उपेंद्र कुशवाहा का नीतीश पर वार, कहा- 2020 तक खुद छोड़ दें CM की कुर्सी

बिहार की सियासत में इसे शह और मात के खेल के रूप में देखा जा सकता है. स्पष्ट तौर पर कहें तो उपेंद्र कुशवाहा को नीतीश कुमार का चेहरा मंजूर नहीं है. वो पहले भी इसे जाहिर कर चुके हैं. अब उसे राजनीति की चाशनी में लपेट कर बोल रहे हैं.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)
सुजीत झा/मोहित ग्रोवर
  • पटना,
  • 26 जुलाई 2018,
  • अपडेटेड 2:55 AM IST

केंद्रीय मंत्री और आरएलएसपी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने एक बार बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि 2020 तक नीतीश कुमार 15 वर्षों का अपना कार्यकाल पूरा कर चुके होंगे. ऐसे में अब उन्हें खुद मुख्यमंत्री का पद छोड़ देना चाहिए, क्योंकि 15 साल का कार्यकाल काफी लंबा होता है. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि मैं समझता हूं कि नीतीश कुमार खुद 2020 के विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री का पद छोड़ देंगे.

बिहार की सियासत में इसे शह और मात के खेल के रूप में देखा जा सकता है. स्पष्ट तौर पर कहें तो उपेंद्र कुशवाहा को नीतीश कुमार का चेहरा मंजूर नहीं है. वो पहले भी इसे जाहिर कर चुके हैं. अब उसे राजनीति की चाशनी में लपेट कर बोल रहे हैं.

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि बिहार की जनता ने नीतीश कुमार को 15 साल तक मुख्यमंत्री बने रहने का मौका दे दिया. इतना समय किसी भी नेता के लिए काफी होता है. 15 साल राज करने के बाद नीतीश को खुद ही मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ने का ऐलान कर देना चाहिए. क्योंकि 15 साल का समय काफी लंबा होता है.

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार हमारे भी नेता रहे और मैं उन्हें अच्छी तरह से जानता हूं. कुशवाहा ने ये भी कहा नीतीश कुमार के मुख्यमंत्री बनने से पहले जब हम कैंपेन करते थे तो जनसभाओं में कहते थे कि लालू राबड़ी को आपने 15 साल शासन करने के लिए दिया, हमें कम से कम पांच साल तो दीजिए. लेकिन अब तो यह काल 15 साल की ओर बढ चला है.

इससे पहले भी उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश कुमार पर हमला किया था. अपने संसदीय क्षेत्र में आयोजित एक कार्यक्रम में उपेंद्र कुशवाहा ने कहा था कि उनकी पार्टी नीतीश की पार्टी जेडीयू से बड़ी पार्टी है. लोकसभा में हमारे तीन सांसद हैं तो जेडीयू के सिर्फ दो. ऐसे में लोकसभा और विधानसभा के चुनाव में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी को जनता दल यूनाइटेड से ज्यादा सीटें मिलनी चाहिए.

सियासी हल्कों में चर्चा है कि कुशवाहा बीजेपी के शह पर ही नीतीश पर हमला कर रहे हैं. क्योंकि नीतीश के तेवर से बीजेपी परेशान है. लिहाजा वो उपेंद्र कुशवाहा के जरिए नीतीश कुमार को हैसियत बता रही है. और वैसे भी उपेंद्र कुशवाहा खुद ही मुख्यमंत्री का दावेदार बनने के लिए बेकरार भी रहे हैं.

Read more!

RECOMMENDED