scorecardresearch
 

कंगना रनौत की चेतावनी- मैं क्षत्राणी हूं, सि‍र कटा सकती हूं, झुका नहीं सकती

कंगना रनौत ने अपने ट्वीट में लिखा, "मान, सम्मान, स्वाभिमान के साथ जी हूं और गर्व से राष्ट्रवादी बनकर जीती रहूंगी. सिद्धांत के साथ नहीं कभी समझौता की हूं नहीं कभी करूंगी."

कंगना रनौत कंगना रनौत

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत जब से सोशल मीडिया पर आई हैं तब से वह तकरीबन हर बात पर अपनी प्रतिक्रिया देती रहती हैं. एक तरफ जहां उन्होंने महाराष्ट्र सरकार के पंगा ले रखा है वहीं दूसरी तरफ हाल ही में उन्होंने संसद में जया बच्चन के बयान पर प्रतिक्रिया देकर भूचाल खड़ा कर दिया था. कंगना ने सीधे तौर पर कहा कि अगर आपका बेटा फांसी के फंदे पर लटका होता क्या तब भी आप यही बात कहतीं.

कंगना और महाराष्ट्र सरकार के बीच का विवाद काफी ज्यादा बढ़ चुका है. एक तरफ जहां कंगना पीछे हटने को तैयार नहीं हैं वहीं दूसरी तरफ महाराष्ट्र सरकार भी बैकफुट पर जाती नहीं दिख रही. हाल ही में कंगना रनौत ने एक ट्वीट कर कहा, "मैं एक क्षत्राणी हूं. सर कटा सकती हूं, लेकिन सर झुका सकती नहीं. राष्ट्र के सम्मान के लिए हमेशा आवाज बुलंद करती रहूंगी."

कंगना रनौत ने अपने ट्वीट में लिखा, "मान, सम्मान, स्वाभिमान के साथ जी हूं और गर्व से राष्ट्रवादी बनकर जीती रहूंगी. सिद्धांत के साथ नहीं कभी समझौता की हूं नहीं कभी करूंगी. जय हिंद." कंगना के इस ट्वीट को खूब रीट्वीट और लाइक्स मिल रहे हैं. मालूम हो कि कंगना रनौत की शिवसेना के साथ बहस सुशांत सिंह रापजूत सुसाइड मामले को लेकर शुरू हुई थी.

मामला जो सोशल मीडिया पर जुबानी बहस से शुरू हुआ था वो धीरे-धीरे व्यापक रूप ले गया. BMC ने कंगना के करोड़ो के दफ्तर पर बुलडोजर चला दिया वहीं दूसरी तरफ शिवसेना को चुनौती देती हुईं कंगना जब मुंबई पहुंचीं तो हजारों की तादात में शिवसेना के समर्थक एयरपोर्ट पर उनका विरोध करने के लिए पहुंच गए. शिवसेना समर्थकों ने कंगना रनौत वापस जाओ के नारे लगाए.

हालांकि कंगना को एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ ने दूसरे रास्ते से वहां से निकाल दिया जिसके बाद मामला शांत हुआ. आज तक ने जब विरोध प्रदर्शन करने आए लोगों से इस सिलसिले में बात की तो ज्यादातर लोगों का यही कहना था कि उन्हें कंगना के इस बयान पर आपत्ति है कि उन्होंने मुंबई को पाकिस्तान और पीओके कहा. 

ये भी पढ़ें-

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें