scorecardresearch
 
मनोरंजन

ये होती ऋषि कपूर की आखिरी फिल्म, लॉकडाउन की वजह से रुकी थी शूटिंग

ये होती ऋषि कपूर की आखिरी फिल्म, लॉकडाउन की वजह से रुकी थी शूटिंग
  • 1/7
ऋष‍ि कपूर अपनी मौत के बाद भी कुछ काम अधूरे छोड़ गए हैं. कैंसर से ठीक होकर लौटने के बाद जब उन्हें दूसरी जिंदगी मिली तो वे अपने काम यानी बॉलीवुड वापस लौट गए. यहां उन्होंने इमरान खान के साथ द बॉडी में काम किया. इसके बाद वे एक और फिल्म शर्मा जी नमकीन बना रहे थे जिसे अभी पूरा करना बाकी रह गया था.

ये होती ऋषि कपूर की आखिरी फिल्म, लॉकडाउन की वजह से रुकी थी शूटिंग
  • 2/7
ये ऋषि कपूर की आखिरी फिल्म 'शर्मा जी नमकीन' की शूटिंग की तस्वीरें हैं जिस अभिनेता गुफी पैंटल ने शेयर की है. इस फिल्म में ऋषि कपूर के साथ जूही चावला काम कर रही थीं.  हाल ही में दिल्ली में इस फिल्म ही शूटिंग हुई थी.

ये होती ऋषि कपूर की आखिरी फिल्म, लॉकडाउन की वजह से रुकी थी शूटिंग
  • 3/7
इसी दौरान उनकी तबीयत भी खराब हो गई थी और वो वापस मुंबई लौट आए थे. फिल्म की शूट‍िंग दोबारा शुरू होने से पहले लॉकडाउन लग गया जिस कारण यह अधूरा रह गया.

ये होती ऋषि कपूर की आखिरी फिल्म, लॉकडाउन की वजह से रुकी थी शूटिंग
  • 4/7
गुफी ने ऋषि के साथ अपने करियर के शुरुआती दिन में काम किया था और अब फिल्म में दोनों साथ नजर आने वाले थे.

ये होती ऋषि कपूर की आखिरी फिल्म, लॉकडाउन की वजह से रुकी थी शूटिंग
  • 5/7
ये एक कॉमेडी फिल्म है और अब ऋषि के जाने के बाद फिल्म के अस्तित्व खतरे में है. पहले लॉकडाउन और अब ऋषि कपूर के निधन के बाद फिल्म को नए सिरे से शुरू करने की कयास लगाए जा रहे हैं.

ये होती ऋषि कपूर की आखिरी फिल्म, लॉकडाउन की वजह से रुकी थी शूटिंग
  • 6/7
जूही चावला और ऋषि कपूर नब्बे के दिनों की हिट जोड़ी थी. बोल राधा बोल, साजन का घर, रिश्ता हो तो ऐसा, घर की इज्जत, इना मीना डीका और दरार जैसी फिल्मो में दोनों ने साथ काम किया था. जूही और ऋषि 2009 में जोया अख्तर की फिल्म लब बाय चांस में एक साथ आख‍िरी बार दिखे थे.

ये होती ऋषि कपूर की आखिरी फिल्म, लॉकडाउन की वजह से रुकी थी शूटिंग
  • 7/7
शर्मा जी नमकीन को फरहान अख्तर की कंपनी एक्सेल एंटरटेनमेंट बना रही थी,  जिन्होंने लब बाय चांस बनाई थी. फिल्म का निर्देशन हितेश बत्रा कर रहे थे. मशहूर फिल्ममेकर अभिषेक चौबे और कास्टिंग डायरेक्टर हनी त्रेहान भी इस फिल्म के ज्वॉइंट प्रोड्यूसर्स थे.