scorecardresearch
 

बर्ड फ्लू पर हरकत में सरकारें, शिवराज ने की मीटिंग, केंद्र ने जारी किए 12 हॉटस्पॉट के नाम

बर्ड फ्लू के कई मामले सामने आने के बाद आधा दर्जन से अधिक राज्य अलर्ट पर हैं. केंद्र सरकार ने एक कंट्रोल रूम भी बनाया है, ताकि हर राज्य के संपर्क में रहा जा सके.

बर्ड फ्लू ने भारत में बढ़ाई चिंता (फाइल) बर्ड फ्लू ने भारत में बढ़ाई चिंता (फाइल)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारत में बर्ड फ्लू की दस्तक से अलर्ट
  • केंद्र सरकार ने कंट्रोल रूम बनाया

भारत में बर्ड फ्लू की दस्तक के बाद कई राज्यों में हलचल मच गई है. पहले कोरोना का संकट और अब बर्ड फ्लू का कहर. मध्य प्रदेश में इसके सबसे अधिक मामले सामने आए हैं, जहां सैकड़ों की संख्या में कौवे मर गए और उन्हें ये वायरस मिला है. अभी इसी संकट को देखते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बैठक बुलाई है.

बर्ड फ्लू संकट को लेकर भारत में बड़े अपडेट – 

- बर्ड फ्लू संकट को लेकर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आपात बैठक बुलाई है. इस बैठक में राज्य के चिकित्सा मंत्री समेत अन्य अधिकारी मौजूद हैं. भारत सरकार द्वारा बर्ड फ्लू को लेकर जो निर्देश भेजे गए हैं, उनको लेकर बैठक में मंथन हुआ. राज्य में अब पॉल्ट्री फॉर्म में पक्षियों के सैंपल लिए जाएंगे, इसके लिए जल्द ही राज्य सरकार निर्देश जारी करेगी.

इन क्षेत्रों में बड़ा है संकट

-    भारत सरकार के मुताबिक, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, केरल में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो गई है. ऐसे में केंद्र सरकार की ओर से एक कंट्रोल रूम बनाया गया है, जिसके जरिए देश में आ रहे ऐसे मामलों पर नज़र रखी जा रही है. राज्य सरकारों के साथ मिलकर सभी अहम कदम उठाए जा रहे हैं.

- केंद्र सरकार द्वारा जो जानकारी दी गई है, उसके मुताबिक अभी राजस्थान (कौवा) के बारन, कोटा, झालावाड़ में, मध्य प्रदेश (कौवा) के मंदसौर, इंदौर, मालवा, हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा, केरल के कोट्टायम, अल्लापूझा में सबसे अधिक बर्ड फ्लू का असर देखने को मिल रहा है.

दक्षिण के राज्य भी अलर्ट पर

- बर्ड फ्लू के संकट को देखते हुए कर्नाटक ने केरल से सटी अपनी सीमा पर अलर्ट जारी कर दिया है. कर्नाटक के चार जिलों में अलर्ट जारी किया गया है, जो केरल से सटे हैं. यहां पर बर्ड फ्लू को लेकर सतर्कता बढ़ाई जाएगी.

- बर्ड फ्लू के संकट के कारण केरल से मैसूर के बीच सभी पॉल्ट्री से जुड़े ट्रांसपोर्ट को रोक दिया गया है. इतना ही नहीं केरल से मैसूर आने वाले सभी वाहनों को सैनिटाइज भी किया जा रहा है.

केंद्रीय मंत्री संजीव बलियान का कहना है कि बर्ड फ्लू 2006 में ही सबसे पहले भारत आया था, लेकिन 2015 के बाद से लगातार मामले सामने आ रहे हैं. अभी हरियाणा में कुछ मुर्गियों में मामले सामने आए हैं, जबकि केरल में कलिंग का काम शुरू हो गया है.

मंत्री के मुताबिक, केंद्र सरकार ने कंट्रोल रूम बनाया है और राज्यों के साथ संपर्क में है. राहत की बात ये है कि आज तक मनुष्यों में इसका कोई संक्रमण सामने नहीं आया है. लोगों को चिकन, अंडे अच्छे से साफ कर और सही से पकाकर खाने चाहिए.

देखें आजतक LIVE TV

गौरतलब है कि भारत में अबतक मध्य प्रदेश, राजस्थान, इंदौर, केरल, गुजरात समेत कई राज्यों में बर्ड फ्लू से जुड़े मामले सामने आए हैं. करीब दस राज्यों ने अपने यहां अलर्ट जारी कर दिया है. मध्य प्रदेश में सबसे अधिक मृत कौवे मिले हैं, जिनमें बर्ड फ्लू का वायरस पाया गया है. इसके अलावा केरल ने भी प्रभावित इलाकों में पक्षियों को मारने का आदेश दिया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें