नौकरी दिलाने के नाम पर जालंधर के छात्र को पटना में बनाया बंधक

बिहार की राजधानी पटना में पंजाब के एक छात्र को 5 दिनों तक बंधक बना कर रखे जाने का मामला सामने आ रहा है. वहीं शहर के एक अन्‍य मामले में 8वीं के छात्र ने खुद के ही अपहरण की साजिश रच दी.  

जालंधर के छात्र का पटना में अपरहण (फोटो - सुजीत झा )
सुजीत झा/दीपक कुमार
  • पटना,
  • 14 अक्टूबर 2018,
  • अपडेटेड 11:22 PM IST

बिहार की राजधानी पटना में अपराधियों ने पंजाब के एक छात्र को 5 दिनों तक बंधक बना कर रखा. मामले का खुलासा तब हुआ जब छात्र किसी भी तरह अपराधियों के कब्‍जे से निकल कर पटना के शास्त्रीनगर थाने पहुंचा. छात्र का नाम रमनदीप है और वो पंजाब के जालंधर का रहने वाला है.

जानकारी के मुताबिक अपराधियों ने रमनदीप को कनाडा में नौकरी दिलाने का झांसा दिया और उसे पटना लेकर आए. शातिर अपराधी यहां से जालंधर में रह रहे रमनदीप के पिता से 26 लाख रुपये ठग लिए. जब पैसे मिल गए तब रमनदीप की हत्या की प्लानिंग की. इस प्लानिंग की भनक रमनदीप को लग गई और वो किसी तरह से उनके चंगुल से भाग निकला.

इसके बाद वह शास्त्रीनगर थाने पहुंचकर पुलिस के सामने अपनी आपबीती बताई. घटना की खबर मिलते ही रमनदीप के पिता पटना पहुंचे. उन्होंने पुलिस को बताया कि अपराधियों ने उनसे 26 लाख रुपये नौकरी दिलाने के नाम पर लिए हैं. फिलहाल, मामला दर्ज कर पुलिस छानबीन कर रही है. लेकिन अभी तक एक भी अपराधी को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है.

कर्ज चूकाने के लिए अपहरण की झूठी कहानी

राजधानी पटना के एक अन्‍य मामले में आठवीं क्लास में पढ़ने वाले नाबालिग की साजिश का पर्दाफाश हो गया है. दरअसल, छात्र पर 60 हजार रुपये का 60 हजार रुपये का कर्ज है और इसे चुकाने के लिए दोस्‍त के साथ मिलकर खुद की अपहरण की साजिश रची.

पुलिस ने कुछ ही घंटे में अपहरण की इस कोशिश को नाकाम करने के साथ ही उसके मंसूबों को नाकाम कर दिया और छात्र को पटना के मीठापुर से छुड़ा लिया. पूछताछ के बाद छात्र ने बताया कि साजिश में शमिल उसके दोस्‍त ने फिरौती में 3 लाख रुपये की मांग की थी.

Read more!

RECOMMENDED