scorecardresearch
 

IPL: धोनी का 200वां मैच बेरंग- प्ले ऑफ अब मुश्किल, RR ने CSK को 7 विकेट से पीटा

आईपीएल के 13वें सीजन के 37वें मैच में सोमवार को अबु धाबी में राजस्थान रॉयल्स (RR) ने जीत हासिल की. उसने चेन्नई सुपर किंग्स ( CSK) को 7 विकेट से मात दी. महेंद्र सिंह धोनी अपने रिकॉर्ड 200वें आईपीएल मैच को यादगार नहीं बना पाए. 

Rajasthan Royals captain Steve Smith and Chennai Super Kings captain Mahendra Singh Dhoni (PTI) Rajasthan Royals captain Steve Smith and Chennai Super Kings captain Mahendra Singh Dhoni (PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राजस्थान की प्ले ऑफ उम्मीदें अब भी जिंदा हैं
  • चेन्नई सुपर किंग्स की राह अब बेहद मुश्किल हुई
  • बटलर-स्मिथ के बीच 98 रनों की अटूट साझेदारी

आईपीएल के 13वें सीजन के 37वें मैच में सोमवार को अबु धाबी में राजस्थान रॉयल्स (RR) ने जीत हासिल की. उसने चेन्नई सुपर किंग्स ( CSK) को 7 विकेट से मात दी. राजस्थान ने 17.3 ओवरों में 126/3 रन बनाए और जीत का लक्ष्य हासिल कर लिया. इस हार से चेन्नई की उम्मीदों को बड़ा झटका लगा है. उसकी प्ले ऑफ की राह बेहद मुश्किल हो गई है. महेंद्र सिंह धोनी अपने रिकॉर्ड 200वें आईपीएल मैच को यादगार नहीं बना पाए. उधर, राजस्थान के कप्तान स्टीव स्मिथ ने 'गेम चेंजर' जोस बटलर (नाबाद 70 रन, 48 गेंदों में) के साथ 'करो या मरो' वाले मैच मेंं जीत का जश्न मनाया.

इस जीत के साथ ही राजस्थान की टीम 8 अंकों के साथ निचले पायदान से 5वें स्थान पर आ गई. उसकी प्ले ऑफ उम्मीदें अब भी जिंदा हैं. रॉयल्स की 10 मैचों में यह चौथी जीत रही. इसी सीजन में राजस्थान ने चेन्नई को पिछले मुकाबले में भी हराया था. चेन्नई की 10 मैचों में यह 7वीं हार रही. वह अब सबसे नीचे 8वें पायदान पर है.

चेन्नई सुपर किंग्स का अब क्या होगा?

चेन्नई की टीम अब तक आईपीएल में जब भी खेली है, प्ले ऑफ तक जरूर पहुंची. वह तीन बार की विजेता और पांच बार की उपविजेता है, लेकिन इस बार उसके 10 मैचों में केवल 6 अंक हैं और अगले चार मैचों में जीत पर भी उसकी प्ले ऑफ में पहुंचने की संभावना अगर-मगर पर टिकी रहेगी.

धोनी के 200 मैचों का सफर

पहला मैच: जीते 2008 में KXIP के खिलाफ

50वां मैच: जीते 2011 में PW के खिलाफ

100वां मैच: जीते 2014 में MI के खिलाफ

150वां मैच: जीते 2017 में MI के खिलाफ

200वां मैच: हारे 2020 में RR के खिलाफ
 

126 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी राजस्थान की टीम को पहला झटका 26 के स्कोर पर लगा, जब बेन स्टोक्स (19) को दीपक चाहर ने बोल्ड कर दिया. रॉबिन उथप्पा (4) भी 28 के स्कोर पर चलते बने. उन्हें जोश हेजलवुड ने विकेट के पीछे धोनी के हाथों लपकवाया.

दीपक चाहर ने एक और सफलता दिलाई और एक बार फिर धोनी के कैच लपका. 28 के स्कोर पर ही तीसरा विकेट गिरा. संजू सैमसन (0) बगैर खाता खोले लौटे. इसके बाद कप्तान स्टीव स्मिथ (नाबाद 26) और विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर (नाबाद 70) ने चौथे विकेट के लिए 98 रनों की अटूट साझेदारी कर जीत को आसान बना दिया. बटलर ने 37 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया.

धोनी के धुरंधरों ने शुरुआती झटके दिए, लेकिन ...

