भोंडसी जेल में गैंगवारः जेल वार्डन समेत एक दर्जन लोग घायल

गुड़गांव की भोंडसी जेल में बंद कुख्यात अपराधियों के दो गुटों के बीच खूनी संघर्ष हो गया. पहले किसी बात को लेकर उनके बीच विवाद हुआ और बाद में दोनों गुट आपस में भिड़ गए. इस संघर्ष में जेल वार्डन समेत करीब एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए.

पुलिस मामले की छानबीन कर रही है
परवेज़ सागर/तनसीम हैदर
  • गुडगांव,
  • 08 फरवरी 2018,
  • अपडेटेड 7:42 PM IST

गुड़गांव की भोंडसी जेल में बंद कुख्यात अपराधियों के दो गुटों के बीच खूनी संघर्ष हो गया. पहले किसी बात को लेकर उनके बीच विवाद हुआ और बाद में दोनों गुट आपस में भिड़ गए. इस संघर्ष में जेल वार्डन समेत करीब एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए.

भोंडसी जेल में बुधवार की सुबह कैंटीन से सामान लेते वक्त गैंगस्टर बिंदर गुर्जर और दिल्ली के बवाना निवासी गैंगस्टर राजेश बवानिया के गुर्गे आपस में भीड़ गए. जेल सूत्रों की मानें तो एकाएक हुए इस विवाद से निपटने के चक्कर में जेल वार्डन भी घायल हो गए. उन्हें काफी चोटें आई हैं.

बहरहाल, जेल प्रशासन की शिकायत पर पुलिस ने बुधवार की देर शाम मामला दर्ज कर लिया. दिल्ली देहात का रहने वाला गैंगस्टर राजेश बवानिया, मंजीत महाल का काफी करीबी माना जाता है. गुड़गांव निवासी गैंगस्टर बिंदर गुर्जर से भी इस दोनों गैंगस्टरों का गहरा याराना था.

लेकिन किसी बात को लेकर हुए विवाद के चलते अब मंजीत महाल ओर राजेश बवानिया का बिंदर गुर्जर से छत्तीस का आंकड़ा बताया जाता है. यही बात जेल में वर्चस्व की लड़ाई का कारण बन गई. इस मामले में पुलिस प्रवक्ता रविन्द्र कुमार की मानें तो जेल प्रशासन की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है.

वहीं जेल में यह गैंगवार नई रंजिश की ओर भी इशारा कर रही है. इस घटना के बाद पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम भी लगातार ऐसे गैंगस्टर और उनके गुर्गों की हरकतों पर नज़र बनाये हुए है.

Read more!

RECOMMENDED