लालू यादव की किडनी लगातार हो रही खराब, डॉक्टर बोले- स्थिति ठीक नहीं

लालू प्रसाद यादव को बीते माह रिस्म के प्राइवेट वार्ड में शिफ्ट किया गया. बिहार चुनाव के बाद बीजेपी की ओर से आरोप लगाया गया था कि लालू यादव उनके विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रहे हैं, जिसके बाद एक ऑडियो भी सामने आया था.

लालू प्रसाद यादव (फाइल फोटो)
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 12 दिसंबर 2020,
  • अपडेटेड 6:08 PM IST
  • लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ्य को लेकर डॉक्टर ने दी जानकारी
  • रांची के रिम्स में एडमिट हैं लालू प्रसाद यादव
  • लालू प्रसाद यादव की स्थिति ठीक नहीं: डॉक्टर उमेश प्रसाद

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के प्रमुख लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ्य को लेकर अहम जानकारी सामने आ रही है. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव का इलाज कर रहे डॉक्टर उमेश प्रसाद ने कहा है कि उनका (लालू प्रसाद यादव) किडनी फंक्शन कभी भी बिगड़ सकता है. हालांकि, इसका अनुमान लगाना मुश्किल है. 

डॉक्टर उमेश प्रसाद ने कहा कि लालू यादव की किडनी 25% फंक्शन कर रही है. कभी भी उनकी किडनी काम करना बंद कर सकती है. हमने लिखित में उच्च पदाधिकारी को भी इसकी सूचना दे दी है. डॉक्टर उमेश प्रसाद ने कहा कि लालू प्रसाद यादव की स्थिति ठीक नहीं है. बता दें कि लालू प्रसाद यादव रांची के राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस में एडमिट हैं और डॉक्टर उमेश प्रसाद उनका इलाज कर रहे हैं. 

लालू प्रसाद यादव को बीते माह रिस्म के प्राइवेट वार्ड में शिफ्ट किया गया. बिहार चुनाव के बाद बीजेपी की ओर से आरोप लगाया गया था कि लालू यादव उनके विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रहे हैं, जिसके बाद एक ऑडियो भी सामने आया था. हालांकि, राजद ने आरोपों को नकार दिया था. इसके बाद लालू यादव को वापस अस्पताल ले जाया गया था.

देखें- आजतक LIVE TV

लालू प्रसाद यादव इससे पहले 1 केली बंगले में रह रहे थे. बीजेपी आरोप लगाती रही है कि लालू यादव जेल की सजा नहीं, बल्कि बंगले में आराम की जिंदगी बिता रहे हैं.

वहीं, लालू यादव को जेल से बाहर निकलने के लिए और इंतजार करना होगा. शुक्रवार को झारखंड हाई कोर्ट में चारा घोटाला मामले में सुनवाई हुई. अदालत में लालू के वकील की ओर से 6 हफ्ते का वक्त मांगा गया है, अदालत ने इसकी मंजूरी दी है. यानी अब लालू यादव की बेल पर 6 हफ्ते के बाद ही सुनवाई होगी.

अगर लालू यादव को शुक्रवार को बेल मिल जाती तो वो बाहर आ सकते थे. दुमका कोषागार मामले में लालू की ओर से जमानत की गुहार लगाई गई है. बता दें कि चारा घोटाले से जुड़े अन्य मामलों में लालू यादव को पहले ही जमानत मिल चुकी है. 

 

Read more!

RECOMMENDED