scorecardresearch
 

Omicron से लड़ने की क्षमता कम करेंगी रोज-मर्रा की ये चीजें, तुरंत इन आदतों को बदलें

ओमिक्रॉन वैरिएंट (Omicron Variant) के इंडिया में लगभग 1700 से अधिक केस हो गए हैं. मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली से ओमिक्रॉन से बचा जा सकता है. इम्यूनिटी बढ़ाने वाली चीजों के साथ इम्यूनिटी कमजोर करने वाली चीजों पर भी ध्यान देना जरूरी है.

X
(Image Credit : Pexels) (Image Credit : Pexels)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ओमिक्रॉन वैरिएंट के इंडिया में 1700 से अधिक केस हो गए हैं
  • ओमिक्रॉन से बचने में इम्यूनिटी बचा सकती है
  • रोजमर्रा की कुछ चीजें इम्यूनिटी कमजोर करती हैं

COVID-19 का ओमिक्रॉन वैरिएंट (Omicron Variant) दुनिया भर में तेजी से फैल चुका है. भारत में भी ओमिक्रॉन से संक्रमितों की संख्या (Omicron in India) 1700 के पार पहुंच गई है. कोरोना से बचने के लिए मास्क लगाने, समय-समय पर हाथ साफ करने और सोशल डिस्टेंसिंग की सलाह दी जा रही है. लेकिन इसके अलावा भी सभी को प्रतिरक्षा प्रणाली यानी इम्यूनिटी (Immunity) भी इस वायरस से लड़ने में मददगार साबित होगी. आप अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करके अपने आपको अंदर से भी स्ट्रॉन्ग बना सकते हैं. 

यदि आप कोरोनावायरस (coronavirus) के संपर्क में हैं, तो मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली (Strong immune system) उसके लक्षणों की गंभीरता कम कर सकती है और यहां तक कि COVID-19 के विभिन्न वैरिएंट को मात देने में भी मदद कर सकती है. अगर आप इम्यूनिटी को बूस्ट (Boost immunity) करना चाहते हैं तो इम्यूनिटी बढ़ाने वाले फूड्स के साथ रोज-मर्रा की ऐसी चीजों से बचें, जो कि इम्यूनिटी को कमजोर करती हैं. आइए जानते हैं इनके बारे में-

बहुत कम फल और सब्जियों का सेवन (Too Few Fruits and Veggies)

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Paulina Marek (@_paulinamarek)

फल और सब्जियों का सेवन करना शरीर को संक्रमण से लड़ने के लिए आवश्यक सफेद रक्त कोशिकाओं (White blood cells) को बनाने में मदद कर सकते हैं. फ्रेश फल और सब्जी जिंक, बीटा-कैरोटीन, विटामिन ए, सी, और ई जैसे कई पोषक तत्व से भरपूर होते हैं, जो हेल्थ के लिए काफी जरूरी होते हैं. वहीं, प्लांट बेस्ड फूड का सेवन करने से इम्यूनिटी को बढ़ाने में भी मदद मिलती है. इसलिए जो लोग इनका सेवन नहीं करते हैं, वे ताजा फल और सब्जियों का सेवन जरूर करें.

नींद की कमी (Lack of Sleep)

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Barton (@be_barton4)

पर्याप्त नींद न लेने से आपके वायरस की चपेट में आने की संभावना अधिक हो जाती है और अगर आप एक बार वायरस की चपेट में आ गए तो रिकवर होने में भी काफी अधिक समय लग सकता है.

Webmd के मुताबिक, हमारा शरीर बीमारी से बचाव करने वाली और संक्रमण से लड़ने वाली कोशिकाओं और एंटीबॉडी नामक प्रोटीन का निर्माण नहीं कर सकता. इसलिए जिस समय आप सोते हैं, उस समय एक साइटोकिन्स (Cytokines) नाम का प्रोटीन रिलीज होता है जो कि इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करता है. वहीं, अगर आप पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं, तो यह प्रोटीन रिलीज नहीं होता और इम्यूनिटी कमजोर हो जाती है. इसलिए कम से कम 7-8 घंटे की गहरी नींद जरूर लें.

धूम्रपान करना (Smoking)

सिगरेट पीने (Cigarettes), तंबाकू चबाने (Chewing tobacco) या किसी अन्य सोर्स से निकोटीन लेने से शरीर की कीटाणुओं से लड़ने की क्षमता (Ability to fight germs) कमजोर हो सकती है. जब आप उनका सेवन करते हैं तो इनमें मौजूद कैमिकल इम्यूनिटी रिस्पांस (Immune response) को दबाने लगते हैं. जिससे इम्यूनिटी कमजोर होने लग जाती है. इसलिए जितना हो सकते इनसे दूर रहें.

हाई फैट डाइट (High-Fat Diet)

हाई फैट डाइट में मौजूद तेल, रोगाणु से लड़ने वाली सफेद रक्त कोशिकाओं को बनाने में बाधा उत्पन्न कर सकते हैं. वहीं समय के साथ हाई फैट डाइट आपकी आंत में बैक्टीरिया के संतुलन को बिगाड़ सकते हैं, जो इम्यूनिटी रिस्पांस में मदद कर सकते हैं. इसलिए हाई फैट वाले फूड की अपेक्षा कम फैट वाली डेयरी जिसमें कोई एक्स्ट्रा शुगर न हो उनके साथ लीन प्रोटीन जैसे समुद्री भोजन टर्की, चिकन या अंडे का सेवन कर सकते हैं. 

कम विटामिन डी (Low Vitamin D)

मजबूत हड्डियों (Strong bones) और हेल्दी कोशिकाओं (Healthy blood cells) के लिए विटामिन डी की आवश्यकता होती है और वो विटामिन डी आपके इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में भी मदद करता है. इसके लिए अंडे, फैट वाली मछली, दूध और अनाज जैसे खाद्य पदार्थों से भी विटामिन डी प्राप्त कर सकते हैं.

वहीं विटामिन डी के लिए धूप में बैठना भी सबसे अधिक फायदेमंद है. जो लोग कम धूप लेते हैं उनकी भी इम्यूनिटी कम होती है.

चिंता (Anxiety)

तनाव (Stress) और चिंता (Anxiety) से आपकी इम्यूनिटी कम से कम 30 मिनट में कमजोर हो सकती है. लगातार तनाव से फ्लू, दाद और अन्य वायरस से बचाव करना कठिन बना देता है. यदि आप अपनी चिंता को कम नहीं कर पा रहे हैं तो योग करें या फिर मेडिटेशन करें. नहीं तो इम्यूनिटी लगातार कम होती जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें