क्राइम न्यूज़

UP: प्रधानी की रंजिश में राइफलों से फायरिंग, मह‍िलाओं ने भी बरसाए लाठी-डंडे

आमिर खान
  • रामपुर ,
  • 23 अप्रैल 2021,
  • अपडेटेड 2:03 PM IST
  • 1/6

यूपी के रामपुर ज‍िले में एक सनसनीखेज वाकया सामने आया है. कोतवाली टांडा क्षेत्र के एक गांव में बच्चों के मामूली विवाद में पूर्व प्रधान और मौजूदा प्रधान पक्ष के कई लोग लाठी-डंडे लेकर हुए आमने-सामने. लाठी-डंडों के साथ-साथ बंदूकों से फायरिंग की गई. इस दौरान गांव में अफरा-तफरी का माहौल रहा.

  • 2/6

इस घटना का किसी व्यक्ति ने वीडियो बना ल‍िया ज‍िसमें द‍िख रहा है क‍ि किस तरह से राइफलों और बंदूकों से फायरिंग की जा रही है और साथ ही साथ लोग एक-दूसरे पर पत्थर बरसा रहे हैं. इस घटना में पुरुष तो एक दूसरे पर जानलेवा थे ही, साथ में उनकी महिलाएं भी एक-दूसरे पर जानलेवा हमला कर रही हैं.   

  • 3/6

हालांकि पुलिस ने इस घटना को बच्चों का विवाद होना बताया है लेकिन गांव में लोगों से पूछताछ की तो यह मामला प्रधानी के चुनाव की रंजिश से जुड़ा हुआ न‍िकला. प्रधानी की चुनावी रंजिश को लेकर ही ये बवाल हुआ है. इस मामले चौकी दड़ियाल के उपनिरीक्षक श्रीपाल सिंह की तहरीर पर पुलिस ने  26 नामजद सहित 6 से 10 लोग अज्ञात में दोनों पक्षों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.  

  • 4/6

जनपद रामपुर के कोतवाली टांडा क्षेत्र के महुआखेड़ा गांव में पूर्व प्रधान सलीम अहमद और जलील अहमद, यह दोनों आपस में पड़ोसी हैं. इन दोनों पड़ोसियों का आज शाम बच्चों को लेकर कुछ विवाद हुआ जिसमें बड़े कूद पड़े और बड़े भी इतने भयंकर रूप से कूदे के एक दूसरे की जान लेने पर उतारू हो गए. पहले कुछ कहासुनी हुई, उसके बाद में लाठी-डंडे चले. उसके बाद एक-दूसरे पर दोनों पक्षों ने पत्थरबाजी की. उसके बाद में एक पक्ष ने राइफलों से फायरिंग शुरू कर दी. दोनों पक्ष एक दूसरे पर बुरी तरह हमलावर थे और यह घटना लगभग 1 से 2 घंटे तक चली. गांव में डर और भय का माहौल था. लोग डर की वजह से अपने अपने घरों में दुबक गये थे. इस घटना में दो लोग घायल हुए हैं जिनका उपचार सरकारी अस्पताल में चल रहा है.

  • 5/6

इस मामले पर एक पक्ष के एक व्यक्ति ने बताया हम इलेक्शन लड़े थे. इलेक्शन लड़ने पर इन्होंने हमसे मुखालफत की. इन्होंने वोटों का टोटल लगाया. इन्होंने अपने 400 वोट माने और हमारे 500 वोट माने. हमारे यहां दो लड़के बैठे थे. हमसे बात कर रहे थे. उन्होंने आते ही पथराव करना शुरू कर दिया और फायरिंग भी की. हमारा कहना है क‍ि असले तो सब जमा हो गया थे, इनके बाद बंदूक है और राइफल कहां से आई. हमने अपने बच्चों का बचाव किया और उनको घर के अंदर कर दिया. गेट बंद कर दिया फिर उन्होंने पथराव किया. उनके पास तीन राइफल और एक बंदूक थी जिससे इन्होंने तीन चार फायर निकाले हैं. यह झगड़ा चुनावी रंजिश का था.

  • 6/6

वहीं इस मामले पर अपर पुलिस अधीक्षक संसार सिंह ने बताया गुरुवार को थाना टांडा के चौकी दड़ियाल से एक सूचना प्राप्त हुई के महुआखेड़ा गांव में दो पक्षों में झगड़ा हो रहा है और फायरिंग हो रही है. पुलिस मौके पर पहुंची तो दोनों पक्ष पुलिस पर भी हमलावर हो गए. पुलिस के साथ गालीगलौज करने लगे. पुलिस ने मौके से दोनों पक्षों के तीन-तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है और बाकी लोग मौके से फरार हो गए. एक पक्ष के सलीम और उसके दो लोग साथ के हैं और दूसरे पक्ष के नासिर और उसके 2 साथी हैं. पुलिस द्वारा सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और जो अन्य लोग हैं उनकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है. अपर पुलिस अधीक्षक ने कहा चुनावी रंजिश का इसमें कोई लेना-देना नहीं था बच्चों-बच्चों का विवाद था जिसमें बड़े आ गए.  

लेटेस्ट फोटो