scorecardresearch
 

Zoom में आया अब तक का सबसे ज़रूरी सिक्योरिटी फ़ीचर, ऐसे करें एनेबल

Zoom वीडियो कॉलिंग प्लेटफ़ॉर्म पर End to end encryption का अपडेट आ चुका है. इसे आप सेटिंग्स में जा कर एनेबल कर सकते हैं. पहले जान लें ये किस काम का है.

X
Zoom
Zoom
स्टोरी हाइलाइट्स
  • Zoom में आया एंड टु एंड एन्क्रिप्शन (E2EE) का अपडेट
  • एंड टु एंड एन्क्रिप्शन (E2EE) से कम्यूनिकेशन होगा सिक्योर

कोरोनावायरस जैसी आपदा को कैसे अवसर में बदला जाता है उसका सबसे बढ़िया उदाहरणों में से एक Zoom वीडियो कॉलिंग प्लेटफ़ॉर्म है.

लॉकडाउन की शुरुआत से अब तक ये वीडियो कॉलिंग प्लेटफ़ॉर्म कई दिग्गज और पुराने कॉलिंग सर्विस को पीछे छोड़ चुका है.

Zoom कॉलिंग प्लेटफ़ॉर्म शुरुआत में अपनी कमजोर सिक्योरिटी को लेकर सवालों के घेरे में रहा है. डेटा लीक भी हुए हैं. लेकिन धीरे धीरे कंपनी ने अपने प्लेटफ़ॉर्म को सिक्योर किया है.

हाल ही में Zoom ने ऐलान किया था कि जल्द ही वीडियो कॉलिंग के लिए एंड टु एंड एन्क्रिप्शन दिया जाएगा. अब कंपनी एंड टु एंड एन्क्रिप्शन का अपडेट जारी कर रही है.

Zoom एंड टु एंड एन्क्रिप्शन फ़्री और पेड दोनों तरह के यूज़र्स को दिया जा रहा है. डेस्कटॉप क्लाइंट में आप इसे ऐक्टिवेट कर सकते हैं. डेस्कटॉप के साथ ही एंड्रॉयड ऐप में भी दिया जा रहा है.

Zoom के मुताबिक़ एंड टु एंड एन्क्रिप्शन एनेबल करने के बाद पार्टिसिपेंट्स के अलावा कोई भी, यानी ज़ूम के मीटिंग सर्वर्स के पास भी आपके मीटिंग का एन्क्रिप्शन की होगा.

ऐपल iOS में के लिए भी जल्द ही Zoom में एंड टु एंड एन्क्रिप्शन का अपडेट मिलेगा.

कंपनी ने कहा है कि ये फ़ीचर 30 दिन के टेक्निकल प्रिव्यू के तौर पर दिया जा रहा है. हालाँकि कंपनी ने कहा है कि इस दौरान लोगों से फ़ीडबैक लिया जाएगा और इसे 30 दिन के बाद भी जारी रखा जाएगा.

क्या है एंड टु एंड एन्क्रिप्शन यानी E2EE?

साधारण शब्दों में कहें तो एंड टु एंड एक एन्क्रिप्शन का स्टैंडर्ड है. इसे आप सिक्योर कम्यूनिकेशन का एक मेथड भी कह सकते हैं.

इसके तहत कोई भी थर्ड पार्टी आपका डेटा हासिल नहीं कर सकता है. उदाहरण के तौर पर आप किसी से कॉल पर या चैट में बात कर रहे हैं.

जिस ऐप के ज़रिए आप किसी से चैटिंग या वीडियो कॉल कर रहे हैं अगर वो आपको एंड टु एंड एन्क्रिप्शन देता है तो आपका कम्यूनिकेशन सिर्फ़ आप तक और जिससे बात कर रहे हैं उन तक ही रहेगा.

एंड टु एंड एन्क्रिप्शन होने की वजह से वो कंपनी जिसकी ऐप है वो भी आपकी चैट्स नहीं पढ़ सकती है और न ही वीडियो कॉल को इंटरसेप्ट कर सकती हैं.

हालाँकि एंड टु एंड एन्क्रिप्शन होने के बावजूद डेटा लीक या फिर हैकिंग की समस्या रूकती नहीं, लेकिन इस पर थोड़ा लगाम ज़रूर लगता है.

आइए जानते हैं Zoom में एंड टु एंड एन्क्रिप्शन कैसे एनेबल कर सकते हैं.

Zoom में ऐसे एनेबल करें एंड टु एंड एन्क्रिप्शन

— ये डिफ़ॉल्ट नहीं होगा और आपको सेटिंग्स में जा कर एंड टु एंड एन्क्रिप्शन (E2EE) एनेबल करना होगा.

— Zoom वेब पोर्टल पर अपने आईडी और पासवर्ड से लॉग इन करें और सेटिंग्स में जाएं.

— सेटिंग्स में मीटिंग टैब पर टैप करें. यहाँ सिक्योरिटी टैब के अंदर Allow use of end to end encryption को एनेबल करें.

— सेटिंग्स डिसेबल है तो यहाँ एनेबल टॉगल पर क्लिक करें. यहाँ आपको वेरिफ़िकेशन डायलॉग दिख सकता है उसे टर्न ऑन करना है.

देखें: आजतक LIVE TV

ज़ूम के मुताबिक़ अगर ये ऑप्शन फेडेड या ग्रे दिख रहा है तो ये या तो ग्रुप या अकाउंट लेवल पर लॉक्ड है और इसके लिए आपको ज़ूम ऐडमिन से कॉन्टैक्ट करना होगा.

ऐडमिन अगर चाहें तो सेटिंग्स से किसी यूज़र, ग्रुप और पूरे अकाउंट लेवल पर एंड टु एंड एन्क्रिप्शन एनेबल कर सकते हैं. एंड टु एंड एन्क्रिप्शन एनेबल होने के बाद यूज़र्स को ग्रीन पैडलॉक दिखेगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें