scorecardresearch
 

School Reopen: दिल्ली में 10वीं-12वीं के स्कूल आज से खोलने की परमिशन, मैनेजमेंट को नोटिस का इंतजार

School Reopen: स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग के विशेषज्ञों की समिति एसओपी और उसके कार्यान्वयन पर निर्णय करेगी. इसके अलावा शिक्षकों और स्कूल कर्मचारियों के टीकाकरण के संबंध में निर्णय लेगी.

X
प्रतीकात्मक फोटो (Getty) प्रतीकात्मक फोटो (Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने किया स्कूल खोलने का फैसला
  • कक्षा 10 और 12 के लिए आंशिक रूप से खुलेंगे स्कूल

School Reopen: देश के बाकी हिस्सों की तरह दिल्ली में भी कोरोना संक्रमण के चलते लंबे वक्त से स्कूल बंद हैं, जिन्हें अब धीरे-धीरे खोलने की प्लानिंग है. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने रविवार को यह आदेश जारी किया कि 9 अगस्त यानी आज से स्कूलों को कक्षा 10 और 12 के लिए आंशिक रूप से खोला जा सकता है. लेकिन अभी स्कूलों में इसको लेकर कन्फ्यूजन की स्थिति बनी हुई है. दरअसल, दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण का आदेश अभी स्कूलों तक पहुंचा नहीं है. इस वजह से सभी स्कूलों को आंशिक रूप से खुलने में भी अभी हफ्ते भर का वक्त लग सकता है.

बता दें कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने रविवार को आदेश जारी किया कि छात्र बोर्ड परीक्षा से संबंधित काउंसलिंग या मार्गदर्शन और व्यावहारिक गतिविधियों सहित प्रवेश संबंधी कार्यों के लिए अपने स्कूलों का दौरा कर सकते हैं.

वहीं दिल्ली सरकार ने फैसला किया है कि विशेषज्ञों की एक कमेटी इस बात का आकलन करेगी कि दिल्ली में छोटे बच्चों के स्कूल खोले जाएं या नहीं. स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग के विशेषज्ञों की समिति एसओपी और उसके कार्यान्वयन पर निर्णय करेगी. इसके अलावा शिक्षकों और स्कूल कर्मचारियों के टीकाकरण के संबंध में निर्णय लेगी. अभी भी सभी कक्षाओं के लिए स्कूल फिर से खोलने की तारीख पर फैसला किया जाना बाकी है.

अन्य राज्यों में भी स्कूल खोलने की तैयारी

बिहार में प्राइमरी से लेकर हायर सेकंडरी तक यानी कक्षा 1 से 10 तक के सभी स्‍कूलों को अगस्‍त के दूसरे सप्‍ताह से खोलने की उम्मीद है. राज्‍य के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी के बयान के अनुसार अगर राज्य में स्थितियां अनुकूल रहीं तो अगस्‍त के दूसरे सप्‍ताह से स्‍कूल खोलने की खातिर आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में फैसला लिया जाएगा. बता दें कि यहां 11वीं और 12वीं के स्कूल जुलाई में ही खोले जा चुके हैं. 

पंजाब में भी कोरोना के मामले काफी कम हुए हैं. इसलिए राज्य में फिलहाल 26 जुलाई से कक्षा 10, 11 और 12 के स्‍कूल खुल रहे हैं. लेकिन राज्य में इसे लेकर अलग ही नियम लागू है. यहां सिर्फ उन्‍हीं टीचर्स और स्‍टाफ को स्‍कूल में एंट्री मिलेगी जो पूरी तरह वैक्‍सीनेट हो चुके होंगे. स्‍टूडेंट्स स्‍कूल आएं या नहीं, इसपर पैरंट्स का निर्णय अंतिम होगा.

बता दें कि आईसीएमआर और तमाम स्वास्थ्य विशेषज्ञ दूसरी लहर के बाद बच्चों के लिए स्कूल खोलने की सिफारिश कर चुके हैं.  एम्स निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने भी कहा है कि छोटे बच्‍चे कोविड-19 से लड़ने में कहीं ज्‍यादा सक्षम हैं. कई राज्‍य इसी का हवाला देकर स्‍कूल खोल रहे हैं. ये प्रोटोकॉल लागू होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें