा है कि सरकार कुछ क्रिप्टोकरेंसी को जारी रख सकती है. इसे आप आसानी से खरीद या बेच सकते हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें