पटना एयरपोर्ट से किडनैप दिल्ली के कारोबारी भाई लखीसराय से छुड़ाए गए, 4 करोड़ फिरौती मांगी गई थी

पांच दिन पहले पटना एयरपोर्ट से अगवा किए गए दिल्ली के दो व्यापारी भाइयों को पुलिस ने लखीसराय जिले से बरामद कर लिया है. पुलिस ने बुधवार की सुबह दोनों भाईयों को जिले के चानान इलाके में जंगल से बरामद किया. अपहरणकर्ताओं ने दोनों भाईयों को रिहा करने की एवज में 4 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी.

पुलिस टीम ने लखीसराय के जंगल में से दोनों भाईयों को बरामद किया
परवेज़ सागर/रोहित कुमार सिंह
  • लखीसराय,
  • 26 अक्टूबर 2016,
  • अपडेटेड 4:42 PM IST

पांच दिन पहले पटना एयरपोर्ट से अगवा किए गए दिल्ली के दो व्यापारी भाइयों को पुलिस ने लखीसराय जिले से बरामद कर लिया है. पुलिस ने बुधवार की सुबह दोनों भाईयों को जिले के चानान इलाके में जंगल से बरामद किया. अपहरणकर्ताओं ने दोनों भाईयों को रिहा करने की एवज में 4 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी.

दिल्ली के व्यापारी सुरेश शर्मा और कपिल शर्मा को बीती 21 अक्टूबर की शाम को अपहरणकर्ताओं ने पटना के एयरपोर्ट से अगवा कर लिया था. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, दोनों भाइयों की रिहाई के लिए अपहरणकर्ताओं ने चार करोड़ की फिरौती मांगी थी.

सुरेश और कपिल के पिता बाबूलाल शर्मा दिल्ली के एक बड़े मार्बल व्यवसाई हैं. उनका कारोबार दिल्ली, उत्तर प्रदेश और राजस्थान तक फैला हुआ है. अपने दोनों बेटों के अपहरण की ख़बर सुनते ही शनिवार को बाबूलाल शर्मा पटना पहुंच गए थे और उन्होंने एयरपोर्ट पुलिस स्टेशन में बेटों के अपहरण की प्राथमिकी दर्ज कराई थी.

अपहरण की ख़बर लगते ही पटना पुलिस हरकत में आ गई. दोनों भाइयों की बरामदगी के लिए पटना पुलिस ने स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम का गठन भी किया था. तभी से पुलिस दोनों भाइयों को तलाश कर रही थी. बुधवार की सुबह पटना पुलिस, लखीसराय पुलिस और स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम ने एक साझा ऑपरेशन के बाद दोनों भाईयों को चानान के जंगल से बरामद कर लिया.

जानकारी के मुताबिक, अपहरणकर्ताओं ने दोनों भाइयों को 200 करोड़ का ठेका देने के बहाने पटना बुलाया था और हवाई अड्डे से ही दोनों को अगवा कर लिया था. जिस इलाके से दोनों भाइयों को बरामद किया गया है. वह नक्सलियों का गढ़ माना जाता है. सूत्रों के मुताबिक दोनों भाइयों के अपहरण में नक्सलियों का हाथ है.

छापे की कार्रवाई के दौरान पुलिस ने मौके से पांच अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक पकड़े गए बदमाशों में कुछ नक्सली भी शामिल हैं. कारोबारी भाईयों को सकुशल बरामद होने से उनके परिवार ने राहत की सांस ली है. दोनों भाईयों को मुक्त कराने वाली टीम में पटना के एसएसपी मनु महाराज भी शामिल थे.

दिल्ली के कारोबारियों को छुड़ाने के साथ ही बिहार पुलिस ने दिल्ली से मोहम्मद अयूब को गिरफ्तार किया है. इसी शख्स ने सुरेश और कपिल का टिकट गो फ्लाइट से बुक कराया था. पुलिस के मुताबिक वह आगरा का रहने वाला है. बिहार पुलिस और दिल्ली क्राइम ब्रांच ने उसे ज्वाइंट आपरेशन के तहत गिरफ्तार किया है.

पुलिस को पता चला कि इस पूरे अपहरणकांड का मास्टरमाइंड रंजीत डान है, जो खुद दिल्ली में मार्बल का धंधा कर रहा था. इसी धंधे की आड़ में वह अपना शिकार तलाशता था. रंजीत डान पर दिल्ली के संगम विहार थाने में रेप का मामला दर्ज है. वह इस मामले में जेल भी जा चुका है. रंजीत डान ने दिल्ली और हरियाणा में कई अपहरण की वारदातों को अंजाम देकर मोटी रकम वसूल की है. पुलिस अब उसे तलाश रही है.

Read more!

RECOMMENDED