scorecardresearch
 

सिद्धिविनायक मंदिर कल से खुलेगा, दर्शन के लिए QR कोड के जरिए करनी होगी प्री-बुकिंग

श्री सिद्धिविनायक गणपति ट्रस्ट के मुताबिक केवल उन्हीं श्रद्धालुओं को दर्शन की इजाजत दी जाएगी, जो प्री बुकिंग किए रहेंगे. प्री बुकिंग, मंदिर ट्रस्ट के एप पर क्यूआर कोड के जरिए की जा सकेगी.

सिद्धिविनायक मंदिर (फाइल फोटो) सिद्धिविनायक मंदिर (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हर घंटे 250 श्रद्धालु कर सकेंगे दर्शन
  • नवरात्रि के पहले दिन खुल रहे मंदिर 

कोरोना वायरस की महामारी से पूरी दुनिया थम सी गई थी. आस्था के केंद्र धार्मिक स्थलों पर भी ताले लग गए थे. कोरोना वायरस की महामारी की दूसरी लहर की रफ्तार मंद पड़ी तो धीरे-धीरे जनजीवन पटरी पर लौटने लगा. देश के कई इलाकों में चरणबद्ध तरीके से धार्मिक स्थल, बाजार और शैक्षणिक संस्थान खुल गए हैं. महाराष्ट्र में धार्मिक स्थलों पर ताले ही लगे थे.

महाराष्ट्र सरकार ने नवरात्रि के पहले दिन यानी 7 अक्टूबर से पूरे प्रदेश में हर मंदिर खोलने का ऐलान किया था. मुंबई के दादर का सिद्धिविनायक मंदिर भी उन मंदिरों में से एक है जिन्हें खोला जाएगा. काफी समय से बंद चल रहे मंदिर फिर से खोले जाने, अपने आराध्य के धाम पहुंचकर उनके दर्शन पाने की उम्मीद जगी तो गाइडलाइन का इंतजार शुरू हुआ.

मुंबई के दादर का सिद्धिविनायक मंदिर भी 7 अक्टूबर को श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोला जाना है. श्री सिद्धिविनायक गणपति टेम्पल ट्रस्ट ने इसके लिए गाइडलाइंस का ऐलान कर दिया है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक हर घंटे केवल 250 श्रद्धालुओं को दर्शन की इजाजत दी जाएगी. दर्शन के इच्छुक श्रद्धालुओं के लिए प्री बुकिंग की व्यवस्था लागू की जाएगी.

श्री सिद्धिविनायक गणपति ट्रस्ट के मुताबिक केवल उन्हीं श्रद्धालुओं को दर्शन की इजाजत दी जाएगी, जो प्री बुकिंग किए रहेंगे. प्री बुकिंग, मंदिर ट्रस्ट के एप पर क्यूआर कोड के जरिए की जा सकेगी. हर घंटे दर्शन के लिए अधिकतम 250 श्रद्धालुओं को क्यूआर कोड जारी किया जाएगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें