scorecardresearch
 

ना करें ढिलाई, बाकी है कोरोना से लड़ाई: भारत में महज 30% लोगों को ही लगीं दोनों डोज

कोरोना से मुकाबले के लिए भारत में टीकाकरण जोरों पर है. टीकाकरण की स्थिति की बात करें तो देश की 18 से अधिक उम्र की आबादी में से 73.6% लोग कम से कम एक डोज ले चुके हैं. इनमें से 29.7% लोगों को दोनों डोज लग चुकी हैं.

Corona Vaccination in India Corona Vaccination in India
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 73.6% लोग ले चुके हैं कोरोना वैक्सीन की एक डोज
  • कुछ राज्यों ने 100 फीसदी लोगों को लगी दी है पहली डोज

दूसरी लहर में जमकर तबाही मचाने के बाद कोरोना खत्म होने का नाम नहीं ले रहा. हर रोज के आंकड़े तो गिर रहे हैं लेकिन बीच-बीच में इसका ग्राफ ऊपर उठ जाता है. ऐसे में टीकाकरण को ही एकमात्र बचाव माना जा रहा है. भारत में टीकाकरण की बात करें तो देश की 18 से अधिक उम्र की आबादी में से 73.6% लोग कम से कम एक डोज ले चुके हैं और इनमें से 29.7% लोगों को दोनों डोज लग चुकी हैं. कई राज्यों ने शत प्रतिशत लोगों को पहली डोज लगा दी है.  

जम्मू कश्मीर में 100 फीसदी लोगों को पहली डोज लग चुकी है. इसी तरह का प्रयास हिमाचल प्रदेश ने भी किया है. इन दोनों राज्यों में बहुत सी आबादी पहाड़ी और दूर दराज के इलाकों में रहती है इसके बावजूद टीकाकरण की रफ्तार में कोई कमी नहीं आई. 

कम से कम एक डोज ले चुकी 18 साल से अधिक की आबादी

जम्मू कश्मीर- 100%, पंजाब-69.7%, राजस्थान- 81.6%, महाराष्ट्र-69.6%, गोवा- 100%, आंध्र प्रदेश-53.8%, झारखंड- 55.1%, बिहार-65.4%, उत्तर प्रदेश- 61.4%, दिल्ली-79.8%, उत्तराखंड- 95.7%, लद्दाख- 94.2%, हिमाचल प्रदेश- 100%

Track of India's Vaccination Drive
Track of India's Vaccination Drive

टीके के दोनों डोज ले चुकी 18 साल से अधिक की आबादी

लद्दाख- 66.7%, जम्मू- कश्मीर- 49.2%, हरियाणा- 36.3%, राजस्थान- 35.8%, मध्य प्रदेश- 30.7%, गोवा- 70.1%, केरल- 42.3%, झारखंड- 18.1%, बिहार- 19.7%, उत्तर प्रदेश- 17.2%, उत्तराखंड- 44.6%, हिमाचल प्रदेश- 55.5%

Track of India's Vaccination Drive 1
Track of India's Vaccination Drive 1

लगभग 2 साल बीत चुके हैं लेकर भारत में कोरोना थमने का नाम नहीं ले रहा. हालांकि शनिवार के आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे के दौरान भी देश में कोरोना से संक्रमण के 15981 नए मामले सामने आए. ये आंकड़ा एक दिन पहले की तुलना में 5.2 फीसदी कम है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें