scorecardresearch
 

कोरोना: इंडोनेशिया में ऑक्सीजन संकट, 300 कंसंट्रेटर लेकर पहुंचा INS ऐरावत

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने ट्वीट में कहा, भारत कोरोना के खिलाफ जंग में अपने साझेदार देशों के साथ खड़ा है. उन्होंने बताया कि INS ऐरावत 300 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और 100 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन लेकर तान्जुंग प्रियोक पहुंच गया है.

ऑक्सीजन कंसंट्रेटर लेकर पहुंचा INS ऐरावत (फोटो- एएनआई) ऑक्सीजन कंसंट्रेटर लेकर पहुंचा INS ऐरावत (फोटो- एएनआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारत ने 300 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 100 MT लिक्विड ऑक्सीजन भेजी
  • कोरोना के खिलाफ जंग में भारत निभा रहा अहम भूमिका

कोरोना संकट से जूझ रहे इंडोनेशिया के लिए भारत ने मदद का हाथ बढ़ाया है. भारत ने इंडोनेशिया के लिए 300 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और 100 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन भेजी है. इन्हें लेकर INS ऐरावत जकार्ता के मुख्य बंदरगाह तान्जुंग प्रियोक पहुंच गया है. यह जानकारी भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने दी. 

जयशंकर ने अपने ट्वीट में कहा, भारत कोरोना के खिलाफ जंग में अपने साझेदार देशों के साथ खड़ा है. उन्होंने बताया कि INS ऐरावत 300 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और 100 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन लेकर तान्जुंग प्रियोक पहुंच गया है. 

 


इंडोनेशिया दुनिया का 15वां सबसे संक्रमित देश
केसों के मामले में इंडोनेशिया दुनिया का 15वां सबसे संक्रमित देश है. यहां कोरोना के अब तक 28.77 लाख मामले सामने आ चुके हैं. अब तक देश में 73582 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि, अब तक यहां 22.61 लाख लोग ठीक हो चुके हैं वहीं, 5.42 लाख लोगों का इलाज जारी है.

भारत लगातार कर रहा दूसरे देशों की मदद
पूरी दुनिया फरवरी- मार्च 2020 से कोरोना महामारी से जूझ रही है. ऐसे में भारत ने महामारी से जूझ रहे तमाम देशों की मदद की है. हालांकि, इस साल कोरोना की दूसरी लहर में जब भारत जूझ रहा था, तो उस समय अमेरिका, ब्रिटेन, यूएई, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, सिंगापुर, थाईलैंड, कुबैत, रूस समेत दुनिया के तमाम देशों ने भारत की मदद की.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें