बाहुबली अतीक अहमद को देवरिया जेल से शिफ्ट करने की तैयारी, जानें क्यों

जेल के सूत्रों की मानें तो अरविंद राठी जब देवरिया जेल पंहुचा तो अतीक अहमद समेत अन्य कुख्यात कैदियों ने उसका विरोध किया. जिसके बाद से जेल के भीतर एक तनाव बना हुआ है.

बाहुबली अतीक अहमद (फाइल फोटो)
कुमार अभिषेक
  • देवरिया,
  • 27 जुलाई 2018,
  • अपडेटेड 7:05 AM IST

उत्तर प्रदेश की देवरिया जेल में बंद पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद को जल्द ही किसी अन्य जेल में शिफ्ट किया जा सकता है. देवरिया के डीएम सुजीत कुमार ने इस विषय में आईजी जेल को चिट्ठी भी लिखी है. इसकी बड़ी वजह मुन्ना बजरंगी की हत्या का मुख्य आरोपी सुनील राठी के भाई को बागपत से देवरिया जेल शिफ्ट किया जाना है. मंगलवार को ही अरविंद राठी को देवरिया जेल लाया गया है.

जेल के सूत्रों की मानें तो अरविंद राठी जब देवरिया जेल पंहुचा तो अतीक अहमद समेत अन्य कुख्यात कैदियों ने उसका विरोध किया. जिसके बाद से जेल के भीतर एक तनाव बना हुआ है.

आपको बता दें कि अतीक अहमद, देवरिया जेल में बंद है तब से हमेशा छापे के दौरान मोबाइल और सिम मिलते रहते हैं. अतीक के देवरिया जेल में बंद रहने से और अरविंद राठी देवरिया जेल में शिफ्ट होने से हिंसा होने की संभावना बढ़ गई है. जिससे जिला प्रशासन अलर्ट पर है और जिला जेल की निगरानी बढ़ा दी गई है.

पूरे मामले के बारे में जिलाधिकारी ने बताया कि अतीक को इस जेल में एक साल हो गया है वो यहां अपना सिंडिकेट तैयार कर रहा है. पिछले दिनों छापेमारी में सिम, पेन ड्राईव, मोबाइल मिला था.

प्रदेश के कई बड़े अपराधियों के यहां बंद होने से ये जेल अति संवेदनशील जेल बन चुका है. अतीक के रहने से इस जेल में गैंगवार की संभावना बनी रहेगी इसलिए अतीक को दूसरे जेल में शिफ्ट करने के लिए पत्र लिखा गया है. बता दें कि अरविंद राठी के आने के बाद जेल की संवेदनशीलता बढ़ी है उसे अलग बैरक में रखा गया है.

आपको बता दें कि इसी महीने की शुरुआत में उत्तर प्रदेश में कभी आतंक का पर्याय बन चुके मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में ताबड़तोड़ फायरिंग कर हत्या कर दी गई थी. जेल के अंदर मुन्ना बजरंगी को 8 से 10 गोली मारने का मकसद साफ था, न सिर्फ मुन्ना को हर हाल में मारना बल्कि दहशत भी कायम करना.

Read more!

RECOMMENDED