जून में G20 शिखर सम्मेलन में मुलाकात करेंगे नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही एक दूसरे से मिलने वाले हैं. दोनों नेता जून महीने में जापान में जी-20 शिखर सम्मेलन में मिलने के लिए सहमत हुए हैं.

नरेंद्र मोदी-डोनाल्ड ट्रंप
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 25 मई 2019,
  • अपडेटेड 11:57 PM IST

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही एक दूसरे से मिलने वाले हैं. दोनों नेता जून महीने में जापान में जी-20 शिखर सम्मेलन में मिलने के लिए सहमत हुए हैं. दोनों नेताओं ने अमेरिका-भारत रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करने के साथ ही पिछले दो साल की उपलब्धियों पर ज्यादा काम करने का इरादा जाहिर किया है.

एक बयान में व्हाइट हाउस ने कहा, 'दोनों नेता ओसाका में जी-20 शिखर सम्मेलन में एक-दूसरे से मुलाकात की उम्मीद कर रहे हैं. वहां अमेरिका, भारत और जापान एक मुक्त और खुले भारत-प्रशांत क्षेत्र के लिए अपनी साझा दृष्टि पर काम के लिए एक त्रिपक्षीय बैठक करेंगे.' जी-20 शिखर सम्मेलन 28 और 29 जून को होना है. बता दें कि चीन दक्षिण चीन सागर पर अपना दबदबा दिखाने की कोशिश करता है. इस प्रमुख व्यापारिक मार्ग पर नियंत्रण को लेकर अमेरिका और चीन के बीच तकरार चल रही है.

साथ ही ट्रंप ने पीएम मोदी को लोकसभा चुनाव 2019 में जीत की बधाई भी दी. व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा कि ट्रंप ने लोकसभा चुनावों में ऐतिहासिक जीत हासिल करने के लिए मोदी को फोन कर बधाई दी. जापान की यात्रा पर जाने से पहले ट्रंप ने कहा, 'मैंने अभी-अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की और मैंने उन्हें ढेर सारी शुभकामनाएं दी.' ट्रंप ने कहा, 'मैंने अपने देश की ओर से, अपनी ओर से और हर व्यक्ति की ओर से बधाई दी. उन्होंने चुनावों में शानदार जीत दर्ज की. वह मेरे दोस्त हैं. भारत से हमारे बहुत अच्छे संबंध हैं.'

राष्ट्रपति ट्रंप ने बाद में एक ट्वीट भी किया और मोदी को महान व्यक्ति और भारत के लोगों का नेता कह कर उनकी तारीफ की. ट्रंप ने कहा, 'वह महान व्यक्ति और भारत के लोगों के नेता हैं- वे लोग सौभाग्यशाली हैं कि उनके पास वह (मोदी) हैं.' इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा था कि मोदी की दूसरी पारी के तहत भारत-अमेरिका रणनीतिक संबंधों के लिए काफी चीजें हैं. इसके जवाब में मोदी ने कहा, 'करीबी द्विपक्षीय संबंधों के लिए आपके साथ करीबी रूप से काम करने की मैं भी आशा करता हूं.'

Read more!

RECOMMENDED