पत्नी से अवैध संबंध होने के शक में युवक को सरेआम जिंदा जलाया

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में आधा दर्जन लोगों ने एक युवक पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी. इस दौरान आरोपी उसे जलता देख खुशियां मना रहे थे और वो युवक अपनी जान बचाने की गुहार लगा रहा था. हैरानी की बात है कि इस घटना को सरेराह अंजाम दिया गया.

पुलिस ने इस मामले में 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है
परवेज़ सागर/सुनील नामदेव
  • दुर्ग,
  • 29 मई 2018,
  • अपडेटेड 7:27 PM IST

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में आधा दर्जन लोगों ने एक युवक पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी. इस दौरान आरोपी उसे जलता देख खुशियां मना रहे थे और वो युवक अपनी जान बचाने की गुहार लगा रहा था. हैरानी की बात है कि इस घटना को सरेराह अंजाम दिया गया.

वारदात दुर्ग के जेवरा सिरसा चौक की है, जहां आधा दर्जन लोगों ने सरेआम सड़क पर एक नौजवान युवक को जिंदा आग के हवाले कर दिया. युवक को जलता देख कई लोग उसे बचाने के लिए दौड़े. किसी ने दुपट्टे से तो किसी ने रुमाल और गमछे से उसके शरीर पर लगी आग बुझाने की कोशिश की. बचाने वाले सभी राहगीर थे.

आग की लपटें शांत हो जाने के बाद युवक सड़क पर ही तड़पता रहा. कुछ देर बाद एक सरकारी एंबुलेंस मौके पर पहुंची और पीड़ित युवक को अस्पताल भेजा गया. अस्पताल में पीड़ित युवक ने उसे जलाने वाले लोगों के नाम पुलिस के सामने बयान में दर्ज कराए. पुलिस ने इस मामले में एक के बाद एक कुल आधा दर्जन आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

पीड़ित शख्स 32 वर्षीय राकेश कुंवर है. राकेश ने पुलिस को बयान देते हुए बताया कि उसके पड़ोसी देव साहू को शक था कि उसकी पत्नी के साथ उसका अवैध संबंध है. इस शक को लेकर दोनों के बीच कई बार नोकझोंक भी हो चुकी है. राकेश के मुताबिक पड़ोसी होने के नाते देव साहू के घर के सामने से वो अक्सर गुजरता था.

उसने कई बार देव साहू को अपना शक दूर करने की सलाह दी. फिर भी वो नहीं माना. इसके बाद देव साहू ने राकेश कुंवर को सबक सिखाने की ठान ली. आरोपी देव साहू के मुताबिक उसने अपने भतीजे और दोस्तों को बुलाकर राकेश को जिंदा जलाने की प्लानिंग की और राकेश को जेवरा सिरसा चौक बुलाया.

राकेश वहां जा पहुंचा, तभी आरोपियों सुमित नायक और लक्की यादव ने उस पर पेट्रोल छिड़क दिया. देव साहू ने उस पर माचिस जलाकर फेंक दी. राकेश आग की लपटों में घिर गया. उसे जिंदा जलते देख आरोपी मौके से फरार हो गए.

पुलिस ने इस संबंध में देव साहू समेत छह आरोपियों दीपक साहू, लक्की यादव, धर्मेंद्र सिंह, सुमित नायक और सुदीप शाह के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. सभी आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. उधर, राकेश की हालत गंभीर बनी हुई है. उसे रायपुर रेफर किया गया है.

Read more!

RECOMMENDED