scorecardresearch
 

कांग्रेस का दामन छोड़ने वालीं सुष्मिता देव को TMC भेजेगी राज्यसभा

पिछले महीने अगस्त में कांग्रेस का दामन छोड़ने वालीं नेता सुष्मिता देव को अब ममता की पार्टी टीएमसी में बड़ी जिम्मेदारी मिलने वाली है. टीएमसी ने सुष्मिता को राज्यसभा भेजने का मन बना लिया है. उन्हें नॉमिनेट कर दिया गया है और ट्विटर के जरिए इसकी जानकारी भी दे दी गई है.

सुष्मिता देव को TMC भेजेगी राज्यसभा सुष्मिता देव को TMC भेजेगी राज्यसभा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कांग्रेस का दामन छोड़ने वालीं सुष्मिता देव को बड़ा मौका
  • सुष्मिता देव को TMC भेजेगी राज्यसभा

पिछले महीने अगस्त में कांग्रेस का दामन छोड़ने वालीं नेता सुष्मिता देव को अब ममता की पार्टी टीएमसी में बड़ी जिम्मेदारी मिलने वाली है. टीएमसी ने सुष्मिता को राज्यसभा भेजने का मन बना लिया है. उन्हें नॉमिनेट कर दिया गया है और ट्विटर के जरिए इसकी जानकारी भी दे दी गई है.

कांग्रेस का दामन छोड़ने वालीं सुष्मिता देव को बड़ा मौका

टीएमसी ने ट्वीट में कहा है कि ममता बनर्जी का एक ही उदेश्य है कि महिलाएं सशक्त बनें, रानजीति में उनकी सबसे ज्यादा भागीदारी रहे. उनका ये कदम उस उदेश्य को पूरा करने में मददगार रहेगा. खुद सुष्मिता देव ने भी टीएमसी के इस फैसले पर खुशी जाहिर कर दी है. उन्होंने ममता को अपना नेता बताते हुए कहा है कि वे पूरी शिद्दत के साथ राज्यसभा में लड़ने वाली हैं.

क्यों छोड़ी थी कांग्रेस?

जानकारी के लिए बता दें कि पिछले महीने 16 अगस्त को सुष्मिता देव ने कांग्रेस पार्टी छोड़ दी थी. जिस समय उन्होंने कांग्रेस का दामन छोड़ा था, तब वे बतौर महिला विंग की अध्यक्ष काम कर रही थीं. जिस समय बंगाल और असम में विधानसभा चुनाव चल रहे थे, तब सुष्मिता कांग्रेस के कई फैसलों से नाराज बताई जा रही थीं. ऐसे में ठीक समय देखते हुए उन्होंने कांग्रेस को छोड़ टीएमसी में शामिल होने का मन बना लिया. फिर बाद में अभिषेक बनर्जी के सामने ही उन्होंने तृणमूल की सदस्यता ली और ममता को अपना नेता चुन लिया.

अब सुष्मिता देव की राज्यसभा में जाने की तैयारी है. 9 सितंबर को ही  राज्यसभा की कुछ सीटों के लिए उपचुनाव का ऐलान किया गया है. वोटिंग चार अक्टूबर को होने वाली है. इसमें बंगाल, असम, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश जैसे राज्य शामिल हैं. इसी कड़ी में टीएमसी ने सुष्मिता देव को अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है. अब वे जीतती हैं या नहीं, ये चार अक्टूबर को ही साफ हो जाएगा क्योंकि चुनाव आयोग द्वारा बताया गया है कि मतदान और नतीजे एक ही दिन में आ जाएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें