scorecardresearch
 

प्रियंका ने मोदी सरकार से किया सवाल- दुनिया में दूसरा बड़ा वैक्सीन उत्पादक देश होते हुए वैक्सीन कैसे कम पड़ गई?

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने तीस सेकंड का एक वीडियो ट्विटर पर शेयर करते हुए तीन सवाल पूछे हैं. उन्होंने मोदी सरकार से पूछा है कि दुनिया में दूसरा बड़ा वैक्सीन उत्पादक देश होते हुए भी देश में वैक्सीन कैसे कम पड़ गई?

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी (फाइल फोटो) कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना वैक्सीन की कमी के बीच विपक्ष का हमला
  • कल केजरीवाल ने केंद्र की नीति पर उठाया था सवाल
  • प्रियंका ने पूछा वैक्सीन ऑर्डर करने में देर क्यों की?

एक तरफ देश में अभी भी दुनिया में सबसे अधिक कोरोना मामले आ रहे हैं, दूसरी तरफ राज्यों में वैक्सीन की भारी किल्लत है. केंद्र की वैक्सीन रणनीति को लेकर कांग्रेस नेता और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने केंद्र को घेरा है. गुरूवार के दिन अपने एक वीडियो मैसेज में प्रियंका गांधी ने कहा है कि आज जो वैक्सीन की किल्लत आ रही है उसका कारण केंद्र द्वारा वैक्सीन का ऑर्डर देने में देरी करना है. प्रियंका गांधी का ये बयान केजरीवाल के बयान के एक दिन बाद आया है, दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने भी केंद्र की वैक्सीन पॉलिसी पर सवाल खड़े किए हैं.

प्रियंका गांधी ने नागरिकों को समय से वैक्सीन देने में असफल हुई मोदी सरकार से तीखे सवाल किए हैं. उन्होंने तीस सेकंड का एक वीडियो ट्विटर पर शेयर करते हुए तीन सवाल पूछे हैं. उन्होंने मोदी सरकार से सवाल करते हुए पूछा है कि दुनिया में दूसरा बड़ा वैक्सीन उत्पादक देश होते हुए भी देश में वैक्सीन कैसे कम पड़ गई?

उन्होंने आगे पूछा है कि भारत सरकार ने वैक्सीन के लिए अपना पहला ऑर्डर जनवरी, 2021 में आकर क्यों दिया? जबकि बाकी देशों ने पिछले साल की गर्मियों में ही ऑर्डर देना शुरू कर दिया था. प्रियंका ने मोदी सरकार की 'मैत्री' पहल की भी आलोचना की जिसके तहत भारत की वैक्सीन विदेश निर्यात कर दी गई. इस पर प्रियंका ने कहा है कि भारत सरकार को देश की जनता को जवाब देना चाहिए. प्रियंका ने एक ट्वीट लिखते हुए सरकार से कहा है कि देश की जनता के सवालों का जवाब देना सरकार की ड्यूटी है.

मेदांता के चेयरमैन डॉ. नरेश त्रेहन बोले, वैक्सीन के दो डोज के बीच 6-8 हफ्ते का गैप ही सही

आपको बता दें कि गुरुवार के दिन वैक्सीन की दिशा में देश 20 करोड़ डोज के आंकड़े को पार कर चुका है. केंद्र ने इस बात को भी स्वीकार किया है कि जनवरी और मार्च के बीच में केंद्र सरकार ने 6.45 वैक्सीन डोज विदेश भेज दी थीं. वैक्सीन संकट पर प्रियंका ने बीते दिन भी कई सवाल किए थे. उन्होंने ट्वीट करते कहा ''मोदीजी के बयान के अनुसार उनकी सरकार पिछले साल ही वैक्सिनेशन के पूरे प्लान के साथ तैयार थी, तब जनवरी 2021 में मात्र 1 करोड़ 60 लाख वैक्सीन का ऑर्डर क्यों दिया गया? मोदीजी की सरकार ने भारत के लोगों को कम वैक्सीन लगाकर, ज्यादा वैक्सीन विदेश क्यों भेज दी?

प्रियंका ने आगे कहा ''दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीन उत्पादक भारत, आज दूसरे देशों से वैक्सीन मांगने की स्थिति में क्यों आ गया और वहीं ये निर्लज्ज सरकार इसे भी उपलब्धि की तरह प्रस्तुत करने की कोशिश क्यों कर रही है?"

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें