scorecardresearch
 

क्या वाकई मार्च के बाद कोरोना वैक्सीन का ऑर्डर नहीं दिया गया? ये है सच्चाई

मीडिया में ये खबरें आई थीं कि सरकार ने मार्च के बाद से केंद्र सरकार ने कोरोना वैक्सीन बना रही दोनों कंपनियों को ऑर्डर नहीं दिया. इन रिपोर्ट्स का सरकार की तरफ से भी खंडन हो चुका है और अब सीरम इंस्टीट्यूट ने भी इन मीडिया रिपोर्ट्स को खारिज किया है.

सरकार ने कोविशील्ड और कोवैक्सीन के लिए मई, जून और जुलाई का एडवांस दिया है. (फाइल फोटो-PTI) सरकार ने कोविशील्ड और कोवैक्सीन के लिए मई, जून और जुलाई का एडवांस दिया है. (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मार्च के बाद वैक्सीन का ऑर्डर नहींः मीडिया रिपोर्ट्स
  • सरकार ने कहा- कोविशील्ड को 1,732 करोड़ एडवांस दिए
  • बताया- कोवैक्सीन को भी 787.50 करोड़ रुपए दिए

कोरोना वैक्सीन को लेकर मीडिया में चल रही खबरों का सरकार और सीरम इंस्टीट्यूट ने खंडन किया है. मीडिया में खबरें चल रही थीं कि मार्च के बाद से केंद्र सरकार ने वैक्सीन बना रही दोनों कंपनियों को ऑर्डर नहीं दिया है. इस पर सरकार की तरफ से कहा गया है कि दोनों कंपनियों को मई, जून और जुलाई में वैक्सीन की डिलीवरी के लिए एडवांस भी दिया जा चुका है. कोविशील्ड बना रही सीरम इंस्टीट्यूट ने भी वैक्सीन ऑर्डर को लेकर आई खबरों को खारिज किया है. 

दरअसल, देश में वैक्सीनेशन का तीसरा फेज शुरू हो चुका है, लेकिन वैक्सीन की कमी भी बढ़ गई है. पिछले कुछ दिनों से वैक्सीन की कमी की वजह से वैक्सीनेशन प्रोग्राम भी स्लो पड़ गया है. ऐसे में मीडिया में खबरें आईं कि सरकार ने मार्च के बाद से ही दोनों कंपनियों को वैक्सीन का ऑर्डर नहीं दिया है. इस वजह से देश में वैक्सीन की कमी पड़ रही है. लेकिन सरकार और सीरम दोनों ने ही इन रिपोर्ट्स को खारिज किया है.

सरकार ने क्या कहा?
केंद्र सरकार ने बताया कि कोविशील्ड बना रही सीरम इंस्टीट्यूट और कोवैक्सीन बना रही भारत बायोटेक को मई, जून और जुलाई में वैक्सीन की डिलीवरी के लिए 100% एडवांस दिया जा चुका है. सरकार का कहना है कि उसने सीरम को कोविशील्ड की 11 करोड़ डोज के लिए 1,732.50 करोड़ रुपए दिए हैं. ये रकम 28 अप्रैल 2021 को जारी की गई है. इसी तरह भारत बायोटेक को भी कोवैक्सीन के 5 करोड़ डोज के लिए 787.50 करोड़ रुपए दिए गए हैं. इसलिए ये कहना कि सरकार ने वैक्सीन के लिए मार्च के बाद से कोई ऑर्डर नहीं दिया, सही नहीं है.

सरकार ने बताया कि सीरम को कोविशील्ड के लिए आखिरी ऑर्डर 10 करोड़ वैक्सीन डोज का दिया गया था और 3 मई तक 8.74 करोड़ डोज मिल चुके हैं. जबकि, भारत बायोटेक को 2 करोड़ का ऑर्डर दिया गया था, जिसमें से 0.88 करोड़ डोज आज की तारीख तक मिल चुके हैं.

सीरम इंस्टीट्यूट ने क्या कहा?
वहीं, सीरम इंस्टीट्यू ने भी सरकार के इस बयान का समर्थन किया है और मीडिया में चल रही खबरों को खारिज किया है. सीरम इंस्टीट्यूट ने ट्वीट कर लिखा, "हम सरकार के इस कथन का समर्थन करते हैं. हम पिछले एक साल से भारत सरकार के साथ मिलकर काम कर रहे हैं और भारत सरकार के सहयोग के लिए धन्यवाद भी करते हैं. हम लोगों की जिंदगी बचाने के लिए वैक्सीन प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए कमिटेड हैं."

राज्यों को अब तक 16.54 करोड़ डोज दिए
केंद्र सरकार के मुताबिक, 2 मई तक राज्यों को कोरोना वैक्सीन के 16.54 करोड़ डोज दिए जा चुके हैं. इसके लिए राज्यों से कोई कीमत भी नहीं ली गई है. 2 मई तक राज्यों के पास 78 लाख डोज का स्टॉक बचा है. सरकार ने बताया कि अगले तीन दिनों में वैक्सीन के 56 लाख डोज राज्य सरकारों को मिल जाएंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें