scorecardresearch
 

चीन पर मिलिंद देवड़ा ने बढ़ाई कांग्रेस की मुश्किल, पहले भी दे चुके हैं पार्टी से हटकर बयान

कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा ने शनिवार को अपनी पार्टी को नसीहत दे डाली और एकबार फिर कांग्रेस को मुश्किल में डाल दिया. उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि चीनी हिमाकत में बढ़ोतरी का मामला देश में राजनीतिक कीचड़ उछालने में खराब हो गया.

कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा (फोटो- PTI) कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा (फोटो- PTI)

  • मिलिंद देवड़ा ने पार्टी लाइन से हटकर दिया बयान
  • भारत-चीन तनाव पर कांग्रेस को मुश्किल में डाला

गलवान घाटी में भारत के 20 सैनिकों के शहीद होने के बाद कांग्रेस मोदी सरकार पर हमलावर है. पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी खासतौर से सरकार के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं. राहुल के अलावा कांग्रेस के अन्य नेता भी सरकार को निशाने पर ले रहे हैं. लेकिन कांग्रेस पार्टी में एक ऐसा युवा चेहरा भी है जो कई मौके पर खुलकर मोदी सरकार की तारीफ कर चुका है और पार्टी लाइन से हटकर बयान देता आया है. महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता और पूर्व मंत्री मिलिंद देवड़ा ने चीन के मसले पर भी कुछ ऐसा ही किया है.

मिलिंद देवड़ा ने शनिवार को अपनी पार्टी को नसीहत दे डाली और एकबार फिर कांग्रेस को मुश्किल में डाल दिया. उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि चीनी हिमाकत में बढ़ोतरी का मामला देश में राजनीतिक कीचड़ उछालने में खराब हो गया. जब हमें चीन की हरकतों की निंदा और समाधान की तलाश में एकजुट होना चाहिए, तब हम आपसी फूट को उजागर कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- शरद पवार ने राहुल को दिखाया आईना, कहा- नहीं भूल सकते 1962, चीन ने हड़पी थी जमीन

ये कोई पहला मौका नहीं है कि मिलिंद देवड़ा ने पार्टी लाइन से हटकर बयान दिया हो. उन्होंने इससे पहले अमेरिका में हाउडी मोदी कार्यक्रम, अनुच्छेद 370 जैसे मुद्दे पर पार्टी लाइन से हटकर बयान दिया था.

370 पर दिया था ये बयान

भले ही कांग्रेस ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने और जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल का जमकर विरोध किया हो, लेकिन मिलिंद देवड़ा के सुर तो अलग ही थे. उन्होंने कहा कि पार्टियों को अपनी विचारधारा से अलग हटकर इस पर बहस करनी चाहिए कि भारत की संप्रभुता और संघवाद, जम्मू-कश्मीर में शांति, कश्मीरी युवाओं को नौकरी और कश्मीरी पंडितों के न्याय के लिए बेहतर क्या है.

ये भी पढ़ें-चीन के खिलाफ एकजुट होने की बजाय आपसी फूट को कर रहे उजागर: मिलिंद देवड़ा

अमेरिका में पीएम मोदी के कार्यक्रम की तारीफ

अमेरिका में हुए हाउडी मोदी कार्यक्रम को लेकर एक ओर जहां कांग्रेस सरकार पर निशाना साध रही थी तो वहीं मिलिंद देवड़ा मोदी सरकार की तारीफ करते दिखे थे. उन्होंने कहा कि ह्यूस्टन में प्रधानमंत्री का भाषण भारत की सॉफ्ट पावर डिप्लोमेसी को दर्शाता है. मेरे पिता मुरलीभाई की गिनती भारत-अमेरिका के संबंधों को नई ऊंचाई पर ले जाने वालों में होती है. डोनाल्ड ट्रंप की मेहमाननवाजी और भारतीय-अमेरिकियों के योगदान को स्वीकारना गर्व की बात है.

केजरीवाल सरकार की तारीफ

अपने बेबाक बयान के लिए जाने जाने वाले मिलिंद देवड़ा ने दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान केजरीवाल सरकार की भी तारीफ की थी. मिलिंद देवड़ा ने रेवेन्यू को लेकर दिल्ली सरकार को सराहा था.

उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार ने पिछले पांच साल में रेवेन्यू को डबल कर दिया गया है और अब ये 60 हजार करोड़ तक पहुंच गई है. दिल्ली अब भारत का आर्थिक रूप से सबसे सक्षम राज्य बन रहा है. उनके इस बयान पर अजय माकन ने पलटवार किया था.

बता दें कि मिलिंद देवड़ा महाराष्ट्र कांग्रेस के दिग्गज नेता मुरली देवड़ा के बेटे हैं. मिलिंद 2004 से 2014 तक दो बार सांसद रहे हैं. उन्होंने दक्षिण मुम्बई संसदीय सीट का प्रतिनिधित्व किया था.

मिलिंद देवड़ा ने मनमोहन सिंह सरकार के दूसरे कार्यकाल के आखिरी तीन साल के दौरान केंद्रीय राज्य मंत्री की जिम्मेदारी संभाली है. मिलिंद देवड़ा ने पिछली साल 7 जुलाई को मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष पद से हटने की इच्छा जताते हुए अपना इस्तीफा दे दिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें