बिज़नेस न्यूज़

Agnipath Scheme Salary: 'अग्निवीर' को 30% कटकर मिलेगी सैलरी, 4 साल बाद एकमुश्त मिलेगा यही पैसा

aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 20 जून 2022,
  • अपडेटेड 11:19 AM IST
  • 1/7

पिछले कुछ दिनों से देश भर में अग्निपथ स्कीम (Agnipath Scheme) को लेकर बवाल मचा हुआ है. कई राज्यों में इस योजना का हिंसक विरोध (Agniveer Protest) किया जा रहा है. अब तक इस योजना के विरोध में कई ट्रेनें फूंकी जा चुकी हैं और सरकारी संपत्तियों को बड़े स्तर पर नुकसान पहुंचाया गया है. दूसरी ओर सरकार व सैन्य मामलों के जानकार इस योजना की सराहना कर रहे हैं.

  • 2/7

तीनों सेनाओं ने तो अग्निवीरों की भर्ती को लेकर नोटिफिकेशन (Agniveer Notification) भी जारी कर दिया है. आइए जानते हैं कि इस स्कीम के तहत सेना में भर्ती होने वाले युवाओं को कितनी सैलरी (Agniveer Salary) मिलेगी और रिटायरमेंट के बाद उन्हें क्या फायदे (Agniveer Retirement Benefits) मिलने वाले हैं....

  • 3/7

सरकारी नोटिफिकेशन (Agniveer Notofication) के अनुसार, अग्निवीर स्कीम के तहत भर्ती होने वाले लोगों को हर महीने 30 फीसदी सैलरी कटकर मिलेगी. नोटिफिकेशन के अनुसार, पहले साल अग्निवीरों की टोटल सैलरी (Agniveer Total Salary) 30 हजार रुपये होगी. इसमें से सेवा निधि फंड (Sewa Nidhi Fund) के लिए 30 फीसदी यानी 9 हजार रुपये का डिडक्शन होगा. इस तरह पहले साल अग्निवीरों की इन-हैंड सैलरी (Agniveer In-Hand Salary) 21 हजार रुपये रहेगी. सेवा निधि फंड (Agniveer Sewa Nidhi Fund) में जमा होने वाली रकम का भुगतान चार साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद एकमुश्त किया जाएगा.

  • 4/7

सरकार ने बताया है कि दूसरे साल में अग्निवीरों की सैलरी में 10 फीसदी का इजाफा किया जाएगा. इससे दूसरे साल में टोटल सैलरी बढ़कर 33 हजार रुपये हो जाएगी. इनमें से 9,900 रुपये सेवा निधि फंड में जाएंगे और अग्निवीरों को हर महीने 23,100 रुये मिलेंगे. तीसरे साल में इन युवाओं की टोटल सैलरी बढ़कर 36,500 रुपये हो जाएगी. इनमें 10,950 रुपये सेवा निधि फंड के लिए होंगे और इन-हैंड सैलरी 25,550 रुपये होगी.

  • 5/7

चौथे व अंतिम साल में अग्निवीरों की टोटल सैलरी और बढ़कर 40 हजार रुपये हो जाएगी. चौथे साल के दौरान अग्निवीरों को हाथ में हर महीने 28 हजार रुपये मिलेंगे. बाकी के 12 हजार रुपये सेवा निधि फंड में जमा होंगे. इस तरह पूरे चार साल के दौरान सेवा निधि पैकेज में हर अग्निवीर का कंट्रीब्यूशन 5.02 लाख रुपये होंगे. सरकार फंड में अपनी ओर से भी 5.02 लाख रुपये जमा करेगी. इस तरह चार साल का कार्यकाल समाप्त होने के बाद अग्निवीरों को एकमुश्त 10.04 लाख रुपये मिलेंगे.

  • 6/7

सरकार इसके अलावा भी अग्निवीरों को अन्य फायदे देने वाली है. सेवा निधि फंड में जमा होने वाली रकम पर सरकार ब्याज का भी भुगतान करेगी. ब्याज की दर ईपीएफओ (EPFO) की पेंशन स्कीम एम्पलॉइ प्रोविडेंट फंड (Employee Provident Fund) पर मिलने वाले ब्याज के बराबर रहेगी.

  • 7/7

अग्निवीरों की सैलरी से पीएफ का डिडक्शन (PF Deduction) नहीं होगा. सेवा निधि फंड के एकमुश्त भुगतान पर इनकम टैक्स (Income Tax) भी नहीं देना होगा. अग्निवीरों की बेसिक सैलरी पर स्टैंडर्ड इनकम टैक्स कानून (Income Tax Rules) लागू होंगे.