बाला रिव्यू: बढ़िया ह्यूमर और परफॉरमेंस के साथ मजेदार है आयुष्मान, भूमि, यामी की फिल्म

आयुष्मान खुराना की फिल्म बाला 8 नवंबर को रिलीज हो गई है. फिल्म के शानदार सेलेब्स रिव्यू पहले ही आ चुके हैं. अगर आप भी बाला देखने का प्लान कर रहे हैं तो जरूर पढ़ें बाला का रिव्यू.

बाला फिल्म पोस्टर
पल्लवी
  • नई दिल्ली,
  • 08 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 11:34 AM IST
फिल्म:बाला
4/5
  • कलाकार :
  • निर्देशक :Amar Kaushik

दुनिया में कोई भी इंसान परफेक्ट नहीं होता. आप, मैं या दुनिया का हर इंसान कमियों से भरा हुआ है. ऐसे में सबसे खराब वो होता है जो दूसरों की कमियों को निकालकर उसका मजाक उड़ाता है. समाज की सुंदरता को लेकर अपनी एक अलग धारणा है, अगर आप इस धारणा में फिट नहीं बैठे तो मजाक का पात्र बनेंगे. इंसान का लंबा या नाटा कद, स्किन का काला रंग, शरीर का बहुत मोटा या पतला होना सबकुछ एक कमी के रूप में ही तो देखा जाता है.

जिंदगी में बहुत से लोगों ने आपको बड़ी-बड़ी सीख दी होंगी, लेकिन क्या कभी किसी ने आपको अपने आप से प्यार करना सिखाया है? आयुष्मान खुराना की फिल्म आपको खुद से प्यार करना और सबसे बड़ी बात आप जैसे हैं वैसे ही अच्छे हैं, इस बात को स्वीकार करना सिखाती है.

ये आयुष्मान खुराना का साल है. आर्टिकल 15 से 2019 की अच्छी शुरुआत करने और फिर ड्रीम गर्ल जैसी सुपरहिट फिल्म देने के बाद आयुष्मान एक बार फिर एक बेहतरीन फिल्म लेकर आ गए हैं.

बाला के ट्रेलर से पता चला था कि ये एक उम्र से पहले गंजे होते लड़के की कहानी है. साथ ही इसमें बाला की दोस्त है जिसके काले रंग की वजह से उसका मजाक उड़ाया जाता है. इस फिल्म में दिखाया गया है कि कैसे इंसान जब दुनिया की बनाई खूबसूरती की धारणा से अलग हटने लगता है तो डरने लगता है.

शानदार है फिल्म के किरदारों की अदाकारी

ये फिल्म आयुष्मान खुराना की है. उन्होंने इस फिल्म में बेमिसाल काम किया है, जिसकी तारीफ जितनी की जाए कम है. आयुष्मान, बालमुकुन्द यानी बाला के किरदार में ऐसे घुसे हैं कि आप दोनों को अलग करके देख ही नहीं सकते. भूमि पेडनेकर, बाला की बचपन की दोस्त और पड़ोसन लतिका के रोल में हैं. लतिका एक सांवले रंग की लड़की है, जिसका मजाक बचपन से बन रहा है. लेकिन उसने अपने रंग को शुरू से ही अपनाया है और उसे किसी की बात से फर्क नहीं पड़ता. भूमि ने अपने किरदार को बखूबी निभाया है और उन्हें पहली बार पर्दे पर देखकर शायद आपको अजीब लगे लेकिन उनके काम की दाद आप जरूर देंगे. यामी गौतम एक टिकटॉक स्टार बनी हैं, जिसकी जिंदगी खुशियों से भरी है. यामी जब भी पर्दे पर आती हैं, वो किसी ब्यूटी क्रीम की एड की तरह चमक उठता है.

फिल्म की सपोर्टिंग कास्ट में सौरभ शुक्ला से लेकर सीमा पाहवा, अभिषेक बनर्जी और जावेद जाफरी तक सभी का काम उम्दा है. इसके अलावा बाला के छोटे भाई बने धीरेन्द्र गौतम भी आपका दिल जीत लेंगे. साथ ही छोटे बाला बने सचिन चौधरी का काम भी बहुत बढ़िया हैं.

बेहतरीन डायरेक्शन

डायरेक्टर अमर कौशिक ने इस फिल्म को बहुत बढ़िया बनाया है. फिल्म की कहानी से लेकर उसके डायलॉग और सभी चीजों को जोड़ने वाले सीक्वेंस, सबकुछ बहुत बढ़िया है. इस फिल्म के डायलॉग्स और सीक्वेंस आपको खूब हंसाते हैं. यामी और आयुष्मान की केमिस्ट्री काफी क्यूट है.

तो कुल मिलाकर बढ़िया डायरेक्शन, बेमिसाल एक्टिंग और बहुत सही डायलॉग्स वाली इस फिल्म को आपको एक बार क्या बार-बार देखने के लिए थिएटर चले जाना चाहिए.

Read more!

RECOMMENDED