NCP के किले में BJP का दांव, संभाजी भिड़े के शिष्य को अजीत पवार के खिलाफ उतारा

बीजेपी ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में शरद पवार के गढ़ में कद्दावर नेता उतारने का फैसला किया है. मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सोमवार को ऐलान किया कि गोपीचंद पड़ालकर बारामती विधानसभा क्षेत्र से अजीत पवार के खिलाफ उतरेंगे. गोपीचंद पड़ालकर शक्तिशाली मराठी नेता संभाजी भिड़े के शिष्य रहे हैं.

एनसीपी नेता अजीत पवार (फोटो-एएनआई)
सौरभ वक्तानिया
  • मुंबई,
  • 30 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 3:04 PM IST

  • अजीत पवार के खिलाफ बीजेपी ने उतारा संभाजी भिड़े का शिष्य
  • बारामती में एनसीपी को बीजेपी ने दी तगड़ी चुनौती
बीजेपी ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में शरद पवार के गढ़ में कद्दावर नेता उतारने का फैसला किया है. मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सोमवार को ऐलान किया कि गोपीचंद पड़ालकर बारामती विधानसभा क्षेत्र से अजीत पवार के खिलाफ उतरेंगे. गोपीचंद पड़ालकर शक्तिशाली मराठी नेता संभाजी भिड़े के शिष्य रहे हैं. पड़ालकर प्रकाश अंबेडकर की पार्टी वंचित बहुजन अगाड़ी (VBA) में थे. सोमवार को सीएम फडणवीस की मौजूदगी में वे बीजेपी में शामिल हुए.

एनसीपी का गढ़ रहा है बारामती

बता दें कि बारामती मराठा नेता और महाराष्ट्र के पूर्व सीएम शरद पवार का गढ़ रहा है. बारामती से शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले इस बार लगातार तीसरी बार सांसद बनी हैं. शरद पवार के भतीजे अजीत पवार भी इस सीट से 1995, 1999, 2004, 2009, और 2014 में विधानसभा का चुनाव जीते हैं. इस बार अपना कार्यकाल खत्म होने से पहले ही अजीत पवार ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था.

युवा नेता गोपीचंद को धांगर समुदाय का समर्थन

सीएम देवेंद्र फडणवीस ने गोपीचंद पड़ालकर को उनके सामने उतारकर उन्हें कड़ी चुनौती पेश की है. पड़ालकर को धांगर समुदाय का जबरदस्त समर्थन हासिल है. पड़ालकर युवा नेता हैं और जोरदार भाषण देते हैं. उनके भाषणों की जनता पर अच्छी खासी अपील है.

बीजेपी में शामिल होने के बाद पड़ालकर ने कहा कि VBA या फिर उनके बीच में कोई अंतर नहीं है. आगे उन्होंने कहा कि बीजेपी उनके समुदाय के लोगों के लिए कई काम करी है. महाराष्ट्र के विकास के लिए हमें बीजेपी को सपोर्ट करना चाहिए. गोपीचंद पड़ालकर ने कहा कि उनकी समाज की सभी मागें सीएम देवेंद्र फडणवीस ने मान ली है.

बता दें कि महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों के लिए 21 अक्टूबर को मतदान है. मतगणना के नतीजे 24 अक्टूबर को आएंगे. चुनाव के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन हुआ है.

Read more!

RECOMMENDED