scorecardresearch
 

केदारनाथ धाम गए चार यात्री हुए लापता, तीन टीमें चला रही हैं सर्च ऑपरेशन

केदारनाथ धाम के दर्शन करने के बाद चारों यात्री वासुकीताल और फिर यहां से त्रियुगीनारायण ट्रैकिंग करने गए थे. जबकि इनका पांचवा साथी वापस सोनप्रयाग आ गया था. दो दिनों तक चारों लोगों के न पहुंचने पर इनके साथी ने सोनप्रयाग थाने में सूचना दी.

यात्रियों को ढूंढने के लिए सर्च ऑपरेशन चला रही हैं टीमें (फोटो- प्रवीण सेमवाल) यात्रियों को ढूंढने के लिए सर्च ऑपरेशन चला रही हैं टीमें (फोटो- प्रवीण सेमवाल)

  • घने कोहरे के बीच सर्च ऑपरेशन चलाने में दिक्कत
  • हेलिकॉप्टर से भी की जा रही खोजबीन, सुराग नहीं

केदारनाथ धाम की यात्रा पर आए चार यात्री लापता हो गए हैं. यात्री केदारनाथ धाम से वासुकीताल-त्रियुगीनारायण पैदल ट्रैक पर गए थे. लापता हुए यात्रियों का पता लगाने के लिए तीन टीमें जंगल में सर्च अभियान चला रही हैं. यात्रियों को ढूंढने के लिए हेलिकॉप्टर से भी उनकी खोजबीन की गई. बारिश और घने कोहरे के बीच सर्च ऑपरेशन चलाने में दिक्कतें हो रही हैं.

अभी तक यात्रियों का कोई सुराग नहीं मिला है. पुलिस, एसडीआरएफ और स्थानीय गाइड की तीन टीमें दो दिनों से जंगल में खोजबीन कर रही हैं. दरअसल, 13 जुलाई को देहरादून और नैनीताल जिले के हिमांशु गुरूंग, हर्ष भंडारी, मोहित भट्ट और जगदीश भट्ट दर्शन के लिए केदारनाथ गए थे.

स्थानीय गाइडों की टीमें सर्च ऑपरेशन के लिए बनाई गई

जानकारी के मुताबिक, केदारनाथ धाम के दर्शन करने के बाद चारों यात्री वासुकीताल और फिर यहां से त्रियुगीनारायण ट्रैकिंग करने गए थे. जबकि इनका पांचवा साथी वापस सोनप्रयाग आ गया था. दो दिनों तक चारों ट्रैकरों के न पहुंचने पर इनके साथी ने सोनप्रयाग थाने में सूचना दी. जिसके बाद एसडीआरएफ, डीडीआरएफ, पुलिस और स्थानीय गाइडों की टीमें सर्च ऑपरेशन के लिए बनाई गई.

RIL AGM: Jio-Google ने मिलाया हाथ, भारत को बनाएंगे 2G मुक्त

दो दिन से तीन टीमें केदारनाथ और त्रियुगीनारायण के जंगलों में सर्च ऑपरेशन चला रही हैं, लेकिन लापता यात्रियों का कुछ पता नहीं चल पाया है. बुधवार सुबह देहरादून से हेलिकॉप्टर भी जंगल में सर्च ऑपरेशन के लिए भेजा गया, लेकिन कोई सफलता नहीं मिल पाई. जंगल में लगातार मौसम खराब हो रहा है. बारिश और घने कोहरे के बीच खोजबीन करने में दिक्कतें आ रही हैं. खोज-बचाव टीम जंगल में ही रुकी हुई हैं.

सचिन पायलट सरकार गिराने के लिए किस्तों की डील कर रहे थे, मेरे पास प्रूफ हैं: गहलोत

रुद्रप्रयाग की जिलाधिकारी वंदना सिंह का कहना है कि यात्री सोनप्रयाग से रजिस्ट्रेशन कराने के बाद केदारनाथ दर्शन करने के लिए गए थे. 13 जुलाई सुबह यात्रियों के लापता होने की सूचना मिली थी. जिसके बाद से लगातार सर्च अभियान चलाया जा रहा है. यात्रियों का अभी कुछ पता नहीं चल पा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें