scorecardresearch
 

इंग्लैंड-न्यूजीलैंड ने हमारे साथ जो किया, जुर्रत नहीं कि भारत के साथ कर दें: इमरान खान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने हालिया इंटरव्यू में भारत, इजरायल, चीन और अमेरिका जैसे देशों को लेकर अपनी राय रखी है. मिडिल ईस्ट आई को दिए इस इंटरव्यू में पूर्व लेजेंडरी क्रिकेटर इमरान खान ने कहा है कि इस समय विश्व क्रिकेट को भारत कंट्रोल कर रहा है और उसी के इशारे पर सब कुछ होता है.

इमरान खान, फोटो क्रेडिट: getty images इमरान खान, फोटो क्रेडिट: getty images
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पाक पीएम बोले, इंग्लैंड-न्यूजीलैंड से बेहतर उम्मीद थी
  • भारतीय बोर्ड के पास बेशुमार दौलत: इमरान खान

इंग्लैड-न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम की ओर से पाकिस्तान का दौरा रद्द करने को लेकर शुरू हुआ विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर से इस मुद्दे पर नाराजगी जाहिर की और बीसीसीआई पर निशाना साधा है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने मिडिल ईस्ट आई को सोमवार को दिए इंटरव्यू में कहा कि इस समय विश्व क्रिकेट को भारत ही कंट्रोल कर रहा है क्योंकि उसके पास बेशुमार पैसा है.

'इंग्लैंड-न्यूजीलैंड वाली हरकत कोई भारत के साथ नहीं दोहरा सकता'

इंग्लैंड-न्यूजीलैंड द्वारा पाकिस्तान का दौरा रद्द करने को लेकर इमरान खान ने कहा कि मैंने पाकिस्तान-इंग्लैड के क्रिकेट रिश्तों को करीब से देखा है. मुझे लगता है कि इंग्लैंड में अब भी ऐसी फीलिंग है कि वो पाकिस्तान जैसे देशों के साथ खेलकर किसी तरह का एहसान कर रहा है. लेकिन वे ऐसा भारतीय टीम के साथ करने की जुर्रत नहीं कर सकते हैं क्योंकि बीसीसीआई आर्थिक तौर पर बहुत ज्यादा मजबूत हैं और इसके चलते उनका दबदबा और रुतबा बहुत अधिक है.

उन्होंने आगे कहा कि हालांकि मैंने इंग्लैंड के दौरा रद्द करने को लेकर कोई बात नहीं रखी. मैंने इंग्लैंड से कहीं बेहतर व्यवहार की उम्मीद की थी. इमरान ने कहा कि किसी भारतीय ने सिंगापुर से फेक न्यूज फैला दी थी और इसे सच मानकर टीमों ने पाकिस्तानी दौरा कैंसिल कर दिया.  इंग्लैंड और न्यूजीलैंड को समझना चाहिए कि अगर ऐसा ही व्यवहार किसी दूसरी टीम ने उनके साथ किया होता तो उनकी क्या हालत होती. 

इमरान ने कहा कि पैसा अब एक बड़ा प्लेयर बन चुका है. सिर्फ खिलाड़ियों के लिए ही नहीं बल्कि क्रिकेट बोर्ड्स के लिए भी ऐसा ही है और पैसा भारत में है. इसलिए भारत इस समय विश्व क्रिकेट को कंट्रोल कर रहा है. वो जो चाहते हैं, करते हैं. वो जो कहते हैं, वही होता है. इंग्लैंड-न्यूजीलैंड जैसी हरकत कोई भी भारत के साथ नहीं दोहरा सकता है क्योंकि उन्हें पता है कि वे बीसीसीआई को नाराज नहीं कर सकते हैं.

सईद अजमल ने भी कहा- बीसीसीआई के पास बेशुमार संसाधन

पाकिस्तान के पूर्व स्पिनर सईद अजमल ने भी बीसीसीआई को लेकर निशाना साधा है. उन्होंने एक प्राइवेट चैनल के साथ इंटरव्यू में कहा कि मेरे एक्शन पर सवाल उठाने से पहले आईसीसी ने भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को छह महीने रेस्ट के लिए बोला था और वेस्टइंडीज के स्पिनर सुनील नरेन को इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने से मना कर दिया था और फिर इसके बाद मुझे और मोहम्मद हफीज को साइडलाइन किया गया था. उन्होंने ये भी दावा किया कि जसप्रीत बुमराह और हरभजन सिंह के एक्शन को लेकर भी सवाल खड़े हुए थे लेकिन चूंकि दोनों भारतीय गेंदबाज थे, इसलिए उनका कुछ नहीं बिगड़ा. उन्होंने कहा कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड के पास बहुत पैसा है और काफी स्ट्रॉन्ग स्पॉन्सर्स हैं. पैसा सब कुछ होता है. इसलिए इन खिलाड़ियों को किसी तरह का विवाद नहीं झेलना पड़ा. 

रमीज राजा ने भी कहा था- विश्व क्रिकेट में है भारत का दबदबा
पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन रमीज राजा ने भी क्रिकेट में भारत  के दबदबे की बात को स्वीकार किया था. उन्होंने कहा था कि आईसीसी को 90 प्रतिशत फंडिंग भारत से आती है. मुझे डर है कि अगर भारत आईसीसी को फंडिंग करना बंद कर देता है तो पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पूरी तरह से खत्म हो सकता है क्योंकि पीसीबी तो आईसीसी को जीरो प्रतिशत फंडिंग देता है. अगर पीसीबी आर्थिक तौर पर मजबूत होता तो इंग्लैंड और न्यूजीलैंड जैसी टीमें पाकिस्तान टूर को यूं छोड़ कर नहीं जा सकती हैं. अगर हमारी क्रिकेट इकोनॉमी मजबूत होती तो हमारा इस्तेमाल नहीं किया जाता और ना ही न्यूजीलैंड और इंग्लैंड जैसी टीमें हमारे साथ ऐसी हरकतें कर पातीं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें