अभी ब्रिटेन की जेल में रहेगा नीरव मोदी, 19 सितंबर तक बढ़ी न्यायिक हिरासत

भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की न्यायिक हिरासत की अवधि बढ़ा दी गई है. नीरव मोदी को अभी 19 सितंबर तक और जेल में रहना पड़ेगा. बता दें कि नीरव मोदी ब्रिटेन की जेल में बंद है.

भगोड़ा कारोबारी नीरव मोदी (फाइल फोटो)
मुनीष पांडे
  • नई दिल्ली,
  • 22 अगस्त 2019,
  • अपडेटेड 7:05 PM IST

  • नीरव मोदी की न्यायिक हिरासत की अवधि बढ़ी
  • ब्रिटेन की जेल में बंद है फरार कारोबारी नीरव मोदी
  • 13,500 करोड़ की धोखाधड़ी का आरोपी है नीरव

भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की न्यायिक हिरासत की अवधि बढ़ा दी गई है. नीरव मोदी को अभी 19 सितंबर तक और जेल में रहना पड़ेगा. बता दें कि नीरव मोदी ब्रिटेन की जेल में बंद है. इससे पहले जुलाई में ब्रिटेन की एक अदालत ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी मामले में नीरव मोदी की न्यायिक हिरासत को 22 अगस्त तक बढ़ाते हुए उसे जमानत देने से इनकार कर दिया था.

जुलाई में नीरव मोदी के मामले की सुनवाई करते हुए वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट ने मेट्रोपॉलिटन पुलिस को आदेश दिया था कि 22 अगस्त को अगली सुनवाई तक वह नीरव मोदी को अपनी हिरासत में रखें. इस न्यायिक अवधि को 19 सितंबर तक बढ़ा दिया गया है.

बता दें कि भारत के भगोड़े हीरा व्यापारी को 19 मार्च को होलबोर्न से गिरफ्तार किया गया था. तब से उसके प्रत्यर्पण की कार्रवाई चल रही है. पीएनबी का आरोप है कि नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी ने कुछ बैंक कर्मचारियों की मदद से 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है. जिसके बाद से ही दोनों की जांच प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा की जा रही है.

ईडी ने चोकसी के खिलाफ मुंबई में धन शोधन निवारण अधिनियम के तहत अदालत में आरोप पत्र दायर कर रखा है. दोनों ने ही जनवरी 2018 में धोखाधड़ी की खबरें आने के बाद से ही भारत छोड़ दिया था.

Read more!

RECOMMENDED