scorecardresearch
 

Ind vs Eng: बेन स्टोक्स चल रहे थे 'चाल', कोहली ने प्लान को ऐसे किया फेल

इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. इंग्लैंड के कप्तान इस उम्मीद में थे कि सीरीज के पहले टेस्ट की तरह ही अहमदाबाद में भी पहली पारी में बड़ा स्कोर खड़ा करके भारत को बैकफुट पर धकेल देंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं सका. 

बेन स्टोक्स और विराट कोहली बेन स्टोक्स और विराट कोहली
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा टेस्ट
  • मैच पर भारत की पकड़ा बेहद मजबूत
  • इंग्लैंड की पहली पारी 112 रनों पर सिमटी

अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले जा रहे टेस्ट सीरीज के तीसरे मैच में भारत इंग्लैंड पर हावी है. मेजबान टीम ने इंग्लैंड को पहली पारी में 112 रनों पर समेट दिया है. इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. इंग्लैंड के कप्तान इस उम्मीद में थे कि सीरीज के पहले टेस्ट की तरह ही अहमदाबाद में भी पहली पारी में बड़ा स्कोर खड़ा करके भारत को बैकफुट पर धकेल देंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं सका. 

इंग्लैंड की पहली पारी के दौरान मैदान पर एक वाकया भी हुआ. दरअसल, इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स बल्लेबाजी कर रहे थे और रविचंद्रन अश्विन के हाथ में गेंद थी. अश्विन जैसे ही आगे बढ़े, स्टोक्स ने उन्हें हाथ दिखाते हुए रोक दिया. स्टोक्स की कोशिश थी कि इससे अश्विन का ध्यान भंग किया जाए.

स्टोक्स ने जैसे ही अश्विन को रोका, स्लिप में खड़े विराट कोहली स्टोक्स के करीब आए और उन्हें वक्त बर्बाद नहीं करने की नसीहत देने लगे. भारतीय कप्तान की यह बात स्टंप माइक में रिकॉर्ड हो गई. जिसमें वे स्टोक्स को कहते नजर आ रहे हैं कि आप समय बर्बाद न करें. हालांकि, स्टोक्स ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक सके और 24 गेंदों पर 6 रन बनाकर आउट हो गए. उन्हें अक्षर पटेल ने अपना शिकार बनाया.

भारत ने कसा शिकंजा 

डे-नाइट टेस्ट के पहले दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने तीन विकेट खोकर 99 रन बनाए. रोहित शर्मा 57 और अजिंक्य रहाणे एक रन बनाकर नाबाद लौटे. दिन का खेल खत्म होने से ठीक पहले कप्तान विराट कोहली आउट हुए. वो 27 रन बनाए. 

भारत पहली पारी के आधार पर इंग्लैंड से सिर्फ 13 रनों से पीछे है. इंग्लैंड की ओर से जैक लीच ने दो और जोफ्रा आर्चर ने एक विकेट लिया. इससे पहले नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारतीय टीम ने ऐतिहासिक आगाज किया. उसने इंग्लैंड की पहली पारी को 112 रनों पर समेट दिया. भारत के खिलाफ इंग्लैंड टीम का ये तीसरा सबसे कम स्कोर है. वो इससे पहले साल 1971 में द ओवल में 101, 1981 में मुंबई में खेले गए मुकाबले में 102 और 1986 में लीड्स में 102 रनों पर आउट हो चुकी है. 

स्टोक्स ने गेंद पर लार लगाई, अंपायर ने की बात

इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स को भारत के खिलाफ दिन/रात्रि तीसरे टेस्ट के शुरुआती दिन गेंद पर लार लगाते हुए देखा गया, जिसके बाद गेंद को सैनिटाइज करना पड़ा.

यह घटना 12वें ओवर के अंत में हुई जब स्टोक्स गेंद को चमकाने के लिए लार का इस्तेमाल करते दिखे, जिससे अंपायर नितिन मेनन को उनसे बात करनी पड़ी. गेंद को फिर सैनिटाइज किया गया.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने पिछले साल जून में कोविड-19 महामारी के चलते गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया था.

आईसीसी के कोविड-19 दिशा-निर्देशों के अंतर्गत एक टीम को प्रत्येक पारी में दो बार चेतावनी दी जा सकती है, लेकिन गेंद पर बार बार लार लगाने से पांच रन की पेनल्टी लगेगी जो बल्लेबाजी कर रही टीम को मिलेंगे.

जब भी गेंदबाज गेंद पर लार लगाएगा, तो अंपायरों को गेंद से खेल शुरू करने से पहले इसे साफ करना होगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें