scorecardresearch
 

कोरोना को हराएगा भारत! वैक्सीनेशन का 95 करोड़ डोज का आंकड़ा पार, अब टारगेट 100 करोड़

देश में अब तक 95 करोड़ से अधिक टीके लगाए जा चुके हैं. अब अगला टारगेट 100 करोड़ का है, जिसे माना जा रहा है कि जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा.

कोविड वैक्सीन कोविड वैक्सीन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • देश में 95 करोड़ टीके लगे, अगला टारगेट 100 करोड़
  • देश में वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत 16 जनवरी से हुई थी

दुनिया में कोरोना महामारी की शुरुआत हुए दो साल पूरे होने वाले हैं. अब तक कई लाखों लोगों की जान जा चुकी है, लेकिन वैक्सीनेशन अभियान तेज होने से लोगों को काफी राहत मिली है. भारत में भी तेज गति से वैक्सीनेशन अभियान चल रहा है. रविवार को एक अहम उपलब्धि भारत ने हासिल की है. दरअसल, देश में अब तक 95 करोड़ से अधिक टीके लगाए जा चुके हैं. अब अगला टारगेट 100 करोड़ का है, जिसे माना जा रहा है कि जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा.

वैज्ञानिकों से लेकर एक्सपर्ट्स तक दावा कर चुके हैं कि कोरोना महामारी की रोकथाम में वैक्सीनेशन ही सबसे ज्यादा कारगर रहने वाला है. ऐसे में भारत जल्द से जल्द अपना अभियान पूरा कर लेना चाहता है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने रविवार को 95 करोड़ वैक्सीनेशन के डोज पूरा होने की जानकारी दी.

मंडाविया ने ट्वीट किया, ''दुनिया का सबसे सफल वैक्सीनेशन अभियान तेजी से चल रहा है. भारत में कोविड-19 वैक्सीन की 95 करोड़ डोज पूरी हो चुकी हैं. 100 करोड़ वैक्सीन की डोज की दिशा में तेजी से बढ़ रहे हैं.'' भारत में रविवार को 45 लाख से अधिक वैक्सीन की डोज रात दस बजे तक लगाई जा चुकी हैं. वहीं, सबसे ज्यादा डोज लगाने का आंकड़ा ढाई करोड़ से अधिक है, जिसे पीएम मोदी के जन्मदिन पर लगाया गया था.

बता दें कि देश में वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत 16 जनवरी से हुई थी. उस दौरान दो टीकों को इजाजत मिली थी. एक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड और दूसरी भारत बायोटेक की कोवैक्सीन थी. इसके बाद रूस की स्पुतनिक वैक्सीन को भी मंजूरी दे दी गई. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें