फुफेरे भाई पर था प्रेमिका से अवैध संबंध बनाने का शक, पत्थर से सिर कुचल कर हत्या

पुलिस के मुताबिक गुरुग्राम निवासी कृपाराम ने थाना फेस टू में अपने बेटे अजीत उर्फ जीत की हत्या का मामला दर्ज कराया था. पीड़ित ने इस मामले में मृतक के ममेरे भाई मोहित उर्फ रोहित और उसके दोस्त विपिन को नामजद किया था.

पुलिस ने मुख्य आरोपी रोहित उर्फ मोहित को गिरफ्तार कर लिया है (फोटो- तनसीम)
तनसीम हैदर/परवेज़ सागर
  • नोएडा,
  • 13 अगस्त 2020,
  • अपडेटेड 7:54 PM IST

  • हत्या को सड़क हादसा बताकर बुलाई थी एम्बुलेंस
  • अस्पताल में शव छोड़कर भाग निकले थे आरोपी

यूपी के नोएडा में एक युवक ने अपने फुफेरे भाई का सिर पत्थर से कुचलकर उसे बेरहमी से मार डाला. आरोपी को शक था कि उसके फुफेरे भाई के उसकी प्रेमिका के साथ अवैध संबंध हैं. इसी बात से नाराज होकर उसने इस खूनी वारदात को अंजाम दे डाला. इस गुनाह में आरोपी का एक दोस्त भी शामिल था. पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

घटना नोएडा के थाना फेस 2 इलाके की है. जहां इलाहबांस गांव से कत्ल की इस कहानी का आगाज़ हुआ. पुलिस के मुताबिक गुरुग्राम निवासी कृपाराम ने थाना फेस टू में अपने बेटे अजीत उर्फ जीत की हत्या का मामला दर्ज कराया था. पीड़ित ने इस मामले में मृतक के ममेरे भाई मोहित उर्फ रोहित और उसके दोस्त विपिन को नामजद किया था. जब पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू की तो पता चला कि आरोपी रोहित उर्फ मोहित और विपिन बागपत के एक ही गांव के रहने वाले हैं और बचपन के दोस्त हैं.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्लिक करें

रोहित और विपिन नोएडा की एक कंपनी में काम करते हैं. रोहित और विपिन के साथ मृतक अजीत उर्फ जीत किराए पर कमरा लेकर कुलेसरा में रहता था. तफ्तीश में पुलिस को मालूम हुआ कि रोहित और विपिन की कई लड़कियों से दोस्ती थी. दोनों को शक था कि अजीत उर्फ जीत भी उन लड़कियों से बात होती है. दोनों को उस पर अवैध संबंध का शक होने लगा. इसके बाद दोनों ने अजीत का मर्डर करने की साजिश रच डाली.

इसी साजिश के तहत उन लोगों ने रक्षाबंधन के बाद कुलेसरा से कमरा खाली कर दिया और इलाहाबांस गांव में सुनसान जगह पर कमरा ले लिया. 11 जुलाई की तडक़े करीब 4:30 बजे रोहित और विपिन ने पत्थर से मार-मारकर अजीत का सिर कुचल दिया. इसके बाद आरोपी रोहित उर्फ मोहित ने 112 नंबर पर कॉल की और सड़क हादसे की बात कहकर एम्बुलेंस से अजीत को अस्पताल पहुंचाया. फिर वहां से फरार हो गए.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

अस्पताल में डॉक्टरों ने अजीत को मृत पाया. फिर अस्पताल प्रबंधन ने पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने पंचनामे की कार्रवाई के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पोस्टमार्टम की प्राथमिक जांच में खुलासा हुआ कि अजीत के सिर पर पत्थर से वार करके उसकी हत्या की गई है. पुलिस ने अजीत के परिजनों को घटना की जानकारी दी. इसी के बाद मृतक के पिता कृपाराम ने मोहित और विपिन के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया है.

पुलिस की टीम आरोपियों की तलाश में जुट गई. इसी बीच मंगलवार की देर रात पुलिस ने एनएसईजेड मेट्रो स्टेशन के पास से मृतक के ममेरे भाई रोहित उर्फ मोहित को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने आरोपी मोहित को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है. दूसरे आरोपी विपिन की तलाश की जा रही है. पता चला है कि आरोपी विपिन लूटपाट के मामले में कई बार जेल जा चुका है. पुलिस ने विपिन की तलाश में छापेमारी कर रही है.

Read more!

RECOMMENDED