वैसे धोनी के धुरंधर आसानी से हार मानने वाले नहीं थे. दीपक चाहर (18 रन देकर दो) और जोश हेजलवुड (19 रन देकर एक) ने पहले 9 ओवरों में ही अपना कोटा पूरा कर दिया, लेकिन इस बीच उन्होंने अधिकतर समय रॉयल्स के बल्लेबाजों को खामोश रखा.

रॉयल्स का बेट स्टोक्स (19) और रॉबिन उथप्पा (4) से पारी की शुरुआत करवाना फिर से गलत साबित हुआ. ये दोनों चौथे ओवर तक पवेलियन में विराजमान थे. संजू सैमसन इस बार खाता भी नहीं खोल पाए. धोनी की तारीफ करनी होगी, जिन्होंने बाईं तरफ डाइव लगाकर एक हाथ से उनका कैच लिया.

दो रनों के अंदर तीन विकेट गंवाने से रॉयल्स दबाव में आ गया. स्मिथ और बटलर ने सहजता से पारी आगे बढ़ाने की रणनीति अपनाई. इस बीच जब स्मिथ ने खाता भी नहीं खोला था तब धोनी ने उनके खिलाफ एलबीडब्ल्यू के लिए डीआरएस लिया था. 

रन बनाने का जिम्मा बटलर ने उठा रखा था

रन बनाने का जिम्मा वैसे भी बटलर ने उठा रखा था. शार्दुल ठाकुर पर लगाया गया उनका छक्का दर्शनीय था. स्मिथ ने 24वीं गेंद का सामना करके पहला चौका लगाया. बटलर ने 37 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया.

RR ने CSK को 125/5 रन ही बनाने दिए थे

राजस्थान रॉयल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 125/5 रन ही बनाने दिए. चेन्नई की तरफ से रवींद्र जडेजा (30 गेंदों पर 35) और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (28 गेंदों पर 28) ही कुछ योगदान दे पाए, आर्चर ने 20 रन देकर एक विकेट लिया, जबकि स्टीव स्मिथ ने पहले 15 ओवरों में ही अपने स्पिनरों का कोटा खत्म करवा दिया था. 

महेंद्र सिंह धोनी (PTI)

श्रेयस गोपाल (14 रन देकर एक) और राहुल तेवतिया (18 रन देकर एक) ने मिलाकर आठ ओवर में 32 रन देकर दो विकेट लिये और चेन्नई के बल्लेबाजों को दबाव में रखा.

धोनी ने अपने 200वें मैच में टॉस जीता था

आईपीएल में 200 मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी बने धोनी का टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला एकबारगी उल्टा दांव चलने जैसा लगा क्योंकि 10 ओवरों तक स्कोर तक चार विकेट पर 56 रन. अब तक टीम की तरफ से रन बनाने वाले प्रमुख बल्लेबाज शेन वॉटसन और फाफ डुप्लेसिस के अलावा सैम कुरेन और अंबति रायडू भी पवेलियन लौट चुके थे.

रॉयल्स के गेंदबाजों की तारीफ करनी होगी कि उन्होंने परिस्थितियों का फायदा उठाकर चेन्नई के बल्लेबाजों को शुरू से दबाव में रखा. पिच धीमी थी, लेकिन उससे असमान उछाल भी मिल रही थी, जिससे बल्लेबाज सामंजस्य नहीं बिठा पाए.

देखें: आजतक LIVE TV 

चेन्नई के शीर्ष क्रम ने अपने विकेट गंवाए 

जोस बटलर ने डुप्लेसिस (10) का खूबसूरत कैच लिया, लेकिन बेन स्टोक्स पर लगाए गए एक छक्के को छोड़कर कुरेन (22) आत्मविश्वास में नहीं दिए. वॉटसन (8) और रायडू (13) ने आसान कैच दिए. 

धोनी और जडेजा की धीमी पार्टनरशिप

धोनी और जडेजा अपेक्षित तेजी से रन नहीं बना पाए. इन दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 51 रन जोड़े, लेकिन इसके लिए 46 गेंदें खेलीं, चेन्नई के पास विकेट बचे हुए थे, इसके बावजूद उसने आखिरी पांच ओवरों में केवल 36 रन बनाए. चेन्नई की पूरी पारी में 12 चौके और एक छक्का लगा, इनमें से चार चौके जडेजा ने लगाए. 
  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×