मध्य प्रदेश: प्याज के खराब होने से परेशान था किसान, कम खर्च में ऐसे बनाया देसी कोल्ड स्टोरेज

मंदसौर के रहने वाले नरेंद्र पाटीदार 7 बीघे में प्याज की खेती (Onion Cultivation) करते हैं. वह अपने यहां कोल्ड स्टोरेज की सुविधा न होने की वजह से प्याज की बर्बादी से परेशान थे. ऐसे में उन्होंने खुद का देशी स्टोरेज (Cold Storage) तैयार किया है.

Farmer of Madhya Pradesh creates own cold storage ( Image Credit: Narendra Patidar)
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 19 जुलाई 2021,
  • अपडेटेड 1:40 PM IST
  • नरेंद्र पाटीदार ने तैयार किया देसी कोल्ड स्टोरेज
  • कोल्ड स्टोरेज बनाने में नहीं आया ज्यादा खर्च

प्याज की खेती (Onion Cultivation) करने वाले किसानों को मौसम के अलावा सबसे ज्यादा नुकसान अव्यवस्थाओं की वजह से झेलना पड़ता है. प्याज के किसानों के पास से ऐसी खबरें आती हैं कि सड़न की वजह से उनकी कई सौ कुंतल प्याज बर्बाद हो गई या स्टोरेज की सुविधा न होने के कारण उन्हें अपनी फसल औने-पौने दाम पर बेचनी पड़ती है. ऐसी ही स्थितियों का सामना मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले के नरायणगढ़ गांव के किसान नरेंद्र पाटीदार को भी करना पड़ता था, लेकिन अब इन परिस्थितियों से निपटने के लिए उन्होंने एक तरकीब निकाली है.

खुद का बनाया कोल्ड स्टोरेज

मंदसौर के रहने वाले नरेंद्र पाटीदार 7 बीघे में प्याज की खेती करते हैं. वह अपने यहां कोल्ड स्टोरेज की सुविधा न होने की वजह से प्याज के बर्बाद होने से परेशान थे. उनके जैसे ही किसानों को कई कुंतल प्याज ऐसे ही फेंकना पड़ता था. ऐसे में उन्होंने खुद का देसी कोल्ड स्टोरेज तैयार किया है. नरेंद्र पाटीदार कहते हैं कि इस कोल्ड स्टोरेज में एक साल तक प्याज को संरक्षित किया जा सकता है और भारी नुकसान से बचा जा सकता है. 

इस स्टोरेज को बनाना बहुत आसान

नरेंद्र पाटीदार ने 40 फीट चौड़े और 60 फीट लंबे कमरे में जमीन से 6 इंच ऊपर जाली लगाई हुई है, जिले इस तरह कवर किया है कि कहीं से हवा जाली से बाहर न निकले. उन्होंने इस जाली के ऊपर प्याज रखा है और साथ ही जमीन के ओर मुंह करते हुए 12-13 एग्जास्ट फैन लगा रखे हैं, उसे जाली और पॉलीथीन से कवर कर रखा है. जिससे हवा सीधे जमीन की तरफ जाए और कमरे का तापमान ठंडा बना रहे.

Farmer of Madhya Pradesh creates own cold storage( Image credit: Narendra Patidar)

नहीं आया ज्यादा खर्च

नरेंद्र पाटीदार ने aajtak.in से बातचीत में कहा कि इस तरह कोल्ड स्टोरेज बनाने में ज्यादा खर्चा नहीं आया. किसान भाई इस तरीके से प्याज के अलावा अन्य फसलों को भी खराब होने से बचा सकते हैं. वह आगे बताते हैं कि अपने इस कोल्ड स्टोरेज में वह 1600 कुंतल तक प्याज स्टोर कर सकते हैं, लेकिन इस साल कम उत्पादन होने की वजह से अभी केवल इस स्टोरेज में 600 कुंतल प्याज को ही स्टोर किया हुआ है.


 

Read more!

RECOMMENDED