बिहार: बढ़ते अपराध पर बोले सुशील मोदी- हत्याएं कहां नहीं होती

बिहार के कुख्यात मुजफ्फरपुर शेल्टर होम पर भी सुशील मोदी ने स्टेट्स ऑफ द स्टेट बिहार कार्यक्रम में अपनी राय दी. उन्होंने इस घटना को शर्मनाक करार दिया. बिहार सरकार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा की गिरफ्तारी न होने पर सुशील मोदी ने कहा कि उनके खिलाफ गिरफ्तारी का कोई वारंट नहीं था.

बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ( फोटो- आजतक)
पन्ना लाल
  • पटना,
  • 03 नवंबर 2018,
  • अपडेटेड 6:09 PM IST

बिहार में कानून व्यवस्था पर सुशील मोदी ने कहा कि आंकड़ों को देखें तो पहले की तुलना में बिहार में अपराध कम हुआ है. सुशील मोदी ने कहा कि लालू राज में जिस अपहरण उद्योग के चलते लोग घर में रहने पर मजबूर थे आज वो स्थिति नहीं है. सुशील मोदी ने कहा कि अब बिहार में डर का माहौल नहीं है. उन्होंने कहा कि कोई व्यापारी, उद्योगपति बिहार छोड़कर नहीं जा रहा है, कोई महिला नहीं कहती कि हमारे अंदर असुरक्षा का माहौल है. बिहार के डिप्टी सीएम ने बताया कि आज बिहार में अपराध की सबसे बड़ी वजह जमीन विवाद है. डिप्टी सीएम ने कहा कि अपराध के 100 मामलों 50 से 60 मामले जमीन विवाद के होते हैं.

सुशील मोदी ने कहा कि बिहार का समाज आक्रामक समाज है, ये बर्दाश्त नहीं करता है इसीलिए जेपी का आंदोलन और आजादी के आंदोलन के समय में बिहार का काफी योगदान रहा.  

बिहार के बहुचर्चित मुजफ्फरपुर शेल्टर होम पर भी सुशील मोदी ने स्टेट्स ऑफ द स्टेट बिहार कार्यक्रम में अपनी राय दी. उन्होंने इस घटना को शर्मनाक करार दिया. बिहार सरकार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा की गिरफ्तारी न होने पर सुशील मोदी ने कहा कि उनके खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट नहीं था. डिप्टी सीएम ने कहा कि मंजू वर्मा कोई अपराधी नहीं हैं.

सुशील मोदी ने कहा कि कोई ऐसा प्रदेश बता दीजिए जहां हत्याएं नहीं होती, रेप नहीं होता है, डकैती नहीं होती है? डिप्टी सीएम ने कहा कि कभी किसी सरकार ने दावा नहीं किया कि हत्याएं नहीं होगी, डकैती नहीं होगी? डिप्टी सीएम ने कहा कि दो चार घटनाओं के आधार पर सरकार को लेकर राय नहीं बनाई जा सकती है.

अपराध के मामले में सुशील मोदी ने आरजेडी पर हमला किया. उन्होंने कहा कि शहाबुद्दीन संगीन अपराधों के मामले मे सजा काट रहा है फिर भी वह आरजेडी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी का सदस्य है. डिप्टी सीएम ने दावा किया कि बिहार में उनकी सरकार ने एक भी दंगा नहीं होने दिया. सुशील मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने कभी अपराधियों को संरक्षण नहीं दिया. उन्होंने कहा कि एक भी उदाहरण ऐसा नहीं है जब सरकार ने अपराधियों को संरक्षण दिया हो.

डिप्टी सीएम ने कहा कि लालू यादव सोचते थे कि लालटेन दिखाकर लोगों से वोट लेते रहेंगे लेकिन जनता ने लालटेन उठाकर फेंक दिया. सुशील मोदी ने कहा कि बिहार के बारे में सही राय वही दे पाएगा जिन्होंने 2005 के पहले का बिहार देखा है. 

Read more!

RECOMMENDED