पतली कमर चाहिए? तो तुरंत खाने की इन 10 चीजों से बना लें दूरी

अगर आपका पेट ज्यादा तेजी से निकल रहा है तो ज्यादा शुगर और कार्बोहाइड्रेट वाली चीजें खाना तुरंत बंद कर देना चाहिए.

जानें, खाने की कौन सी चीजें तेजी से बढ़ाती हैं बैली फैट
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 26 फरवरी 2020,
  • अपडेटेड 5:51 PM IST

अगर आप अपना पेट कम करना चाह रहे हैं तो केवल एक्सरसाइज ही नहीं बल्कि अपनी डाइट का भी खास ख्याल रखें. आप कुछ भी खाते हैं तो उससे आपके पूरे शरीर में फैट बढ़ता है केवल बैली में ही नहीं. इसलिए आपको अपने पूरे शरीर को फिट रखना होगा. जिन चीजों में शुगर, कार्बोहाइड्रेट की मात्रा ज्यादा होती है, उन्हें खाना तुरंत बंद कर देना चाहिए. आइए जानते हैं पेट अंदर करने के लिए कौन सी चीजों को खाने से बचना चाहिए...

स्वीट्स-

कैंडी और अन्य तरह की मिठाइयां कुछ और नहीं बल्कि कैलोरी ही है. छोटी-छोटी टॉफी और कैंडीज कैलोरी इनटेक में बिल्कुल कम नहीं होती हैं इसलिए इनसे दूरी बनाए रखें.

इसी तरह सोडा ड्रिंक और कोक भी आपकी सेहत का दुश्मन है. कई लोगों को लंच या डिनर के बाद सोडा ड्रिंक की आदत होती है. अगर आप इसे सीधे पानी या आइस्ड टी से रिप्लेस कर दें तो अपने आप आपकी डाइट से एक सप्ताह के अंदर कई सौ कैलोरी कम कर सकते हैं.

पढ़ें: येलो टाई-ब्लैक सूट में ट्रंप, जंपसूट में मेलानिया और फ्रॉक में दिखीं इवांका

फास्ट फूड-

एक बार का फास्ट फूड भी आपके लिए महंगे का सौदा साबित हो सकता है. यह कम से कम 2000 कैलोरी जोड़ता है. जबकि इतनी कैलोरी पूरे दिन में लेने की सलाह दी जाती है. इसके अलावा फास्ट फूड में बैड फैट्स ज्यादा और पोषक तत्व बहुत कम होते हैं.

एल्कोहॉल-

कई रिसर्च से पता चलता है कि दिन में एक बार एल्कोहॉल का सेवन करने से आपको दिल की बीमारी का खतरा कम हो जाता है. जबकि एल्कोहॉल से दो समस्याएं पैदा होती है, एक तो इसमें हाई कैलोरी होती है और कम पोषक तत्व. एल्कोहॉल के ज्यादा सेवन से हजारों कैलोरी ऐड हो सकती हैं.

दुग्ध उत्पाद-

दुग्ध उत्पादों को कैल्शियम का अच्छा स्त्रोत माना जाता है लेकिन ये कार्बोहाइड्रेट और बैड फैट्स के मामले में भी आगे होते हैं. अगर आप अपना बेली घटाना चाह रहे हैं तो आप कैल्शियम की जरूरी मात्रा हरी सब्जियों से लें और दुग्ध उत्पादों से दूर रहें.

पढ़ें: ना हो प्रोटीन की कमी, शाकाहारियों को जरूर खानी चाहिए ये 10 चीजें

रिफाइन्ड ग्रेन्स-

रिफाइन्ड ग्रेन्स शुद्ध कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं और शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ाते हैं. इसके बजाए समूचा अनाज खाएं.

फलों का जूस-

फलों के जूस में भले ही कितने पोषक तत्व क्यों ना हो लेकिन इसमें शुगर की भी काफी मात्रा होती है. सुबह में एक गिलास जूस पीने से तो कोई खास नुकसान नहीं होता है लेकिन आप इसे नियमित पेय पदार्थ की तरह इस्तेमाल ना करें.

आलू-

एक पका हुआ आलू खाने का मतलब है कि आप सीधे एक चम्मच चीनी खा रहे हैं. जब इसकी हाई शुगर खप जाती हैं तो आपको और तेजी से भूख लगती है और आप ज्यादा खाने लेते हैं.

स्नैक फूड्स- चिप्स या ऐसे ही दूसरे स्नैक्स भी मिठाई की तरह ही कैलोरी बढ़ाते हैं. खाने के बीच में हेल्दी स्नैक्स खाएं.

हाई फ्रक्टोज कॉर्न सीरप-

इससे मिठाई और रिफाइन्ड ग्रेन दोनों से होने वाली समस्याएं एक साथ होती है. इसलिए इसे लेने से बचना चाहिए.

फ्लैट टमी चाहते हैं तो इन चीजों को खाएं, जल्दी ही पेट अंदर आ जाएगा....

बादाम-

बादाम मोनोसैटुरेटेड फैट और प्रोटीन से भरपूर होते हैं जिससे वजन घटाने में मदद मिलती है और आपकी चौड़ी कमर पतली हो सकती है. बादाम में पाया जाने वाला मोनोसैचुरेटेड फैट वजन घटाने में मदद करता है खासकर टमी का. हालांकि बादाम खाते समय आप यह भी ध्यान रखें कि आप कितनी मात्रा में खा रहे हैं क्योंकि बादाम में कैलोरी भी उच्च मात्रा में होती है और इसलिए एक सीमित मात्रा में खाना ही सही रहेगा.

पत्तेदार सब्जियां-

पत्तेदार सब्जियों को खाने से भी बढ़ा हुआ पेट कम करने में मदद मिलती है क्योंकि इसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर होता है जो आपको बार-बार भूख नहीं लगने देता है. इससे आप ज्यादा खाना नहीं खाते हैं और कैलोरी की खपत भी कम होती है. पालक, ब्रोकली जैसी पत्तेदार सब्जियों में कम कैलोरी और भरपूर मात्रा में फाइबर होता है.

ओटमील-

ओटमील या समूचा अनाज बेली फैट घटाने में असरदार साबित होता है. पेन्निसल्वानिया यूनिवर्सिटी में हुई एक स्टडी में प्रतिभागियों पर समूचा अनाज खाने और वजन घटाने के बीच संबंध पर जांच की गई. इस स्टडी से भी बेली फैट घटाने में समूजे अनाज की भूमिका साबित हुई.

बेरीज-

बेरी से आप अपने बेली फैट को कंट्रोल कर सकते हैं. स्ट्राबेरी, ब्लूबेरीज, ब्लैकबेरीज में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता है जिससे वजन घटाने में मदद मिलती है.

Read more!

RECOMMENDED