scorecardresearch
 

Exams in Corona: छात्रों के समर्थन में आईं प्र‍ियंका गांधी, CBSE से परीक्षाएं निरस्‍त या रीशेड्यूल करने की मांग

Exams in Corona: प्रियंका गांधी ने CBSE बोर्ड परीक्षाओं पर टिप्पणी करते हुए छात्रों का पक्ष लिया और कहा कि यह बोर्ड के लिए गैर जिम्मेदाराना है कि छात्रों को परीक्षा में बैठने के लिए मजबूर किया जाए.

Priyanka Gandhi Vadra (File Photo) Priyanka Gandhi Vadra (File Photo)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • CBSE बोर्ड परीक्षाएं 04 मई से शुरू होनी हैं
  • परीक्षाएं ऑफलाइन माध्‍यम में आयोजित की जाएंगी

Exams in Corona: कोरोना के बीच बोर्ड परीक्षाओं को गलत बताते हुए रद्द करने की मांग कर रहे छात्रों के समर्थन में अब प्र‍ियंका गांधी भी आ गई हैं. उन्‍होंने CBSE बोर्ड परीक्षाओं पर टिप्पणी करते हुए छात्रों का पक्ष लिया और कहा कि यह बोर्ड के लिए गैर जिम्मेदाराना है कि छात्रों को परीक्षा में बैठने के लिए मजबूर किया जाए. CBSE Board 2021 परीक्षाओं को या तो रद्द किया जाए, रीशेड्यूल किया जाए या फिर इस प्रकार आयोजित किया जाए जिससे छात्रों को भीड़भाड़ वाले एग्‍जाम सेंटर्स पर फिजिकली पहुंचकर पेपर न देना पड़े. 

प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्विटर पर कहा, "जबकि कोरोना हमारे देश में भयानक रूप ले रहा है, ऐसे में परीक्षा का अतिरिक्त दबाव बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित कर रहा है. हमारी शिक्षा प्रणाली को अपने दृष्टिकोण में बदलाव करने की जरूरत है और केवल अपने कॉन्‍क्‍लेव और कॉन्‍फ्रेंस में बात करने के बजाय वास्‍तव में बच्चों के प्रति संवेदनशीलता दिखाने की जरूरत है."

बता दें कि पिछले कुछ दिनों से छात्र सोशल मीडिया पर #cancelboardexams हैशटैग के साथ ट्वीट कर शिक्षा मंत्रालय से बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने की मांग कर रहे हैं. 1 लाख से अधिक छात्रों ने एक पिटीशन भी साइन की है जिसमें शिक्षा विभाग से परीक्षाएं रद्द करने की अपील की जा रही है. छात्रों को कहना है कि महामारी के समय में परीक्षाएं आयोजित करना छात्रों के शारिरिक और मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य दोनो के लिए खतरनाक है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें