scorecardresearch
 

कोरोना के साये में आज से Ganesh महोत्सव, मुंबई-बेंगलुरु समेत तमाम शहरों में पाबंदियां

पिछले साल की तरह इस बार भी कोरोना के साये में Ganesh महोत्सव मनाया जा रहा है. मुंबई, दिल्ली, आंध्र समेत तमाम शहरों में तीसरी लहर की आशंका के चलते प्रतिबंध भी लगाए गए हैं. आईए जानते हैं कि कहां किस तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं.

फाइल फोटो (पीटीआई) फाइल फोटो (पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आज से शुरू हुआ 10 दिनों का गणेश महोत्सव
  • कोरोना के चलते कई शहरों में सार्वजनिक तौर पर गणेश महोत्सव मनाने पर रोक

पूरे देश में आज से गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi) महोत्सव शुरू हो गया. हर साल बप्पा के भक्तों को गणेश चतुर्थी की प्रतीक्षा रहती है. 10 दिन तक चलने वाला ये पर्व भक्तों के लिए बेहद खास होता है. लेकिन पिछले साल की तरह इस बार भी कोरोना के साये में Ganesh महोत्सव मनाया जा रहा है. मुंबई, दिल्ली, आंध्र समेत तमाम शहरों में तीसरी लहर की आशंका के चलते प्रतिबंध भी लगाए गए हैं. आईए जानते हैं कि कहां किस तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं. 

महाराष्ट्र:  मुंबई में धारा 144 लागू

मुंबई में गणेश महोत्सव को लेकर 10-19 सितंबर तक धारा 144 लागू करने का फैसला किया गया है. इसके अलावा श्रद्धालु गणपति के पंडालों में नहीं जा सकेंगे. साथ ही किसी भी प्रकार के जुलूस की इजाजत नहीं होगी. 

मुंबई में गणेश चतुर्थी के अवसर पर मंदिर के पुजारी और आयोजकों ने पूजा और गणेश आरती की. इस दौरान श्रद्धालु दर्शन नहीं कर पाए. 

 

ट्रिपल लेयर सिक्योरिटी में लाल बाग के राजा 

मुंबई में लाल बाग के राजा इस बार भी आकर्षण का केंद्र हैं. लेकिन किसी श्रद्धालु को दर्शन की अनुमति नहीं है. लाल बाग के राजा ट्रिपल लेयर सिक्योरिटी में हैं, ताकि कोई पंडाल में ना जा पाए. यहां सभी सड़कों पर भी बैरिकेड लगाए गए हैं. 

श्रद्धालु बोले- 'बार खोले, फिर मंदिर क्यों नहीं'

महाराष्ट्र में कोरोना के चलते धार्मिक स्थल बंद हैं. इसके बावजूद नागपुर के गणेश टेकड़ी मंदिर पर काफी श्रद्धालु पहुंचे. एक श्रद्धालु ने कहा, सरकार ने बार और पब खोलने की इजाजत दी है, लेकिन मंदिर खोलने में उन्हें दिक्कत है.

 


दिल्ली: सार्वजनिक जगहों पर गणेश चतुर्थी का आयोजन नहीं

कोरोना के मद्देनजर दिल्ली में इस साल भी सार्वजनिक जगहों पर गणेश चतुर्थी का आयोजन नही होगा.  दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट ऑथोरिटी(DDMA) ने अपने आदेश में कहा, टेंट और पंडाल और सार्वजनिक जगहों पर गणेश प्रतिमा स्थापित नहीं की जा सकेगी. इस तरह के किसी भी आयोजन की अनुमति नहीं है. लोगों से घरों पर गणेश चतुर्थी की पूजा का आयोजन करने की सलाह दी गई है. 

कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए मंदिर में दर्शन करने पहुंचे भक्त

आंध्रप्रदेश: तीसरी लहर के मद्देनजर गणेश महोत्सव पर प्रतिबंध

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी सरकार ने कोरोना की तीसरी लहर के मद्देनजर सार्वजनिक स्थानों पर गणेश महोत्सव मनाने पर प्रतिबंध लगाया है. उधर, भाजपा रेड्डी सरकार के इस फैसले का लगातार विरोध कर रही है. सरकार का कहना है कि तीसरी लहर को रोकने के उपायों के तहत सार्वजनिक स्थानों पर सामूहिक समारोहों पर बैन लगाया गया है. 
 
कर्नाटक : बेंगलुरु में जुलूस की इजाजत नहीं

कर्नाटक सरकार ने सार्वजनिक स्थलों पर गणेश उत्सव मनाने के लिए 5 दिन की छूट दी है. हालांकि, बेंगलुरु प्रशासन ने सिर्फ तीन दिन तक गणेश महोत्सव मनाने की छूट दी है. साथ ही गणेश की मूर्ति लाने और विसर्जन के वक्त किसी भी तरह के जुलूस की अनुमति नहीं होगी. बेंगलुरु में पिछले साल भी इतने ही दिन की अनुमति दी गई थी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें