scorecardresearch
 

CoWin Global Conclave को आज संबोधित करेंगे PM मोदी, ग्लोबल होगा CoWIN ऐप

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) आज यानी सोमवार को CoWIN ग्लोबल कॉन्क्लेव (CoWin Global Conclave) को संबोधित करेंगे. इस दौरान भारत CoWIN प्लेटफॉर्म को दुनिया के सामने बतौर डिजिटल पब्लिक गुड पेश करेगा.

पीएम नरेंद्र मोदी.(फाइल फोटो) पीएम नरेंद्र मोदी.(फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पीएम मोदी रखेंगे अपने विचार
  • दुनिया के सामने CoWIN के इस्तेमाल की होगी पेशकश
  • कई देशों ने CoWIN को लेकर दिखाई है दिलचस्पी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) आज यानी सोमवार को CoWIN ग्लोबल कॉन्क्लेव (CoWin Global Conclave) को संबोधित करेंगे. इस दौरान भारत CoWIN प्लेटफॉर्म को दुनिया के सामने बतौर डिजिटल पब्लिक गुड पेश करेगा जिससे कि अन्य देश अपने यहां कोरोना वैक्सीनेशन अभियान (Covid-19 Vaccination Drive) को और बेहतर ढंग से चला सकें.

नेशनल हेल्थ अथॉरिटी (NHA) के सीईओ डॉ. आरएस शर्मा ने हाल ही में बताया था कि कनाडा, मेक्सिको, नाइजीरिया, पनामास युगांडा समेत लगभग 50 देशों ने CoWIN प्लेटफॉर्म के इस्तेमाल को लागू करने की दिलचस्पी दिखाई है. उन्होंने बताया कि भारत इस ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर को मुफ्त में साझा करने के लिए तैयार है. एनएचए की तरफ से ट्वीट में कहा गया कि हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि CoWIN ग्लोबल कॉन्क्लेव में पीएम मोदी अपने विचार साझा करेंगे. भारत इस दौरान कोरोना से जंग के लिए दुनिया के सामने  CoWIN को डिजिट गुड के तौर पर पेश करेगा.

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन  इस वर्चुअल कॉन्क्लेव का उद्घाटन करेंगे. इस कार्यक्रम में विदेश सचिव एचवी श्रृंगला, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण के भी संबोधन की उम्मीद है. इस वर्चुअल मीटिंग में दुनिया के कई देशों के हेल्थ और तकनीक के जानकार शामिल होंगे.

इसपर भी क्लिक करें- टीका है जरूरी... अमेरिका में कोरोना से मरने वाले 99 फीसदी लोगों ने नहीं लगवाई थी वैक्सीन
 
एनएचए की तरफ से दिए गए बयान में बताया गया कि इस कॉन्क्लेव का मकसद CoWIN ऐप के जरिए भारत द्वारा किए जा रहे वैक्सीनेशन के अनुभव को साझा करना है. भारत ने CoWIN को बतौर सेंट्रल इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी सिस्टम विकसित किया है. इसके जरिए कोरोना वैक्सीनेशन के लिए रणनीति बनाना, उसे लागू करना, वैक्सीनेशन की निगरानी और मूल्यांकन करने का कार्य किया जाता है. हाल ही में कई देशों ने इस प्लेटफॉर्म के इस्तेमाल में दिलचस्पी दिखाई है. भारत CoWIN के साथ मिलकर COVID-19 पर जीत हासिल करने के लिए दुनिया के साथ हाथ मिलाने को लेकर उत्साहित है. यह वर्चुअल कॉन्क्लेव केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय, एनएचए और विदेश मंत्रालय की साझी पहल है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें